Atal hind
टॉप न्यूज़ हरियाणा हिसार

प्रशासन ने इस बार भी कोई धोखा दिया तो प्रशासन व सरकार फिर एक बड़े आंदोलन के लिए तैयार रहें-  राकेश टिकैत

प्रशासन ने इस बार भी कोई धोखा दिया तो प्रशासन व सरकार फिर एक बड़े आंदोलन के लिए तैयार रहें-  राकेश टिकैत
हिसार (ATAL HIND)हिसार के क्रांतिमान पार्क में एक आंदोलनकारी की हार्ट अटैक से मौत हो गई। मृतक रामचंद्र खरब हिसार जिले के उगालन गांव के रहने वाले थे वे प्रदर्शन में भाग लेने के लिए आए थे।वहीं दूसरी तरफ तनावपूर्ण स्थिति के बीच दो घंटे से ज्यादा चली मैराथन बैठक में किसानों और हिसार प्रशासन में सुलह हो गई है। पुलिस ने किसानों पर दर्ज सभी मुकदमे वापस लेने के लिए हामी भरी है। साथ ही  जिस किसान की हार्ट अटैक से मौत हुई है उसके परिवार के सदस्य को सरकारी नौकरी मिलेगी।समझौता सिरे चढ़ने पर किसानों ने नारेबाजी की। इससे पहले किसान नेता राकेश टिकैत(RAkesh tikait), गुरनाम सिंह चढूनी,(gurnam chaduni) बलबीर राजेवाला की अगुवाई वाली 26 सदस्यीय कमेटी की जिला प्रशासनिक अधिकारियों के साथ मीटिंग हुई। वहीं वार्ता के बात किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा कि किसानों और प्रशासन के बीच हुई बातचीत सिरे चढ़ी है। प्रशासन ने 16 मई को दर्ज मुकदमे वापस लेने का भरोसा दिया है। मुकदमे वापस लेने की कानूनी प्रक्रिया 1 महीने तक चलेगी, इसलिए हम प्रशासन को 1 माह का समय दे रहे हैं अगर प्रशासन ने इस बार भी कोई धोखा दिया तो प्रशासन व सरकार फिर एक बड़े आंदोलन के लिए तैयार रहें।बता दें कि आंदोलनकारी सीएम आगमन के दिन गत 16 मई को पुलिस तथा आंदोलनकारियों के बीच हुई हिंसक झड़प के बाद करीब 350 आंदोलनकारियों पर मुकदमा दर्ज किए जाने का विरोध कर रहे थे। आंदोलनकारियों ने सोमवार को हिसार में आयुक्त कार्यालय पर प्रदर्शन करने का ऐलान किया हुआ था।

  सरकार विश्वास करने लायक नहीं है-अभय  चौटाला
सोमवार को प्रशासन द्वारा किसानों पर 16 मई को हिसार में दर्ज मुकदमे वापस लेने का आश्वासन दिए जाने पर पूर्व नेता प्रतिपक्ष और इनेलो प्रधान महासचिव अभय चौटाला ने कहा सरकार पहले भी किसानों पर दर्ज मुकदमे वापस लेने की बात कहकर मुकर चुकी है, यह सरकार विश्वास करने लायक नहीं है, किसान आंदोलन के दौरान जितने भी किसानों पर मुकदमे दर्ज हुए हैं उनकी कड़े शब्दों में निंदा करते हैं और मांग करते हैं की कि सरकार किसानों पर दर्ज सभी मुकद्दमे तुरंत प्रभाव से वापस ले।

डिस्क्लेमर (अस्वीकरण) : इस आलेख में व्यक्त किए गए विचार लेखक के निजी विचार हैं. इस आलेख में दी गई किसी भी सूचना की सटीकता, संपूर्णता, व्यावहारिकता अथवा सच्चाई के प्रति ATAL HIND उत्तरदायी नहीं है. इस आलेख में सभी सूचनाएं ज्यों की त्यों प्रस्तुत की गई हैं. इस आलेख में दी गई कोई भी सूचना अथवा तथ्य अथवा व्यक्त किए गए विचार #ATALHIND के नहीं हैं, तथा atal hind उनके लिए किसी भी प्रकार से उत्तरदायी नहीं है.

अटल हिन्द से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।

Related posts

डॉ हर्षवर्धन व  बाबा रामदेव की मिलीभगत ? ,   IMA क्या देगा इन सवालों का जवाब?

admin

गुहला-चीका(कैथल) में 9.80 लाख रुपये से भरा बैग छीन ले गए बाइक सवार बदमाश

admin

कोरोना बीमारी संबंधी स्वास्थ्य सूचना वेबसाइट पर उपलोड करे स्वास्थ्य विभाग -सूचना आयोग

admin

Leave a Comment

URL