मास्क पहनना और हाथ धोना इतना कठिन क्यों लगता है?

 

मास्क पहनना और हाथ धोना इतना कठिन क्यों लगता है?

नियमों का लगातार उल्लंघन होने पर कोविड मामलों में वृद्धि के कारण मुख्यमंत्री ने लोगों के रवैय पर चिंता जाहिर करते हुए पूछा‘कैप्टन से सवाल’ प्रोग्राम के दौरान पंजाबी गायकों को बंदूक संस्कृति को उत्साहित न करने की अपील – कहा गिरफ्तारियां कोई हल नहीं

 

Why is wearing masks and washing hands so hard?

Chief Minister, expressing concern over the attitude of the people due to increase in Kovid cases due to continuous violation of rules, asked ‘Question to Captain’ during the program appealed to Punjabi singers not to encourage gun culture – said arrests are no solution

चंडीगढ़,2  अगस्त -(अटल हिन्द ब्यूरो  )

 

कोविड(covid) सुरक्षा नियमों का उल्लंघन करके पंजाबियों के जीवन को जोखिम में डालने वाले लोगों के गैर -जिम्मेदारी वाले व्यवहार को गंभीरता से लेते हुए मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने पंजाब के लिए खतरनाक नतीजों से सावधान किया क्योंकि राज्य में पिछले कुछ दिनों से कोविड मामलों की बढ़ती संख्या सामने आ रही है।यह बताते हुए कि पंजाब में शुक्रवार को 665 केस रिपोर्ट हुए और अलग-अलग उल्लंघन के लिए 4900 चालान जारी किये गए, कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने पूछा कि मास्क पहनना, हाथ धोना और सडक़ों पर न थूकना इतना कठिन क्यों है? मुख्यमंत्री द्वारा उन लोगों को, जो सुरक्षा उपायों को अपनाने के लिए उनद्वारा लगातार अपीलों को नजरअन्दाज कर रहे हैं, को पूछा गया कि, ‘‘क्या आपको अपने पंजाबी बहन-भाइयों की कोई चिंता नहीं।’’ महाराष्ट्र और दिल्ली की मिसाल देते हुए उन्होंने कहा कि पंजाब की सुरक्षा यहाँ के लोगों के हाथों में ही है।साप्ताहिक फेसबुक प्रोग्राम ‘कैप्टन से सवाल’ के दौरान मुख्यमंत्री ने नौजवानों को कहा कि भारत सरकार के अनलॉक-3.0 सम्बन्धी निर्देशों के मुताबिक उनकी सरकार द्वारा 5 अगस्त से जिम खोलने संबंधी ऐलान किया गया है, इसके चलते उनको स्वास्थ्य विभाग द्वारा जल्द ही जारी किये जाने वाले निर्देशों और सुरक्षा उपायों को सख्ती से अपनाना होगा।कोविड होने बारे जल्द पता करने और सावधानियां अपनाए जाने की महत्ता बारे कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने अपनी अपील को दोहराया कि ठीक हो चुके कोविड मरीज अपना प्लाज्मा दान करें जिसके लिए राज्य में एक प्लाज्मा बैंक पहले ही चालू हो चुका है और दो अन्य स्थापित करने की तैयारी मुकम्मल हो चुकी है। उन्होंने कहा कि, ‘‘यदि मैं ठीक हुआ मरीज होता तो मैं अपना प्लाज्मा जरूर देता।’’ मुख्यमंत्री ने साथ ही कहा कि उनद्वारा सभी सरकारी और प्राईवेट अस्पतालों में प्लाज्मा मुफ्त मुहैया करवाने के लिए पहले ही निर्देश दिए जा चुके हैं।