Atal hind
कैथल टॉप न्यूज़ राजनीति हरियाणा

बुरे फंसे पुंडरी विधायक रणधीर गोलन

किसानों के खिलाफ ब्यान देकर बुरे फंसे पुंडरी विधायक रणधीर गोलन
“केवल 4 गांवो के किसानों ने नहीं बनाया विधायक” बयान देने से खफा किसानों ने विधायक का फूंका पुतला
किसानों ने विधायक को सार्वजनिक तौर पर माफी मांगने की बात कही, वरना होगा बड़ा विरोध प्रदर्शन
Pundri (atal hind)-पुंडरी हल्के के गांव पाई (VPO PAI)में बस स्टैंड के सामने राजौंद-पुंडरी मार्ग पर किसानों ने विधायक रणधीर सिंह गोलन(randhir gollen) का पुतला फुंका और जमकर नारेबाजी की। प्रदर्शन में हल्के के विभिन्न गांवो से हजारों किसान पहुंचे और रणधीर सिंह गोलन को किसान विरोधी बताया। उन्होंने कहा कि आज तो पाई में पुतला फूंका है, कल गांव करोड़ा में किसान विधायक का पुतला फुंकेगे और इसके साथ ही किसानों द्वारा चेतावनी दी गई की यदि विधायक रणधीर गोलन ने किसानों से सार्वजनिक तौर पर माफी नहीं मांगी तो पुंडरी में बहुत बड़ा विरोध प्रदर्शन किया जाएगा।
https://www.facebook.com/Kaithalahnews/videos/4118063624879330
आपको बता दें कि गत दिनों हुए किसानों के पक्ष में आयोजित हुए अविश्वास प्रस्ताव के खिलाफ और सरकार के पक्ष में वोट देकर रणधीर सिंह गोलन किसानों के निशाने पर थे, उसके बाद मीडिया में बातचीत के दौरान उन्होंने बयान दिया था कि वे पाई, भाना, करोड़ा आदि गांवो के किसानों ने विधायक नहीं बनाए हैं बल्कि 54 गांव विधानसभा के अंदर हैं सभी ने मिलकर मुझे विधायक बनाया है और वे इन 60 किसानों के दबाव में आकर इस्तीफा नहीं देंगे जिससे खफा होकर पाई बेल्ट के गांवो के किसानों ने विधायक रणधीर सिंह गोलन का पुतला फूंका। किसानों ने कहा कि विधायक बनने से पहले गोलन फूट-फूट कर रो रहे थे और विधायक बनाने की गुहार लगाने की गुहार कर रहे थे। सत्ता की कुर्सी पर बैठते ही गोलन किसान विरोधी बयान देने लगे हैं जिसका खामियाजा उन्हें भुगतना पड़ेगा। किसानों ने चेतावनी दी है कि जल्द अगर विधायक रणधीर गोलन ने सार्वजनिक तौर पर माफी नहीं मांगी तो सभी किसान पूंडरी में बड़ा विरोध प्रदर्शन करेंगे।

डिस्क्लेमर (अस्वीकरण) : इस आलेख में व्यक्त किए गए विचार लेखक के निजी विचार हैं. इस आलेख में दी गई किसी भी सूचना की सटीकता, संपूर्णता, व्यावहारिकता अथवा सच्चाई के प्रति ATAL HIND उत्तरदायी नहीं है. इस आलेख में सभी सूचनाएं ज्यों की त्यों प्रस्तुत की गई हैं. इस आलेख में दी गई कोई भी सूचना अथवा तथ्य अथवा व्यक्त किए गए विचार #ATALHIND के नहीं हैं, तथा atal hind उनके लिए किसी भी प्रकार से उत्तरदायी नहीं है.

अटल हिन्द से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।

Related posts

जाखल-कुलां मार्ग पर लगाया जाम

admin

हरियाणा में नगर निगमों का कानूनी अस्तित्व बचाने को सक्रिय हुआ राज्य निर्वाचन आयोग

admin

मीना हैरिस बोलीं- मैं भी हिंदू हूं, धर्म से फासीवाद को मत ढंको

admin

Leave a Comment

URL