बगावत करने वालों को पार्टी दिखाएगी बाहर का रास्ता,जननायक जनता पार्टी का एक साल का सफर

जननायक जनता पार्टी का एक साल का सफर

भविष्य के लिए किया गया चिंतन, मनन और मंथन

कमेटी करेगी दिल्ली चुनाव को लेकर अंतिम फैसला-दुष्यंत चौटाला

20 दिसंबर से जेजेपी शुरू करेगी सदस्यता अभियान

बगावत करने वालों को पार्टी दिखाएगी बाहर का रास्ता

जेजेपी कार्यकारिणी की बैठक में बोले दुष्यंत चौटाला, पांच साल मजबूती से चलाएंगे गठबंधन सरकार

सिरसा, 9 दिसंबर(ATAL HIND) जननायक जनता पार्टी के प्रथम स्थापना दिवस पर आयोजित प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक में पार्टी को भविष्य में और मजबूत करने पर मंथन किया गया। आज चौ. देवीलाल विश्वविद्यालय के सभागार में आयोजित कार्यकारिणी की बैठक में दिल्ली विधानसभा चुनाव का मुद्दा भी उठा। कार्यकारिणी में फैसला लिया गया कि दिल्ली विधानसभा चुनावों को लेकर डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला की अध्यक्षता में दस सदस्यीय कमेटी गठित की गई जो कि चुनाव को लेकर अंतिम निर्णय लेगी। इस कमेटी में डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला के अलावा, पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अनंतराम तंवर, दिल्ली प्रदेश के अध्यक्ष ओमप्रकाश सहरावत, डा. श्यामलाल, डा. केसी बांगड़, शीला भ्याण तथा गुडग़ांव, सोनीपत, झज्जर व फरीदाबाद जिले के जिला अध्यक्ष शामिल हैं। इसके अलावा पार्टी संगठन को मजबूत करने के लिए 20 दिसंबर से एक माह तक सदस्यता अभियान चलाने का निर्णय लिया गया। संगठन की सर्वाेच्च बैठक में दुष्यंत चौटाला ने पांच साल तक भाजपा के साथ मजबूती से सरकार चलाने का इरादा जाहिर किया। साथ ही उन्होंने कहा कि भाजपा गठबंधन सहयोगी है और गठबंधन का धर्म निभाते हुए किसी भी भाजपा के नेता को जेजेपी में शामिल न करने का निर्णय लिया गया है।
चुनावों में पार्टी से बगावत करने वालों को लेकर भी कार्यकारिणी ने कड़ा रूख अपनाया और इसकी एक रिपोर्ट तैयार करने के लिए जिला अध्यक्षों को अधिकृत किया गया। पार्टी विरोधी गतिविधियों में संलिप्त पाए जाने वालों को बाहर का रास्ता दिखाया जाएगा।

