Atal hind
राष्ट्रीय

बरवाला के पूर्व विधायक रामनिवास घोड़ेला ने एसडीएम के माध्यम से राष्ट्रपति व राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौंपा ।

बरवाला के पूर्व विधायक रामनिवास घोड़ेला ने एसडीएम के माध्यम से राष्ट्रपति व राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौंपा ।

अटल हिन्द /राजेश सलूजा
बरवाला:  बरवाला से पूर्व विधायक रामनिवास घोड़ेला ने आज बरवाला के अग्रसेन चौक पर किसानों को साथ लेकर सरकार के खिलाफ नारेबाजी की व बरवाला के एसडीएम कार्यालय में धरना प्रदर्शन किया। बरवाला से पूर्व विधायक रामनिवास घोड़ेला ने कहा कि सरकार ने जो यह तीन अध्यादेश का कानून किसानों व आढतियो के उपर थोपकर किसानों व आढतियो की कमर तोड़ने का काम किया हैं। उसे लेकर हम आज बरवाला शहर के अग्रसेन चौक से लेकर बरवाला के एसडीएम कार्यालय तक हमारे किसान भाईयों के हको की मांग को लेकर हमने प्रदर्शन किया हैं ।

 

बरवाला के एसडीएम के माध्यम से राष्ट्रपति व राज्यपाल के नाम से हमने आज जो ज्ञापन हमने सौंपा हैं। उसमें हमारी सरकार से प्रमुख मांगे यह है कि सरकार ने जो यह तीन अध्यादेश का कानून बनाया हैं। वह सरासर गलत हैं सरकार इस अध्यादेश कानून को वापिस लेकर एक नये कानून को लागू करे। किसान की फसल को एमएसपी रेट पर सरकार चौबीस घंटे कभी भी किसी समय पर मंडियों में खरीदा जाए। ऐसा नहीं की उनकी फसल को बीच बिचाले में अधूरा छोड़ कर किसानों को धक्के खाने के लिए छोड़ दिया जाए। आज किसानों को अपनी फसल का जो समर्थन मूल्य एमएसपी रेट पर नहीं मिल रहा है। किसान अपनी फसल को लेकर जब मंडी में जाता हैं। तो सरकार उसकी फसल को समय पर नहीं खरीदती। सरकार द्वारा जो एमएसपी के तय की हुए रेट हैं ।उस रेट पर किसानों की जो फसले हैं। वह उस रेट पर नहीं बिक रही।उन्होंने डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला को नसीहत देते हुए कहा कि दुष्यंत चौटाला अगर किसानों और अपने आपको दादा देवीलाल का पोता बता कर अपने आपको किसानों का हितैषी बताकर जो यह कह रहे हैं। की हमारी सरकार ने किसानों की फसल को दौ सौ प्रतिशत तक बढाकर उनकी आय दोगुनी करने का काम किया हैं। उन्हे शायद अभी यह पता नहीं हैं की दौ सौ प्रतिशत कितने होते हैं । सिर्फ इस भाजपा और जजपा की गठबंधन सरकार ने 2.6 प्रतिशत से 10 प्रतिशत तक की बढ़ोतरी की हैं । पिछली कांग्रेस की मनमोहन सरकार में हर फसल का भाव 140 प्रतिशत से उपर हर साल बढाया जाता रहा था। और इस सरकार के अन्दर सिर्फ 2.6 प्रतिशत से लेकर सिर्फ 10 प्रतिशत बढाकर किसानों को बरगला रही हैं ।

डिस्क्लेमर (अस्वीकरण) : इस आलेख में व्यक्त किए गए विचार लेखक के निजी विचार हैं. इस आलेख में दी गई किसी भी सूचना की सटीकता, संपूर्णता, व्यावहारिकता अथवा सच्चाई के प्रति ATAL HIND उत्तरदायी नहीं है. इस आलेख में सभी सूचनाएं ज्यों की त्यों प्रस्तुत की गई हैं. इस आलेख में दी गई कोई भी सूचना अथवा तथ्य अथवा व्यक्त किए गए विचार #ATALHIND के नहीं हैं, तथा atal hind उनके लिए किसी भी प्रकार से उत्तरदायी नहीं है.

अटल हिन्द से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।

Related posts

ईएलसी 20 के पहले चरण को सफलतापूर्वक आयोजित किया

admin

faridabad-मंत्री को अनंगपुर में कंधे पर बिठाने वाले सुधीर भड़ाना, UP में की गई हत्या

दुर्घटना कहीं भी हो ,पीड़ित जहाँ का निवासी वहीँ कोर्ट में कर सकता है केस 

Sarvekash Aggarwal

Leave a Comment

URL