AtalHind
गुजरातटॉप न्यूज़राजनीति

बीजेपी सरकार जन संसद में किस-किसको करेगी निलंबित !-पर्ल चौधरी

बीजेपी सरकार जन संसद में किस-किसको करेगी निलंबित !-पर्ल चौधरी

कांग्रेस नेत्री पर्ल चौधरी पटौदी क्षेत्र में कांग्रेस की मजबूती को हुई सक्रिय

सांसद हो या फिर राज्य विधानसभा भाजपा विपक्ष के सवालों से बैक फुट पर

Advertisement

संसद के दोनों सदन में बिना विपक्ष के सत्ता पक्ष हो रहा है निरंकुश

बाबा साहेब के संविधान का यह कैसा भाजपा सरकार द्वारा सम्मान

कांग्रेस कार्यकर्ता एकजुट हो कांग्रेस की नीतियों को घर-घर तक पहुंचाएं

Advertisement
बीजेपी सरकार जन संसद में किस-किसको करेगी निलंबित !-पर्ल चौधरी

अटल हिन्द ब्यूरो /फतह सिंह उजाला
पटौदी 19 दिसंबर । लोकसभा और विधानसभा चुनाव का जैसे-जैसे समय नजदीक आ रहा है, सभी राजनीतिक दल और उनके नेता सक्रिय दिखाई देने लगे हैं । इसी कड़ी में पटौदी के पूर्व एमएलए स्वर्गीय भूपेंद्र सिंह चौधरी की पुत्री कांग्रेस नेत्री पर्ल चौधरी ने भी अपने पिता की राजनीतिक विरासत को संभालते हुए समर्थकों सहित कांग्रेस कार्यकर्ताओं को एकजुट होने का आह्वान किया है ।

पटौदी विधानसभा क्षेत्र के खंड फरुखनगर में लगभग दो दर्जन गांवों के प्रबुद्ध ग्रामीण और चुने हुए जनप्रतिनिधियों की सभा को संबोधित करते हुए कांग्रेस नेत्री पर्ल चौधरी ने भारतीय जनता पार्टी को निरंकुश और संविधान विरोधी बताते हुए सवाल किया, तो फिर भाजपा यह बताएं वह किस-किस को देश के सर्वोच्च सदन से निलंबित करेगी ? उन्होंने कहा बिना विपक्ष के सत्ता पक्ष और उसके नेता मनमानी करते हुए निरंकुश भी हो जाते हैं । जिसका भारतीय राजनीति के इतिहास में सबसे बड़ा उदाहरण सहित ब्लैक डे देखने के लिए भी मिल रहा है । उन्होंने कहा इस बात से इनकार नहीं की हाल ही में संसद में हुए हमले का जवाब देने से भाजपा सरकार बचते हुए बैक फुट पर दिखाई दे रही है। यही कारण है कि एक के बाद एक कांग्रेस और अन्य पार्टियों के सांसदों का निलंबन का सिलसिला बना हुआ है ।

कांग्रेस नेत्री पर्ल चौधरी ने कहा लोकसभा चुनाव का बिगुल बजेगा, उस समय दुनिया की सबसे बड़ी राजनीतिक पार्टी भारतीय जनता पार्टी जन संसद में किस-किस को निलंबित करेगी ? इसी प्रकार से राज्य विधानसभा के शीतकालीन सत्र में भी देखने के लिए मिल रहा है । कांग्रेस सहित विपक्ष के सवालों का जवाब, सरकार और सरकार के प्रतिनिधियों के पास नहीं है । उन्होंने सवाल किया आखिर ऐसा क्या कारण और मजबूरी है कि तीसरी बार सरकार बनाने के दावेदार सबसे बड़ी पार्टी की सरकार के मुखिया को विधानसभा में धार्मिक ग्रंथो की भी शपथ लेनी पड़ रही है। विधानसभा में भी सरकार की तरफ से तथ्यहीन जवाब और बयान सवालों के जवाब में दिए जा रहे हैं। दावे किए जा रहे हैं भ्रष्टाचार पर अंकुश लगा, लेकिन प्रतिदिन सरकारी कर्मचारी के घूसखोरी के मामले भी सुर्खियां बन रहे हैं । पंजाब हरियाणा हाई कोर्ट के द्वारा 75 प्रतिशत प्राइवेट सेक्टर में स्थानीय युवाओं को रोजगार का आरक्षण रद्द किया जाना गठबंधन सरकार के चेहरे से मुखौटा उतर चुका है ।

Advertisement
बीजेपी सरकार जन संसद में किस-किसको करेगी निलंबित !-पर्ल चौधरी

उन्होंने कहा संसद के दोनों सदन में जनता के चुने हुए जनप्रतिनिधियों की आवाज को दबाना लोकतंत्र और जनभावना की एक प्रकार से हत्या ही कहा जा सकता है । इस मौके पर डॉक्टर हरिओम सभरवाल, रमेश कुमार खंडेवाला, सरपंच गजराज, समाजसेवी और चिंतक परमेश रंजन, पंडित गोलू, प्रवीण सरपंच हकदारपुर, हेमंत माजरी, जीतू चौहान, जरनैल सिंह, सतीश, जयपाल, हरिंदर राठी माजरी, सरपंच सत्तू, नरेश सहित अनेक प्रबुद्ध व्यक्ति मौजूद रहे । कांग्रेस नेत्री पर्ल चौधरी ने कहा कांग्रेस पार्टी का उद्देश्य समाज के पिछड़े और दबे पिछले लोगों को मुख्य धारा में लाना है । कांग्रेस सत्ता की लोभी अथवा लालची नहीं रही है । कांग्रेस पार्टी ने समाज के पिछड़े और दबे कुचले वर्ग को समानता का अधिकार देकर आगे लाने का काम किया।

उन्होंने कहा सभी समर्थक और कार्यकर्ता एकजुट होकर कांग्रेस को मजबूत करें तथा छोटे-मोटे आपसी मतभेद और मनभेद भूला कर कांग्रेस की जनहित की नीतियों को घर-घर तक पहुंचाने का काम करें। कांग्रेस पार्टी सभी को साथ लेकर सभी वर्गों का विकास करने की समर्थक रही है । भारतीय जनता पार्टी विकास के ढोल पीट रही है, लेकिन जमीनी हकीकत कुछ और ही बयान हो रही है । उन्होंने कहा इंडिया एलाइंस, 2024 में भारतीय जनता पार्टी को कड़ी राजनीतिक टक्कर देने के लिए तैयार है । इसके अलावा कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा से भी आम लोगों का भरोसा और विश्वास कांग्रेस के प्रति मजबूत हुआ है। इतना ही नहीं जनवरी में एक बार फिर से राहुल गांधी भारत जोड़ो पदयात्रा आरंभ करेंगे । कांग्रेस नेत्री पर्ल चौधरी ने दोहराया भाजपा की नीतियों और मनमानी से आम आदमी परेशान होकर अब देश और प्रदेश में राजनीतिक बदलाव का मन बना चुका है।

Advertisement
Advertisement

Related posts

हरियाणा में  मृतक देशराज का 25 साल बाद मिला मृत्यु प्रमाण-पत्र,

atalhind

कैथल पुलिस कर्मचारियों व अधिकारियों  ने अच्छा काम किया शाबाशी मिलनी चाहिए ,लेकिन सच भी तो जनता के सामने आना चाहिए ?

admin

मंदिर बनने की ख़ुशी है, लेकिन प्राण-प्रतिष्ठा समारोह को लेकर क्या सोचते हैं आम लोग?

editor

Leave a Comment

URL