एक लुधियाना निवासी द्वारा बैडों की उपलब्धता के बारे में कौवा ऐप पर रोजाना जानकारी मुहैया करवाने के लिए की गई अपील के जवाब में मुख्यमंत्री ने कहा कि वह इस संबंधी प्रबंध करने के लिए स्वास्थ्य विभाग को निर्देश देंगे। उन्होंने भरोसा दिया कि बैडों की कोई कमी नहीं है क्योंकि मामलों में वृद्धि को देखते हुए पहले ही उचित बंदोबस्त कर लिए गए थे।शुतराना के निवासी द्वारा पूछे गए सवाल कि कोरोनावायरस कब खत्म होगा कि किसी को मास्क कभी न पहनना पड़े, के जवाब में कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने कहा कि उनके सामने भी यही सवाल है और वह इस स्थिति से तंग आ चुके हैं। परन्तु जब तक यह खत्म नहीं होता मास्क पहनने के अलावा और कोई हल नहीं, मुख्यमंत्री ने कहा कि ‘‘हम इतने मुश्किल भरे समय से एकसाथ गुजरेंगे और जीतेंगे। बरनाला के कारगिल बहादुरी पुरुस्कार और सेना मैडल विजेता बलकार सिंह द्वारा पुलिस और रक्षा सेवाओं के लिए पहले किये ऐलान के अनुसार वन-रैंक प्रमोशन के बारे में पूछे सवाल संबंधी मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार बहादुरी पुरुस्कार विजेताओं को वन-स्टैप प्रमोशन देने के लिए प्रतिबद्ध है। उन्होंने बलकार सिंह को भरोसा दिलाया कि वह इस लाभ के लिए योग्य हैं और यह जल्द मुहैया करवाया जायेगा।यह बताते हुए कि आज फस्ट एंड सेकिंड सिक्खज का स्थापना दिवस है, कैप्टन अमरिन्दर सिंह द्वारा बहादुरी के लिए जानी जाती यूनिटों के सभी सेवा निभा रहे और सेवामुक्त सैनिकों को बधाई दी गई।कुछ पंजाब गायकों द्वारा बंदूक संस्कृति को उत्साहित करने के प्रसंग में मुख्यमंत्री द्वारा समूचे गायकों को ऐसे गाने न गाने और इसकी जगह पंजाबी संस्कृति और सोच के प्रति प्रेरित करने की अपील की गई। उन्होंने राजपुरा निवासी, जिसद्वारा इस मुद्दे के बारे में चिंता जताई गई, को बताया कि गायकों को गिरफ्तार करना वास्तव में कोई हल नहीं और इन लोगों को नौजवानों पर ऐसे गीतों के पडऩे वाले बुरे प्रभावों को समझना चाहिए।मुख्यमंत्री द्वारा एक पूर्व डायरैक्टर और स्कूल प्रिंसीपल कुलविन्दर सिंह बग्गा द्वारा मिलिटरी स्टेशन के बाहर से जनरल हरबख्श सिंह इनकलेव संगरूर से गुजरती बदबूदार ड्रेन के बारे में की गई शिकायत का मुख्यमंत्री द्वारा गंभीर नोटिस लिया गया। इस निवासी द्वारा शिकायत की गई कि आर्मी द्वारा सिवरेज का पानी इस नाले में छोड़ा जाता है और लोगों द्वारा इसमें कूड़ा फैंक दिया जाता है क्योंकि यहाँ कूड़ा इक_ा करने की कोई व्यवस्था नहीं है। कुलविन्दर ने बताया कि ड्रेन की कभी सफाई नहीं की गई और मॉनसून में हालत बहुत खराब हो जाती है। कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने कहा कि वह डिप्टी कमिश्नर को यह मामला फौजी आधिकारियों के पास उठाने के लिए कह रहे हैं और उनके द्वारा पंजाब प्रदूषण कंट्रोल बोर्ड को भी मामला देखने के लिए कहा गया कि इस ड्रेन को साफ करने को यकीनी बनाने के लिए और क्या किया जा सकता है।वायु सेना के उच्च अधिकारी रिटायर्ड एन.एम. वी.