Atal hind
उत्तर प्रदेश टॉप न्यूज़

मुरादाबाद मे पत्रकारों पर हमले की घटना अति निन्दनीय,पत्रकार सुरक्षा कानून बनाये सरकार :-रीतेश मिश्रा

मुरादाबाद मे पत्रकारों पर हमले की घटना अति निन्दनीय,पत्रकार सुरक्षा कानून बनाये सरकार :-रीतेश मिश्रा

Hardoi।(Atal hind)सत्ता जाने की झुंझलाहट व उसे वापस पाने की जद्दोजहद मे जुटे सपाई किस कदर बौखलाए हुये है इसका नमूना कल रात मुरादाबाद मे सपा प्रमुख की प्रेस कान्फ्रेंस के दौरान देखने को मिला। सबसे दुखद व दुर्भाग्यपूर्ण तो यह है कि उप्र के जनपद मुरादाबाद मे सपा प्रमुख अखिलेश यादव की प्रेस कान्फ्रेंस मे पत्रकार द्वारा सवाल पूछने से बौखलाए अखिलेश यादव ने अपने सुरक्षाकर्मियों से कहकर पत्रकारों पर हमला करा दिया।जिससे कई पत्रकारों को गम्भीर चोटें आयी है।पत्रकार फरीद सम्सी गम्भीर रूप से घायल हुये है।सपा प्रमुख की मौजूदगी मे पत्रकारों पर हमले की निन्दा करते हुये उप्र श्रमजीवी पत्रकार यूनियन (पंजी) हरदोई इकाई के जिलाध्यक्ष रीतेश मिश्रा ने पत्रकारों पर हमले को कायराना हमला करार देते हुये कहा है। कि लोकतंत्र मे सवाल पूछना लोकतंत्र की खूबसूरती है।पत्रकार का काम ही सवाल पूछना है।पत्रकार के सवाल पूछने पर सपा प्रमुख का पत्रकार पर भडकना दुर्भाग्यपूर्ण है।पत्रकारों के साथ धक्का मुक्की कराकर पिटाई कराना लोकतंत्र के चौथे स्तंभ पर हमला है। सपा प्रमुख ने लोकतंत्र का गला घोटने का काम किया है।श्री मिश्र ने योगी आदित्यनाथ से पत्रकार सुरक्षा कानून की मांग करते हुये कहा कि उप्र मे पत्रकारों मे असुरक्षा की भावना पैदा हो रही है।जो कि स्वस्थ लोकतंत्र के लिये शुभ संकेत नही है।इसलिए सरकार तुरंत पत्रकार सुरक्षा बनाने की ओर कदम उठाये। श्री मिश्रा ने यह भी कहा कि मुरादाबाद घटना की उच्च स्तरीय जांच कराकर उचित कार्यवाही करे केवल बयान वाजी से काम नही चलेगा।श्री मिश्र ने सभी पत्रकारों से अपील करते हुये कहा कि छोटे बडे का भेद छोड सभी पत्रकार साथी एकजुटता का परिचय देते हुये प्रेस की आजादी के लिये संघर्ष करें।तभी लोकतंत्र व प्रेस सुरक्षित रह पायेंगे ।

डिस्क्लेमर (अस्वीकरण) : इस आलेख में व्यक्त किए गए विचार लेखक के निजी विचार हैं. इस आलेख में दी गई किसी भी सूचना की सटीकता, संपूर्णता, व्यावहारिकता अथवा सच्चाई के प्रति ATAL HIND उत्तरदायी नहीं है. इस आलेख में सभी सूचनाएं ज्यों की त्यों प्रस्तुत की गई हैं. इस आलेख में दी गई कोई भी सूचना अथवा तथ्य अथवा व्यक्त किए गए विचार #ATALHIND के नहीं हैं, तथा atal hind उनके लिए किसी भी प्रकार से उत्तरदायी नहीं है.

अटल हिन्द से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।

Related posts

CBI जांच की खबर मिलने पर मृतक की पत्नी बोलीं सर प्लीज इसे छापते रहना

Sarvekash Aggarwal

शिक्षिका निर्मल के प्रयासों से पलट गई स्कूल की काया…

admin

नरवाना कार व ऑटो के बीच भिड़ंत, 6 महिलाओं सहित 11 घायल

admin

Leave a Comment

URL