Atal hind
कैथल टॉप न्यूज़ हरियाणा

“मत जा नजदीक, खुद को रखे ठीक, उन पे रहे आँख, ढके ना जो मुॅह और नाक” का शुभारंभ

हरियाणा में कोरोना जागरूकता अभियान नामक “मत जा नजदीक, खुद को रखे ठीक, उन पे रहे आँख, ढके ना जो मुॅह और नाक” का शुभारंभ
KAITHAL, 27 मार्च (ATAL HIND/RAJKUMAR AGGARWAL   ) जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव एवं मुख्यन्यायिक दंडाधिकारी दानिश गुप्ता ने बताया कि हरियाणा राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण ने कोरोना महामारी के खिलाफ समाज को जागरूक और मास्क शिष्टïाचार को विकसित करने के उद्देश्य से जागरूकता अभियान Óमत जा नजदीक, खुद को रखे ठीक, उन पे रहे आंख, ढके ना जो मुह और नाकÓÓ का शुभारंभ चण्डीगढ़ में किया। उन्होंने कहा कि इस अभियान का मुख्य उद्देश्य जन-मानस में स्वास्थ्य मापदंडों के उचित क्रियांवयन, मास्क पहनने और शारीरिक स्वच्छता के प्रति जागरूक करना है।
इस अवसर पर पंजाब एवं हरियाणा उच्च न्यायालय के न्यायधीश तथा हरियाणा राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के कार्यकारी अध्यक्ष राजन गुप्ता, राज्य सरकार के महाअधिवक्ता बलदेव राज महाजन, गृह विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव राजीव अरोड़ा,  हरियाणा जेल विभाग से सेवानिवृत्त महानिदेशक के. सेल्वराज तथा हरियाणा राज्य कानूनी सेवा प्राधिकरण के सदस्य-सचिव व जिला एवं सत्र न्यायाधीश प्रमोद गोयल उपस्थित रहे।