के गौतम द्वारा मुकेरियाँ के सर्कल रैवेन्यू अफसर द्वारा राजस्व रिकार्ड में जालसाजी करने के दोष के बारे में की गई शिकायत पर मुख्यमंत्री ने होशियारपुर के डिप्टी कमिश्नर को इस बारे में एक हफ्ते के भीतर रिपोर्ट सौंपने के लिए कहा। श्री गौतम ने दोष लगाया कि उसके द्वारा नीलामी में जायदाद खरीदने के उपरांत उसे ब्लैकमेल करने के लिए नीलामी की प्रक्रिया को छोडऩे के लिए रिकार्ड में जालसाजी की गई। कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने कहा कि यह गंभीर मामला है और कार्यवाही की जायेगी।राज्य में जाली एन.जी.ओज के मुद्दे पर मुख्यमंत्री ने कहा कि कोविड संकट के दौरान कई एन.जी.ओज ने अच्छा काम किया है परन्तु यदि ऐसी कोई जाली गैर-सरकारी संस्था है तो शिकायतकर्ता को सूची सौंपनी चाहिए जिससे सरकार सख्त कार्यवाही कर सके।पंजाब स्कूल शिक्षा बोर्ड के 12वीं कक्षा के हाल ही में घोषित किए गऐ नतीजों में 93.33 प्रतिशत अंक हासिल करने के बाद बी.ए. बी.एड की पढ़ाई के लिए सहायता के बारे में विद्यार्थी के सवाल पर मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार द्वारा आर्थिक तौर पर पिछड़े वर्गों को पहले ही 10 प्रतिशत आरक्षण मुहैया करवाया जा रहा है और अनुसूचित जाति के विद्यार्थियों के लिए वजीफा भी दिया जा रहा है।फरीदकोट के सरकारी बरजिन्द्रा कॉलेज के बारे में मुख्यमंत्री ने कहा कि वह उच्च शिक्षा विभाग को अनुप्रयुक्त प्रशिक्षण देने के लिए कॉलेज के लिए उचित जमीन ढूँढने के लिए कहेंगे क्योंकिे इसके बिना कोर्स नहीं करवाया जा सकता।यह पूछे जाने पर कि क्या पंजाब भी दिल्ली की तरह डीजल पर वैट घटाएगा तो मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में वैट पहले ही दिल्ली की अपेक्षा कम है और वित्तीय हालात के कारण वैट और घटाना संभव भी नहीं है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार को राजस्व बढ़ाने और अन्य ढंग तलाशने की जरूरत है परन्तु इसका यह मतलब नहीं है कि वैट में और इजाफा किया जायेगा।अलग-अलग स्टैंप पेपरों की कमी के बारे में मुख्यमंत्री ने कहा कि लॉकडाउन के कारण नासिक में प्रिटिंग प्रैस के बंद होने के कारण देरी हुई है। उन्होंने बताया कि नासिक से स्टैंप पेपर लाने के लिए सोमवार को पंजाब से टीमें जा रही हैं और 15 अगस्त के बाद सप्लाई ठीक हो जायेगी।श्री अनन्दपुर साहिब के गाँव लमहेड़ी के एक निवासी ने एक स्थानीय व्यक्ति के लिए सहायता माँगी जिसका घर भारी बारिश के कारण ढह गया और उसके पास न तो घर की मुरम्मत के लिए पैसा है और न ही रहने के लिए कोई जगह। कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने कहा कि उन्होंने डिप्टी कमिश्नर से मौके की स्थिति की तस्दीक करवाई है और उनको बताया गया कि अस्थायी तौर पर बना पशूओं का शैड ढह गया है जबकि घर तो पक्के ढांचे वाला है। मुख्यमंत्री ने बताया कि उन्होंने जिला प्रशासन को पीडि़त परिवार के शैड की मुरम्मत के लिए 4000 रुपए देने के लिए कहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: