Atal hind
टॉप न्यूज़ राजनीति रोहतक सोनीपत

मुख्यमंत्री मनोहर लाल की प्रेस से अनौपचारिक बातचीत- कहा-पंजाब सरकार द्वारा पारित विधेयक किसान विरोधी

मुख्यमंत्री की प्रेस से अनौपचारिक बातचीत-

कहा-पंजाब सरकार द्वारा पारित विधेयक किसान विरोधी

दावा-पोर्टल के माध्यम से आई फसल खरीद में पारदर्शिता

मैरिट पर नौकरी नीति पर समाज ने लगाई मुहर

*परिवारवाद बना कांग्रेस के लिए गले की फांस*

रोहतक/गोहाना। हरियाणा मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा गत दिनों लागू किये गये तीन कृषि कानून किसान हितैषी है। केंद्र सरकार द्वारा धान व गेंहू फसल की न्यूनतम समर्थन मूल्य पर खरीद की जाती है तथा अन्य फसलों की खरीद की जिम्मेवारी प्रदेश सरकारों की है। हरियाणा सरकार द्वारा किसानों की अन्य फसलें जैसे सरसों, बाजरा, मक्का, चना, मूंग को एमएसपी पर खरीदा जा रहा है तथा मूंगफली की भी सरकारी खरीद करने का निर्णय लिया गया है।

Rohtak / Gohana. Haryana Chief Minister Manohar Lal said that the three agricultural laws implemented by the Central Government in the past are farmer-friendly. Paddy and wheat crops are procured by the central government at the minimum support price and the responsibility of the purchase of other crops lies with the state governments. Other crops of farmers like mustard, millet, maize, gram, moong are being purchased by the Haryana government at MSP and it has been decided to purchase government groundnut also.

गत दिनों पंजाब सरकार द्वारा पारित किये गये विधेयक किसान हितैषी नहीं है। इनके अंतर्गत केवल धान व गेंहू की फसलों को ही न्यूनतम समर्थन मूल्य से कम दर पर खरीदने पर तीन साल की सजा का प्रावधान किया गया है, जिससे किसानों को नुकसान होगा। पंजाब सरकार ही हरियाणा सरकार की तरह अन्य फसलों को न्यूनतम समर्थन मूल्य पर खरीदने का प्रावधान करे। पंजाब में मंडियों की व्यवस्था भी सही नहीं है। गत दिनों पंजाब सहित अन्य प्रदेशों के 51 हजार किसानों ने अपनी धान की फसल को हरियाणा की मंडियों में बेचने के लिए पोर्टल पर पंजीकृत किया है जो यह दर्शाता है कि उनके प्रदेशों में फसल बिक्री की पर्याप्त व्यवस्थाएं नहीं है।


मुख्यमंत्री मनोहर लाल गजानियां बैंकेट हाल में प्रदेश के प्रिंट, इलैक्ट्रोनिक एवं सोशल मीडिया के प्रेस प्रतिनिधियों से चाय पर चर्चा के दौरान अनौपचारिक बातचीत कर रहे थे। उन्होंने कहा कि केंद व प्रदेश सरकार किसानों के हित को ध्यान में रखते हुए निर्णय ले रही है। कांग्रेस पार्टी द्वारा कृषि कानूनों के बारे में किसानों को गुमराह किया जा रहा है। भारतीय जनता पार्टी के नेतृत्व में प्रदेश सरकार सरकार द्वारा सेमीनारों, प्रेस वार्ताओं के माध्यम से किसानों को इन कृषि कानूनों के बारे में जागरूक किया जा रहा है तथा किसान इन कानूनों की सच्चाई को जान रहे है।
उन्होंने स्पष्टï किया कि इन कानूनों के लागू होने से मंडी खुली रहने के साथ-साथ किसानों को अपनी फसल बिक्री हेतू एक ओर विकल्प प्राप्त हुआ है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा योग्यता के आधार पर रोजगार तथा ऑनलाईन स्थानांतरण नीति को दृढ़ता के साथ लागू किया है,जिसका समाज में स्वागत हुआ है। आज समाज में परिवर्तन हो रहा है। उन्होंने कहा कि परिवारवाद आज कांग्रेस पार्टी के गले की फांस बन गया है। कांग्रेस पार्टी के पास कोई राजनीति मुद्दा नहीं है, इसलिए वह जनता को बहका रही है। श्री मनोहर लाल ने कहा कि वर्ष 2014 के विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी को 33 प्रतिशत वोट प्राप्त हुए थे,जबकि वर्ष 2019 के विधानसभा चुनाव में 36 प्रतिशत वोट प्राप्त हुए है। इस प्रकार पार्टी को गत विधानसभा चुनाव में तीन प्रतिशत वोट अधिक मिले है, जो पार्टी की नीतियों में जनता का विश्वास दर्शाता है।
मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी ने कभी भी जातिवाद की राजनीति नहीं की है। हरियाणा व गुजरात आदि इसके उदाहरण है। भारतीय जनता पार्टी द्वारा जातिवाद की राजनीति रूपी केंसर को खत्म करने के प्रयास किये जा रहे है। आज समाज में काफी परिवर्तन हुआ है तथा युवा वर्ग जातिवाद की राजनीति में विश्वास नहीं करता है। अब जातिवाद की राजनीति खत्म हो रही है। उन्होंने कहा कि जातिवाद की राजनीति करने वालों को भी आज इसका अहसास हो रहा है। वे पार्टी लेवल से ऊपर तो उठ गये लेकिन जातिवाद से ऊपर नहीं उठ सके।
मनोहर लाल ने कहा कि वर्ष 1966 में न्यूनतम समर्थन मूल्य पर गेंहू की खरीद शुरू हुई। केंद्र सरकार द्वारा धान व गेंहू की खरीद एमएसपी पर की जाती है। प्रदेश सरकार द्वारा फसल की खरीद में पारदर्शिता लाने हेतू मेरी फसल-मेरा ब्यौरा की नई शुरूआत की गई। सरकार द्वारा इस पोर्टल पर पंजीकृत किसानों की फसलों को खरीदा जाता है तथा किसानों की सहमती से फसलों का भुगतान भी उनके खाते में किया जाता है। सरकार द्वारा फसल खरीद की अनियमिताओं को दूर करने हेतू अनेक कदम उठाये गये है। जनता की सोच भी धीरे-धीरे बदल रही है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा न्यूनतम समर्थन मूल्य पर खरीदी जा रही फसलों को दोबारा मार्केट में बेचने पर लगभग 500 करोड़ रुपये का घाटा होता है जो सरकार प्रदेश के किसानों के हितों को ध्यान में रखते हुए वहन करती है। इस अवसर पर बीजेपी के प्रदेशाध्यक्ष ओम प्रकाश धनखड़, प्रदेश के कृषि मंत्री जेपी दलाल,स्थानीय लोकसभा सांसद डॉ. अरविंद शर्मा करनाल के लोकसभा सांसद संजय भाटिया, पूर्व राज्य मंत्री मनीष कुमार ग्रोवर, मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार अमित आर्य सहित आदि उपस्थित रहे।

