बिना किसी भेदभाव से करवाऐंगे बाबैन का चहुंमुखी विकास : मोती लाल सैनी

बाबैन, 14 फरवरी (सुरेश अरोड़ा) : हाईकोर्ट के फैसले के बाद बाबैन सरपंच पद के रिजल्ट पर लगी रोक के हटने के बाद मोती लाल सैनी को सरपंच पद का निर्वाचन प्रमाण पत्र जारी किया गया। चुनाव रिटेनिंग ऑफिसर सतबीर सिंह ने बताया है कि हाईकोर्ट ने जो रिजल्ट घोषित करने पर स्टे लगाया हुआ था, हाईकोर्ट ने स्टे को हटाते हुए मोती लाल सैनी को बाबैन के सरपंच पद का निर्वाचन प्रमाण पत्र जारी करने के निर्देश दिए थे और आज मोतीलाल सैनी को सरपंच पद का प्रमाण पत्र दे दिया है। मोती लाल सैनी ने कहा है कि गांव की जनता के सहयोग व समर्थन से जो जिम्मेवारी उन्हें मिली है उसे पूरी निष्ठा व ईमानदारी से निभाऐंगे और सरपंच पद पर रहते हुए बिना किसी भेदभाव से बाबैन का चहुंमुखी विकास करवाने के साथ-साथ लोगों में आपसी भाईचारा बनाए रखना उनकी पहली प्रथामिकता रहेगी। इस मौके पर रामपाल सैनी, माम चंद प्रजापत, अमित बिंदल, विश्वजीत बिंदल, महेंद्र सैनी, ओम प्रकाश शर्मा, पंच अग्रेज ङ्क्षसह, दीपक,जितेंद्र शर्मा, सुदन लाल, भजन ङ्क्षसह, जगतार गुहण, मनिष जुनेजा, सुमित बिंदल व अन्य ग्रामीण मौजूद रहे। जिससे उनके समर्थकों में भारी उत्साह दिखा और मौती लाल सैनी के समर्थकों उनका फुलमालाओं व ढोल नगाडों से जोरदार अभिन्नदन किया गया। बता दें कि 9 फरवरी को बाबैन में सरपंच पद का चुनाव हुआ था पर चुनाव आयोग हरियाणा ने वोटों की गिनती व रिजल्ट पर रोक लगा दी थी। हाईकोर्ट ने 10 फरवरी को संजीव कुमार बाबैन की याचिका की सुनवाई करते हुए वोटों की गिनती पर लगी रोक को हटाकर 12 फरवरी को वोटो की गिनती के आदेश देकर कर रिजल्ट को सील कर 13 फरवरी को होईकोर्ट में पेश करने को कह दिया। 12 फरवरी को पुलिस प्रशासन की कड़ी गिनरानी में बाबैन के बीडीपीओ कार्यालय में वोटो की गिनती हुई, जिसमें मोती लाल सैनी को 2002 मत व संजीव कुमार को 1734 मत मिले थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *