Atal hind
Uncategorized

पोलिस नहीं मानती कोर्ट के आदेश ,सहमति से संबंध बनाना गलत नहीं फिर पोलिस क्यों डालती है रेड

पोलिस नहीं मानती कोर्ट के आदेश ,सहमति से संबंध बनाना गलत नहीं फिर पोलिस क्यों डालती है रेड
कानपुर,(अटल हिन्द ब्यूरो )भारत की सर्वोच्च अदालत कहती है की सहमति से शारारिक संबंध बनाना गुनहा नहीं है लेकिन भारतीय पोलिस माननीय कोर्ट के इस आदेश को नहीं मानती और गाहे -बगाहे पोलिस होटलों ,बारों आदि में छापा मार कर आम जन की व्यक्तिगत जीवन में खलल डालती रहती है। या तो इस कानून पर हमारे देश की अदालत गलत है या भारत के सभी राज्यों की पोलिस जो आम आदमी के व्यक्तिगत जीवन में दखल देती रहती है कोई भी आम जन पोलिसिया कार्यवाही पर इसलिए आवाज नहीं उठाता शायद उसे समाज का डर होगा लेकिन भारत के राज्यों की पोलिस को क्या हो गया क्या वो देश की अदालत से खुद को बहुत बड़ा मानती है शायद हां इसलिए तो कानपूर  शहर में सीओ की टीम ने सुतरखाना स्थित आशा पैलेस होटल में छापा मारकर कमरों में रंगरेलियां मना रहे चार प्रेमी युगलों को पकड़ लिया। परिवार वालों को बुलाकर युवतियों को सुपुर्द कर दिया और युवकों का चालान किया गया। पुलिस ने होटल मालिक व मैनेजर के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है।
घंटाघर स्थित होटलों में आकस्मिक निरीक्षण के दौरान कई बार कमरों में प्रेमी युगल पकड़े जा चुके हैं, जबकि होटल के रजिस्टर में उनकी इंट्री तक नहीं होती। शहर में कई होटल प्रेमी जोड़ों के लिए रंगरेलियां मनाने की मुफीद जगह बन गए हैं। कुछ होटल ऐसे भी हैं जहां घंटे के अनुसार किराया लिया जाता है, वहीं कुछ छोटे होटलों में भी कम कीमत में कमरे दिये जाते हैं। ऐसी ही शिकायत मिलने पर एसपी पूर्वी के निर्देश पर सीओ श्वेता यादव ने हरबंशमोहाल इंस्पेक्टर संतोष अवस्थी की टीम के साथ सुतरखाना स्थित आशा पैलेस में छापा मारा तो खलबली मच गई। पुलिस ने हर कमरे की तलाशी ली तो चार कमरों में प्रेमी जोड़े रंगरेलियां मनाते पकड़े गए। ये सभी कॉलेजों में पढऩे वाले छात्र-छात्राएं थे।

पुलिस के पकड़े जाने पर वह छोडऩे की फरियाद करते रहे लेकिन उन्हें थाने लाया गया। छापे के दौरान होटल मैनेजर व बाकी स्टाफ फरार हो गया। सीओ ने बताया कि होटल में बिना आइडी लिए या रजिस्टर में नाम, पता नोट किए बगैर ही कमरे किराये पर दिए गए थे। होटल के बोर्ड पर एक युवक के नाम के आगे पत्रकार लिखा था। हूलागंज चौकी प्रभारी आकांक्षा गुप्ता की तहरीर पर होटल के मालिक, मैनेजर के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। वहीं परिवार वालों को बुलाकर हिदायत देने के बाद युवतियों को उनके सुपुर्द कर दिया गया है। पकड़े गए लड़कों का चालान किया गया है।

डिस्क्लेमर (अस्वीकरण) : इस आलेख में व्यक्त किए गए विचार लेखक के निजी विचार हैं. इस आलेख में दी गई किसी भी सूचना की सटीकता, संपूर्णता, व्यावहारिकता अथवा सच्चाई के प्रति ATAL HIND उत्तरदायी नहीं है. इस आलेख में सभी सूचनाएं ज्यों की त्यों प्रस्तुत की गई हैं. इस आलेख में दी गई कोई भी सूचना अथवा तथ्य अथवा व्यक्त किए गए विचार #ATALHIND के नहीं हैं, तथा atal hind उनके लिए किसी भी प्रकार से उत्तरदायी नहीं है.

अटल हिन्द से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।

Leave a Comment

URL