Atal hind
चण्डीगढ़  हरियाणा

दौड़ेगी स्पेशल ट्रेेन,रेलवे की तैयारी पूरी,हरियाणा और पंजाब के चार-चार स्टेशन से

हरियाणा और पंजाब के चार-चार स्टेशन

से दौड़ेगी स्पेशल ट्रेेन,रेलवे की तैयारी पूरी

Special train will run, railway preparations complete, four stations each in Haryana and Punjab
CHANDIGARH(ATAL HIND)
हरियाणा में कोरोना संकट और लॉकडाउन के बीच हरियाणा,पंजाब,चंडीगढ़,हिमाचल प्रदेश और जम्मू-कश्मीर में फंसे प्रवासी कामगारों को उनके गृह राज्यों में पहुंचाने के लिए रेलवे ने कमर कस ली है। पंजाब और हरियाणा से चार-चार स्‍पेशल ट्रेनें चलाई जाएंगी। दोनों राज्य सरकारों ने रेलवे अधिकारियों से बातचीत कर उन स्‍टेशनों को चिन्हित कर लिया है जहां से पहले चरण में किन-किन स्टेशनों से स्पेशल ट्रेनें दौड़ाई जाएंगी।

अंबाला,रोहतक,रेवाड़ी,भिवानी,हिसार,
चंडीगढ़ से भी चलेगी एक विशेष ट्रेन
हरियाणा के अंबाला,रोहतक,रेवाड़ी,भिवानी,
हिसार से और पंजाब के लुधियाना,जालंधर,
बठिंडा अमृतसर से स्पेशल ट्रेन दौड़ेगी। इसके अलावा चंडीगढ़ और उत्तर प्रदेश के सहारनपुर से भी ट्रेन चलाने का प्रस्ताव है। सभी ट्रेनें उत्तर प्रदेश, बिहार,झारखंड आदि राज्यों के लिए रवाना होगी। पहली ट्रेन लुधियाना से रांची तक चलाने के लिए झारखंड सरकार से एनओसी मिल चुकी है। जिस-जिस राज्य से एनओसी मिलेगी उसी
राज्य के लिए रेलवे ट्रेन रवाना करेगा।
सूत्रों के अनुसार हरियाणा सरकार ने इन पांच स्टेशनों के अलावा रेवाड़ी, दादरी, नारनौल, महेंद्रगढ़ आदि जिलों से भी ट्रेन दौड़ाने का प्रस्ताव दिया है, लेकिन अभी इसे रेलवे ने मंजूर नहीं किया है।
स्पेशल ट्रेन में 18 कोच स्लीपर,4 सामान्य और एसएलआर के होंगे। शारीरिक दूरी का पालन के लिए एक डिब्बे में 50 से 54 तक यात्री ही सवार हो सकेंगे। स्टेशन पर सिर्फ उन्हीं लोगों को प्रवेश मिलेगा जो जांच प्रक्रिया से निकल चुके होंगे। स्टेशन पर सुरक्षा व्यवस्था बनाए रखने की जिम्मेदारी राज्यों की होगी। ट्रेनों में रेलवे सुरक्षा बल (आरपीएफ) और राजकीय रेलवे पुलिस (जीआरपी) की ड्यूटी लगाई जाएगी जो ट्रेन में रहेंगे। ये स्पेशल ट्रेनें नॉन-स्टॉप होंगी,जो सिर्फ एक ही गंतव्य तक पहुंचेगी। स्पीलर कोच में मिडिल बर्थ पर किसी को सवार नहीं होने दिया जाएगा। यात्रियों को ट्रेन में ही खाना परोसा जाएगा। एक ट्रेन में करीब 1200 यात्री ही सवार होंगे।

एनओसी मिलने के बाद चलेगी स्पेशल ट्रेन
अंबाला रेल मंडल के प्रबंधक (डीआरएम) जीएम सिंह ने कहा कि रेलवे ने पूरी तैयारी कर ली है। हरियाणा और पंजाब के लिए चार-चार स्टेशन तय हो चुके हैं। जिस राज्य में ट्रेन को चलाना है वहां की राज्य सरकार की एनओसी मिलने के बाद स्पेशन ट्रेन रवाना होगी।

इस तरह होगी स्टेशनों पर एंट्री
यात्रियों को स्टेशन तक राज्य सरकार सैनिटाइज गाड़ी में पहुंचाएगी। स्टेशनों से पहले और अंदर सभी की थर्मल जांच होगी। यात्रियों की मेडिकल जांच भी होगी। जांच के बाद प्रमाण पत्र दिया जाएगा। हाथ पर मुहर भी लगाई जा सकती है। सभी यात्रियों को मुंह ढकना या मास्क लगाना अनिवार्य होगा। राज्य सरकार रेलवे को लिस्ट देगी कि कौन-कौन यात्री इसमें सवार होगा।

Related posts

karnal-आठवीं कक्षा की छात्रा का अपहरण,

admin

भभकते केमिकल की गुड्स  ट्रेन (train)  बुझायी गई आग

Sarvekash Aggarwal

कहीं हरियाणा पुलिस न कर दे एनकाउंटर- लॉरेंस बिश्नोई

admin

Leave a Comment