बैठक की शुरूआत में देश-प्रदेश की बड़े नेताओं तथा पार्टी कार्यकर्ताओं के परिजनों के निधन पर शोक व्यक्त किया गया एवं दो मिनट का मौन रख कर उनकी आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना की गई।
पार्टी के प्रधान महासचिव डा. केसी बांगड़ ने बैठक में सर्वप्रथम जननायक जनता पार्टी के एक वर्ष पूरा होने पर बधाई दी गई और इस दौरान किए पार्टी कार्यकर्ताओं व पदाधिकारियों द्वारा किए गए संघर्ष को याद किया गया।
पार्टी के एससी सेल के प्रदेशाध्यक्ष अशोक शेरवाल ने दिवंगत नेता अरूण जेटली, रामजेठमलानी, टीएन शेषन के निधन पर कार्यकारिणी की बैठक में शोक प्रस्ताव रखा। इसके बाद इनसो के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिग्विजय सिंह चौटाला ने पार्टी के गठन के एक वर्ष पूरा होने पर धन्यवाद प्रस्ताव रखा। दिग्विजय ने जेजेपी के स्थापना के लिए लिए गए साहसिक निर्णय लेने के लिए पार्टी संस्थापक डा. अजय सिंह चौटाला का आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि जींद उपचुनाव, लोकसभा चुनाव और आम चुनावों में पार्टी द्वारा पूरी सक्रियता से भाग लेने के लिए डा. अजय सिंह चौटाला की प्ररेणा हमेशा कार्यकर्ताओं, पदाधिकारियों और संगठन के लिए अहम रही।
दिग्विजय चौटाला ने बैठक में पार्टी की एक वर्ष की उपलब्धियों और गतिविधियों के बारे में चर्चा की । उन्होंने कहा कि जेजेपी का एक साल का सफर स्वर्णिम रहा और इसके पीछे पार्टी के पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं की अनथक मेहनत और उनकी निष्ठा है। छोटे से कार्यकाल में हर कार्यकर्ता ने नई पार्टी की विचारधारा और नीतियों को हर व्यक्ति तक पहुंचाने में सफलता हासिल की। पार्टी संगठन का ही परिणाम है कि पार्टी गठन के एक माह बाद हुए जींद उपचुनाव व लोकसभा चुनावों में उल्लेखनीय प्रदर्शन किया। इन चुनाव परिणामों के उत्साहित होकर कार्यकर्ताओं दोहरे जोश से काम किया और विधानसभा चुनावों में पार्टी ने 10 सीटों पर न केवल विजय हासिल की बल्कि भारतीय चुनाव आयोग द्वारा जेजेपी को 15 प्रतिशत से अधिक वोट प्राप्त करने पर स्थायी मान्यता दी और चुनाव निशान आवंटित किया। उन्होंने कहा कि जेजेपी के लिए मात्र 11 माह में यह कम बड़ी उपलब्धि नहीं है।
पार्टी प्रदेशाध्यक्ष सरदार निशान सिंह ने कहा कि पार्टी संगठन की मजबूती के कारण ही जेजेपी ने विधानसभा चुनाव में बेहतरीन प्रदर्शन किया है। इसके लिए उन्होंने प्रदेश के कार्यकर्ताओं, मतदाताओं का आभार जताया।
बैठक को संबोधित करते हुए डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने कहा कि पार्टी संरक्षक डा. अजय सिंह चौटाला ने पार्टी गठन के एक साल पूरा होने पर सभी को बधाई संदेश भेजा है। उन्होंने कहा कि सरदार निशान सिंह के नेतृत्व में पार्टी के कार्यकर्ताओं ने दिन-रात मेहनत करके पार्टी को सत्ता में लाने का काम किया है। उन्होंने कहा कि संघर्ष के शुरूआती दौर में तात्कालिक विधायक राजदीप फोगाट, अनूप धानक, पिरथी नंबरदार एवं नैना चौटाला के उस त्याग ने हमें आगे बढऩे का हौसला दिया। डिप्टी सीएम ने कहा कि कुछ हमारे ही कार्यकर्ताओं द्वारा चुनाव में पार्टी प्रत्याशी के विरूद्ध काम करने की सूचना मिली थी। इसके लिए प्रत्येक जिला प्रधान को अधिकृत किया गया है कि वह अपने जिले से ऐसे लोगों की सूची 15 दिसंबर तक भेजें जिन्होंने पार्टी के विरूद्ध काम किया है।
डिप्टी सीएम ने कहा कि 20 दिसंबर से 20 जनवरी तक चलने वाले सदस्यता अभियान में हर साथी का खुले दिल से स्वागत करें जो हमसे जुडऩा चाहता है। इसके लिए राजेंद्र लितानी के नेतृत्व में एक मानिटरिंग कमेटी बनाई गई है जिसमें विधायक देवेंद्र बबली, पूर्व विधायक रमेश खटक, उमेद कश्यप व रणधीर सिंह शामिल है। अभियान के साथ साथ हर घर झंडा लगाने का अभियान चलाने पर बैठक में जोर दिया।
इनसो पर चर्चा करते हुए दुष्यंत चौटाला ने कहा कि 30 दिन के अंदर-अंदर दिग्विजय सिंह चौटाला के नेतृत्व में एक रिपोर्ट तैयार करें कि आने वाले समय में दिल्ली विश्वविद्यालय सहित अन्य राज्यों में भी इनसो संगठन को मजबूती से खड़ा किया जा सके। इस टीम में प्रदीप देसवाल, प्रो रणधीर चीका, संजीव मंदौला, अरविंद्र भारद्वाज, डा. जेसी कादियान, पूर्व कुलपति अभय सिंह मौर्य शामिल हैं।
कार्यकर्ताओं के सुझाव पर दुष्यंत चौटाला ने जिलेवार प्रशिक्षण शिविर लगाने का निर्णय भी लिया। इसके अतिरिक्त एससी सेल की विशेष टीम बना कर गांव-गांव जाने के निर्देश दिए ताकि एससी समाज की समस्याओं को प्रमुखता से सुलझाया जा सके।
कार्यकारिणी की बैठक में राष्ट्रीय कार्यकारिणी व प्रदेश कार्यकारिणी के सदस्य उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *