Atal hind
Uncategorized

पेटदर्द से तड़पती रही 15 वर्षीय बालिका, डॉक्टरों ने इलाज करने की बजाय छुट्टी कर दी

पेटदर्द से तड़पती रही 15 वर्षीय बालिका, डॉक्टरों ने इलाज करने की बजाय छुट्टी कर दी

शाजापुर।(Atal Hind) मरीजों को परेशानी परोसकर उनकी जान के साथ खिलवाड़ करने के मामले में हमेशा चर्चित रहने वाले जिला अस्पताल में चिकित्सकों का शर्मनाक चेहरा सामने आया है। यहां भर्ती एक 15 वर्षीय बालिका पेट दर्द की तकलीफ से तड़पती रही और चिकित्सकों ने उसका इलाज करने की बजाय घर जाने के लिए छुट्टी कर दी। इसके बाद मामले की शिकायत फोन पर कुछ लोगों ने अपर कलेक्टर से की, जिसके बाद बालिका का इलाज शुरू किया गया।

उल्लेखनीय है कि कोरोना वायरस जैसी गंभीर बीमारी के लिए स्वयं को मुस्तैद बताने वाले स्वास्थ्य विभाग के जिम्मेदार अधिकारी अस्पताल में भर्ती मरीजों का ही सही ढंग से इलाज नही करना चाहते हैं। यही कारण है कि अस्पताल चिकित्सक ने पेट दर्द से तड़प रही बालिका को घर जाने के लिए गुरुवार को डिस्चार्ज कर दिया।

प्राप्त जानकारी के अनुसार स्थानीय वार्ड क्रमांक 3 की निवासी 15 वर्षीय बालिका जया के पेट में तेज दर्द होने पर परिजनों ने उसे दो दिन पहले जिला अस्पताल में भर्ती कराया था जहां चिकित्सकों ने उसका प्राथमिक उपचार कर दिया, इसके बाद गुरुवार सुबह बालिका के पेट में अचानक से तेज दर्द होने लगा, लेकिन जिम्मेदारों ने इलाज करने की बजाय बालिका को घर ले जाने की सलाह परिजनों को दे दी। इस घटना के बाद समाजसेवी मौके पर पहुंचे और पूरे मामले की फोन पर अपर कलेक्टर से शिकायत की, जिसके बाद हरकत में आए जिम्मेदारों ने बालिका का इलाज किया।

Leave a Comment