*प्रदीप सांगवान बीजेपी में हुए शामिल*

*प्रदेशाध्यक्ष ने फटका पहनाकर किया शामिल*
सोनीपत लोकसभा क्षेत्र के पूर्व सांसद किशनसिंह सांगवान के पुत्र प्रदीप सांगवान मुख्यमंत्री मनोहर लाल व प्रदेशाध्यक्ष ओम प्रकाश धनखड़ की उपस्थिति में भारतीय जनता पार्टी में शामिल हुए। प्रदेशाध्यक्ष ओम प्रकाश धनखड़ ने औपचारिक रूप से प्रदीप सांगवान को फटका पहनाकर बीजेपी में शामिल किया तथा मुख्यमंत्री ने पार्टी में शामिल होने पर उनका स्वागत किया। इसके उपरांत मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने ग्राम प्रमुखों एवं कोर ग्रूप की बैठकों की अध्यक्षता करते हुए आवश्यक दिशा-निर्देश दिये तथा बरोदा विधानसभा चुनाव के बारे में विचार विमर्श किया। इस अवसर पर मुख्यमंत्री के पूर्व मीडिया सलाहकार राजीव जैन भी मौजूद रहे।

*मुख्यमंत्री ने कार्यकर्ताओं से की मुलाकात*

मुख्यमंत्री मनोहर लाल के रोहतक आगमन पर स्थानीय बाबा मस्तनाथ विश्वविद्यालय परिसर में पार्टी के वरिष्ठï नेताओं द्वारा स्वागत किया गया। पूर्व राज्य मंत्री मनीष कुमार ग्रोवर,जिलाध्यक्ष अजय बंसल, रोहतक के मेयर मनमोहन गोयल सहित अन्य वरिष्ठï नेताओं ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल का स्वागत किया। इसके उपरांत मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने पार्टी के कार्यकर्ताओं से मुलाकात की तथा उनसे विचार विमर्श भी किया।

डिस्क्लेमर (अस्वीकरण) : इस आलेख में व्यक्त किए गए विचार लेखक के निजी विचार हैं. इस आलेख में दी गई किसी भी सूचना की सटीकता, संपूर्णता, व्यावहारिकता अथवा सच्चाई के प्रति ATAL HIND उत्तरदायी नहीं है. इस आलेख में सभी सूचनाएं ज्यों की त्यों प्रस्तुत की गई हैं. इस आलेख में दी गई कोई भी सूचना अथवा तथ्य अथवा व्यक्त किए गए विचार #ATALHIND के नहीं हैं, तथा atal hind उनके लिए किसी भी प्रकार से उत्तरदायी नहीं है.

अटल हिन्द से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।

Related posts

हरियाणा सरकार में बड़े  बदलाव की तैयारी ,कुछ मंत्रियों को हटाकर नए विधायकों को दिया जाएगा  मौका

admin

हरियाणा के स्कूल मास्टर श से शराबी  ,मनोहर सरकार भी बड़ी अजीब है 

admin

RTI जीएसटी के बिल बनाने पर मदान कटर्स पर ईटीओ ने लगाया 76 हजार 136 रुपये का जुर्माना 

admin

Leave a Comment

URL