AtalHind
जींद (Jind)टॉप न्यूज़हरियाणा

नीलम के कारण सुर्खियों में आया जींद का गांव घसो खुर्द,

नीलम के कारण सुर्खियों में आया जींद का गांव घसो खुर्द,
संसद भवन के बाहर कलर स्मॉग फैलाकर सुर्खियों में ला दिया गांव
संसद धुंआ काण्ड नीलम के घर आधी रात को पहुंची पुलिस ,किताबें उठा ले गई
Parliament Security Breach:
Advertisement
स्मोक अटैक की आरोपी नीलम के घर पर दिल्ली पुलिस की रेड,
किसान आंदोलन से जुड़ी किताबें ले गई
संसद धुंआ काण्ड नीलम के घर आधी रात को पहुंची पुलिस ,किताबें उठा ले गई
जींद.(अटल हिन्द ब्यूरो )संसद में स्मोक अटैक में आरोपी हरियाणा के जींद जिले की नीलम के घर पर दिल्ली पुलिस ने रेड डाली है. आधी रात को दिल्ली पुलिस की टीम नीमल के घर पर पहुंची थी और यहां पर घर की तलाशी ली. इस दौरान परिजनों ने पुलिस से जब नीलम के बारे में जानकारी मांगी तो दिल्ली पुलिस ने कोई जानकारी नहीं दी
Advertisement
parliament-security-breach-accused-neelam-mother-says-Daughter-fed-up-with-unemployment-1 jimd
जानकारी के अनुसार, रेड के दौरान दिल्ली पुलिस की टीम नीलम के घर से किताबें, अकाउंट डिटेल्स और डायरी ले गई. इस दौरान जींद की स्थानीय पुलिस भी साथ रही. नीलम के भाई रामनिवास ने बताया कि घर के किसी सदस्य से पूछताछ नहीं की गई. बस कमरा खंगाला गया है. किसान आंदोलन से संबंधित और कुछ किताबें पुलिस साथ ले गई. इस दौरान नीलम के बारे में पुलिस ने कुछ भी बताने से इनकार कर दिया है. उन्होंने बताया कि करीब 15 पुलिस कर्मचारियों ने घर पर देर रात दबिश दी थी.
नीलम के घर में कौन कौन
आरोपी नीलम के पिता हलवाई का काम करते हैं. भाई दूध बेचते हैं. नीलम संस्कृत में एमफिल है और मौजूद समय में वह हरियाणा सिविल सर्विस की तैयारी कर रही थी. नीलम हिसार में पीजी में रहती थी. वह किसान आंदोलन में बढ़चढ़ कर भाग लेती रही हैं. इसके अलावा, दिल्ली में पहलवानों के धरने में भी शामिल हुई थीं. पूरे मामले के बाद नीलम का गांव घसो खुर्द चर्चा में आ गया है. इस मामले में नीलम सहित कुल छह आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है.
Advertisement
नीलम के कारण सुर्खियों में आया जींद का गांव घसो खुर्द,
संसद भवन के बाहर कलर स्मॉग फैलाकर सुर्खियों में ला दिया गांव
हरियाणा के जींद जिले Jind Haryana के गांव घसो खुर्द का नाम 2005 में माओवादियों के संपर्क के साथ जोड़ा गया था। उस समय भी यह गांव पूरे देश में सुर्खियों में आ गया था। अब इस गांव की नीलम Neelam ने बुधवार को संसद भवन Parliament House के बाहर कलर स्मॉग फैलाकर गांव को सुर्खियों में ला दिया।
ऐसा पहली बार नहीं हैं जब नीलम को पुलिस ने पकड़ा हो। इससे पहले मई में दिल्ली में महिला पहलवानों के आंदोलन के दौरान हिरासत में लिया गया था। नीलम ने किसानों के आंदोलन Kisan Andolan में सक्रिय रूप से भाग लिया था और हरियाणा में कई विरोध प्रदर्शनों का हिस्सा रही थी। वह संसद भवन के बाहर धुएं की लपटें फेंकने के लिए जिम्मेदार दो व्यक्तियों में से एक थी।
मूलरूप से जींद के गांव घसो खुर्द की रहने वाली नीलम फिलहाल हिसार में एक पीजी में रह कर हरियाणा सिविल सर्विस Haryana Civil Services परीक्षा की तैयारी कर रही थी। आसपास के लोगों को ये तो पता था कि नीलम की राजनीति में गहरी रुचि है, लेकिन ये सुन कर वे स्तब्ध हैं कि उसने संसद के बाहर पहुंच कर प्रदर्शन किया है। हरियाणा की विभिन्न एजेंसियां भी नीलम से जुड़ी जानकारी जुटाने में लगी हैं।
Advertisement
नीलम को दिल्ली में पुलिस Delhi Police ने तब गिरफ्तार किया जब वह सुरक्षा व्यवस्था को चकमा देकर संसद Parliament House के बाहर पहुंच गईं और प्रदर्शन करने लगी। नीलम के प्रदर्शन की सूचना के बाद ग्रामीण हैरान हैं। नीलम के बारे में प्रारंभिक जानकारी यही है कि उसके पिता कोहर सिंह उचाना मंडी में हलवाई का काम करते हैं। नीलम पीजी से 25 नवंबर को घर जाने की बात कह कर गईं थी। ग्रामीण बताते हैं कि वह हाल फिलहाल गांव में नहीं आई। इसके बाद उन्हें संसद भवन Parliament House के बाहर प्रदर्शन करते हुए देखा गया।
जानकारी मिली है कि नीलम जींद जिले के उचाना खंड के अपने गांव घसो खुर्द में लाइब्रेरी चला रही थी और बच्चों को पढ़ाती थी, लेकिन गांव के कुछ लोगों ने इस पर ऐतराज जताया। इसके बाद नीलम ने बच्चों को पढ़ाना बंद कर दिया। नीलम किसान आंदोलन से लेकर दूसरे धरने और प्रदर्शन में भी काफी एक्टिव रहीं। वह पोस्ट ग्रैजुएट Post Graduate हैं। पिछले दिनों उसने HTET का एग्जाम भी दिया था। घसो गांव में नीलम का पूरा परिवार है। नीलम के परिवार में तीन बहनें, दो भाई, माता-पिता हैं।
Advertisement
Advertisement

Related posts

कैथल व मानस डे्रन पर 11 करोड़ 50 लाख रुपये से निर्मित हुए पंपिंग स्टेशन, ड्रेनों की सफाई का कार्य जल्द हो पूर्ण : उपायुक्त

admin

दो मौत के बाद कटघरे में आया पटौदी-हेलीमंडी के बीच वाला दीप होटल एवं स्विमिंग पूल

admin

NCERT BOOKS-आख़िर बीजेपी सरकार इतनी हड़बड़ी में क्यों है,एनसीईआरटी की इतिहास की पुस्तकों में बदलाव को लेकर

editor

Leave a Comment

URL