AtalHind
राष्ट्रीय हरियाणा

पत्रकार पर पुलिस हमले को लेकर प्रेस कौंसिल का हरियाणा सरकार को नोटिस

पत्रकार पर पुलिस हमले को लेकर प्रेस कौंसिल का हरियाणा सरकार को नोटिस

By adminSun, 27 Jun 2021
पत्रकार पर पुलिस हमले को लेकर प्रेस कौंसिल का हरियाणा सरकार को नोटिस पत्रकार पर पुलिस हमले को लेकर प्रेस कौंसिल का हरियाणा सरकार को नोटिस *चंडीगढ(अटल हिन्द/राजकुमार अग्रवाल ) NDTV कुरुक्षेत्र जिले के रिपोर्टर कमल सैनी की शिकायत प्रेस काउंसिल ऑफ इंडिया ने हरियाणा सरकार के मुख्य सचिव, ग्रह विभाग के सचिव, डीजीपी हरियाणा और कुरुक्षेत्र के पुलिस अधीक्षक को नोटिस जारी करते हुए दो हफ्ते के अंदर जवाब मांगा है। पत्रकार पर पुलिस हमले को लेकर प्रेस कौंसिल का हरियाणा सरकार को नोटिस दरअसल 16 अप्रैल को कुरूक्षेत्र में आयोजित बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष ओपी धनकड़ के कार्यक्रम का किसान विरोध कर रहे थे। उसी वक्त NDTV के पत्रकार कमल सैनी घटना को कैमरे में रिकॉर्ड कर रहे थे कि उसी वक्त पुलिस कर्मियों ने उस पर हमला कर दिया और उनको घसीट कर ले जाने लगे वह उनका कैमरा छीनने की भी कोशिश की। निष्पक्ष पत्रकारिता करना भी अब एक जुर्म हो गया है, क्योंकि आए दिन पत्रकारों की कलम को रोकने के लिए उन पर हमला होता रहता है और आला अधिकारी भी कोई कार्यवाही नहीं करते। इस मामले में भी जब पुलिस अधीक्षक कुरुक्षेत्र को शिकायत देने पर भी कोई कार्यवाही नहीं हुई तो पत्रकार कमल सैनी ने एडवोकेट प्रदीप रापड़िया के माध्यम से प्रेस काउंसिल ऑफ इंडिया के सामने याचिका दायर की। 21 जून को प्रेस कौंसिल ने हरियाणा सरकार के मुख्य सचिव, ग्रह विभाग के सचिव, डीजीपी हरियाणा और कुरुक्षेत्र के पुलिस अधीक्षक को नोटिस जारी करते हुए कहा है कि प्रथम दृष्टया मामला प्रेस की स्वतंत्रता का हनन लगता है तो ऐसे में पुलिस कारण बताए कि उनके ख़िलाफ़ सख़्त कार्यवाही क्यों न की जाए। पत्रकार के वकील प्रदीप रापड़िया ने बताया कि दरअसल किसी भी पत्रकार पर हमला लोगों के बोलने व अभिव्यक्ति के मौलिक आधिकार पर हमला है, क्योंकि पत्रकार नागरिकों की आवाज माने जाते हैं।Share this story

Advertisement
Advertisement

डिस्क्लेमर (अस्वीकरण) : इस आलेख में व्यक्त किए गए विचार लेखक के निजी विचार हैं. इस आलेख में दी गई किसी भी सूचना की सटीकता, संपूर्णता, व्यावहारिकता अथवा सच्चाई के प्रति ATAL HIND उत्तरदायी नहीं है. इस आलेख में सभी सूचनाएं ज्यों की त्यों प्रस्तुत की गई हैं. इस आलेख में दी गई कोई भी सूचना अथवा तथ्य अथवा व्यक्त किए गए विचार #ATALHIND के नहीं हैं, तथा atal hind उनके लिए किसी भी प्रकार से उत्तरदायी नहीं है.

अटल हिन्द से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।

Related posts

हिसार के बरवाला थाने की पुलिस की दादागिरी ,कार्यवाही की विडिओ बना रहे युवक सहित ग्रमीणों को  बुरी तरह मारा

atalhind

एचएसएससी की पुरुष कांस्टेबल की लिखित परीक्षा में 35 केंद्रों में 10 हजार 300 परीक्षार्थी देंगे परीक्षा- संजय कुमार

admin

आपातकाल के स्याह दिन बनाम अच्छे दिन

admin

Leave a Comment

%d bloggers like this:
URL