Atal hind
Uncategorized

पिता मजदूर  और बेटा बन गया एमएलए

पिता मजदूर  और बेटा बन गया एमएलए
मुंबई (अटल हिन्द ब्यूरो )महाराष्ट्र के विधानसभा चुनाव में ऐसे कई चेहरे जीतकर विधानसभा की दहलीज पर पहुंचे हैं जिनके बारे में जानकर हर कोई हैरान है। ऐसा ही एक चेहरा हैं भाजपा के विधायक राम सतपुते। मालशिरस के विधायक बने राम के पिता विट्ठल सतपुते चीनी मिल में मजदूरी करते थे। लंबे समय से अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) में सक्रिय रहे सतपुते को मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस का करीबी माना जाता है।एक सामान्य परिवार से ताल्लुक रखने वाले सतपुते ने अपनी जीत पर खुशी जाहिर करते हुए कहा कि ये मेरे लिए खुशी की बात है और यह वैसा ही है जैसे अभी एक फिल्म आई थी जिसमें कहा गया था कि राजा का बेटा राजा नहीं बनेगा, जो असली हकदार होगा वही राजा बनेगा। सतपुते ने कहा कि मैं दो-तीन साल से वहां काम कर रहा था। मेरे माता-पिता जी को कुछ पता नहीं था कि एमएलए क्या होता है, लेकिन उनको लगता था कि लोग आते हैं और मिलते हैं तो लड़का कुछ अच्छा ही कर रहा होगा।  राम के पास 16 हजार रुपए कैश और 68 हजार रुपए बैंक में जमा पूंजी है। 3 लाख 65 हजार रुपए के टू व्हीलर हैं। इनमें एक बुलट, तीन होंडा स्कूटर और एक स्कूटी है. 5 लाख रुपए के सोने चांदी के आभूष्ण हैं।

डिस्क्लेमर (अस्वीकरण) : इस आलेख में व्यक्त किए गए विचार लेखक के निजी विचार हैं. इस आलेख में दी गई किसी भी सूचना की सटीकता, संपूर्णता, व्यावहारिकता अथवा सच्चाई के प्रति ATAL HIND उत्तरदायी नहीं है. इस आलेख में सभी सूचनाएं ज्यों की त्यों प्रस्तुत की गई हैं. इस आलेख में दी गई कोई भी सूचना अथवा तथ्य अथवा व्यक्त किए गए विचार #ATALHIND के नहीं हैं, तथा atal hind उनके लिए किसी भी प्रकार से उत्तरदायी नहीं है.

अटल हिन्द से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।

Leave a Comment

URL