अभियान का शुभारंभ करते हुए न्यायधीश  राजन गुप्ता ने कहा कि पिछले कुछ समय से कोरोना संक्रमण का ग्राफ बढ़ रहा है। राज्य सरकार के सहयोग से इस महामारी के खिलाफ हेल्थ प्रॉटोकोल के बारे में जन मानस को जागरूक करना अत्यंत महत्वपूर्ण है। उन्होंने विश्वसनीय गैर सरकारी संगठनों और सार्वजनिक एजेंसियों को बड़े स्तर पर जागरूकता पैदा करने और मुफ्त में मास्क बनाने के लिए अपनी भागीदारी सुनिश्चित करने पर भी बल दिया। हरियाणा राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण पिछले एक वर्ष से कोविड-19 की रोकथाम के लिए बहुत काम कर रहा है। हालसा ने जिला विधिक सेवा प्राधिकरणों के माध्यम से जिला प्रशासन और गैर सरकारी संगठनों के समन्वय के साथ 3 लाख 50 हजार प्रवासियों की मदद की। कोविड के बारे में जागरूकता पैदा करने के लिए 4 हजार से अधिक जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किये गये, जिसमें 4 लाख 40, हजार से अधिक व्यक्तियों को जागरूक किया गया। उन्होंने  कहा कि 2 लाख मास्क और सैनिटाइजर वितरित किये गए तथा 2 हजार 700 लोगों को चिकित्सा सहायता प्रदान की गई, 20 हजार से अधिक सैनेटरी नैपकिन वितरित किए गए तथा 8 हजार 121 लोगों को आश्रय आदि के साथ सहायता प्रदान की गई।
उन्होंने बताया कि कोरोना की दूसरी लहर आ रही है, कोविड-19 के खिलाफ रोकथाम व टीकाकरण के लिए अधिक से अधिक केन्द्रित अभियान शुरू करना अनिवार्य हो गया है।  इस अभियान के मुख्य बिंदु कोविड-19 और इससे जुड़ी विभिन्न समस्याओं के बारे में बड़े पैमाने पर लोगों को जागरूक करना है। एनजीओ के सहयोग से जरूरतमंद व्यक्तियों में जागरूकता फैलाना व मास्क बनाकर वितरण करने में सहयोग करना, केंद्र व राज्य सरकार की कल्याणकारी योजनाओं के तहत जरूरतमंदों को राहत प्रदान करना व जिला प्रशासन एवं सार्वजनिक एजेंसियों के माध्यम से राज्य के दूर-दराज इलाकों में कोरोना की जानकारी देना, जागरूकता के प्रभावी और रचनात्मक तरीकों में मास्क पहनना, हाथों की सफाई और सामाजिक दूरी की पालना करना शामिल है।
उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य विभाग के साथ समन्वय कर टीकाकरण अभियान के बारे में जनता को जागरूक करने के साथ-साथ इससे जुड़ी आशंकाओं को भी दूर किया जाएगा। जिला प्रशासन के सहयोग से सभी जिला विधिक सेवा प्राधिकरण लोगों के बीच मास्क शिष्टाचार के बारे में जागरूकता पैदा करेंगे और महामारी की चपेट में आने वाले जरूरतमंद लोगों के लिए राज्य योजनाओं का लाभ सुनिश्चित करेंगे।  जेल विभाग, गैर सरकारी संगठनों और स्वयंसेवकों की मदद से जिला विधिक सेवा प्राधिकरण मास्क बनाने का भी काम करेेंगे और जरूरतमंद लोगों को मुफ्त में ये मास्क वितरित करेंगे और उन्हें शिक्षित करने के लिए सही तरीक से मास्क पहनने की जरूरत है और सभी निवारक कदम उठाने की जरूरत है, जैसे कि मास्क पहनना, सामाजिक दूर करना, हाथ साफ करना आदि।
इस अभियान के तहत धार्मिक और सार्वजनिक स्थानों जैसे स्कूलों, कॉलेजों, मॉल के साथ-साथ अदालतों, सचिवालय में जागरूकता अभियान चलाए जाएंगे ताकि समाज के हर वर्ग को इस महामारी के बारे में शिक्षित किया जा सके। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण मास्क के समुचित उपयोग को सुनिश्चित करने के लिए सक्षम युवा के सहयोग से विभिन्न स्थानों पर हेल्प डेस्क भी स्थापित करेगा। ये जागरूकता अभियान पुलिस और सिविल अधिकारियों की मदद से आयोजित किए जाएंगे। जिला विधिक सेवा प्राधिकरणों द्वारा जागरूकता के विभिन्न तरीकों को अपनाया जाएगा जैसे कि अभियान के प्रभावी और सार्थक क्रियावंयन के लिए साईकिल रैली, एनिमेटेड वीडियो तैयार करना, पैम्फलेट का वितरण  आदि। कोविड-19 और इससे जुड़े विभिन्न पहलुओं से अधिकांश छात्रों एवं शिक्षकों को अवगत कराने के लिए कानूनी साक्षरता क्लबों के माध्यम से स्कूलों और कॉलेजों में भी जागरूकता अभियान शुरू किए जाएंगे।

डिस्क्लेमर (अस्वीकरण) : इस आलेख में व्यक्त किए गए विचार लेखक के निजी विचार हैं. इस आलेख में दी गई किसी भी सूचना की सटीकता, संपूर्णता, व्यावहारिकता अथवा सच्चाई के प्रति ATAL HIND उत्तरदायी नहीं है. इस आलेख में सभी सूचनाएं ज्यों की त्यों प्रस्तुत की गई हैं. इस आलेख में दी गई कोई भी सूचना अथवा तथ्य अथवा व्यक्त किए गए विचार #ATALHIND के नहीं हैं, तथा atal hind उनके लिए किसी भी प्रकार से उत्तरदायी नहीं है.

अटल हिन्द से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।

Related posts

कैथल नई अनाज मंडी में किसानों को मिलेंगी आधुनिक सुविधाएं: लीला राम

admin

जेजेपी की धमकी आई काम=कैलाश भगत को हैफेड का चैयरमैन बनाया ,बाकि कई अन्य भी बने  चेयरमैन

admin

हुर्रियत कॉन्फ्रेंस में फूट, अलीशाह गिलानी का इस्तीफा,पाकिस्तान के कराची स्टॉक एक्सचेंज पर ग्रेनेड से हमला 6 की मौत।

Sarvekash Aggarwal

Leave a Comment

URL