Atal hind
क्राइम टॉप न्यूज़ पंजाब

महिला अपना हक के लिए दुकान का कब्जा लेने के लिए पहुंची, पति ने निकाली करपान

महिला अपना हक के लिए दुकान का कब्जा लेने के लिए पहुंची, पति ने निकाली करपान
सरपंच देने लगा धमकी
अबोहर (शर्मा): बल्लुआना हल्के के अंतर्गत आते गांव खुब्बन निवासी एक महिला का विवाद अपने पति के साथ चल रहा है। पति ने अपनी पत्नी को एफीडेविट पर लिखकर लाल लकीर में बनी दुकान दे दी थी। जब सुमन रानी अपने पिता हरगोबिंद के साथ कब्जा लेने पहुंची तो पुलिस ने भी सहयोग किया। परंतु गांव खुब्बन के सरपंच जरनैल सिंह जोकि शेराखुब्बन गैंगस्टर के पिता हैं उसने भी लड़की सुमन रानी को धमकी दी कि तुम्हारा नामो निशान मिटा देंगे। तुम मुझे नहीं जानती। इसके बाद उसके पति अमन ने भी अपनी किरपान से सुमन रानी पर वार करने की कोशिश की। बीच-बचाव कर लोगों ने बचा लिया। सुमन रानी ने दी हुई दुकान का ताला तोड़ा। जब सुमन रानी ताला लगाकर वापिस अपने पिता के घर सादुलशहर पहुंची तो गांव खुब्बन के सरपंच जरनैल सिह व उसके पति अमन, चाचा ससुर राकेश व देवर रितिक उर्फ गगन ने दोबारा ताले तोड़कर दोबारा नए ताले लगा दिये।

 

अभी मामला पुलिस के पास है। सुमन रानी को उसके पति ने उससे अलग रहने तथा दुकान लिखकर दी थी। इस कब्जे को लेकर एसपी अबोहर को सुमन रानी ने प्रार्थना पत्र दिया। एस.पी. अबोहर मनजीत सिंह ने राजनीतिक दबाव में आकर मामले को रफादफा कर दिया। जब सुमन रानी ने फाजिल्का के एसएसपी हरजीत सिंह से दुकान दिलाने की मांग की। उन्होंने थाना बहाववाला पुलिस को दुकान का कब्जा दिलाने को कहा। सुमन रानी ने पुलिस के सहयोग से दुकान का कब्जा लिया। उसके बाद एसपी कार्यालय से पुलिस को दबाया गया। उन्होंने बताया कि हमें फाजिल्का से आर्डर हैं। इसी कार्यवाई को अमल में ला रहे हंै। अब इस मामले की जांच थाना बहाववाला पुलिस कर रही है। लड़की के पिता हरगोबिंद सिंह ने बताया कि हमें इंसाफ नहीं मिल रहा। लड़की दर-दर की ठोकरें खा रही है। हम अबोहर की सभी धार्मिक व सामाजिक संस्थाओं से सहयोग की अपील करते हैं।

डिस्क्लेमर (अस्वीकरण) : इस आलेख में व्यक्त किए गए विचार लेखक के निजी विचार हैं. इस आलेख में दी गई किसी भी सूचना की सटीकता, संपूर्णता, व्यावहारिकता अथवा सच्चाई के प्रति ATAL HIND उत्तरदायी नहीं है. इस आलेख में सभी सूचनाएं ज्यों की त्यों प्रस्तुत की गई हैं. इस आलेख में दी गई कोई भी सूचना अथवा तथ्य अथवा व्यक्त किए गए विचार #ATALHIND के नहीं हैं, तथा atal hind उनके लिए किसी भी प्रकार से उत्तरदायी नहीं है.

अटल हिन्द से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।

Related posts

मिशन “लोकल पर वोकल” को सफल बनाने में भारतीय नागरिकों का कैसा हो योगदान, जानिए

Sarvekash Aggarwal

अगर बाल विवाह करवाया तो  दूल्हा, पंडित, मौल्वी ग्रन्थि, पादरी के खिलाफ की जाएगी कार्रवाई:- डॉ. अर्पित जैन

admin

चीन पर तीसरी डिजिटल स्ट्राइक, PUBG सहित 118 ऐप को किया बैन

admin

Leave a Comment

URL