Atal hind
राष्ट्रीय

युवा क्लब बनाने के लिए संबंधित विभाग युवाओं को जागरूक करें : सुरेश राविश

युवा क्लब बनाने के लिए संबंधित विभाग युवाओं को जागरूक करें : सुरेश राविश

कैथल (अटल हिन्द ब्यूरो  )

नगराधीश सुरेश राविश ने कहा कि खेल एवं युवा कार्यक्रम विभाग तथा नेहरू युवा केंद्रों के माध्यम से गांवों में युवा क्लब बनाए

जाएंगे। संबंधित विभाग के अधिकारी एक्टीव व डी-एक्टीव क्लबों की सूची तैयार करें तथा ज्यादा से ज्यादा युवाओं को जागरूक

करके उनके युवा क्लब बनवाना सुनिश्चित करें।

नगराधीश सुरेश राविश लघु सचिवालय स्थित कार्यालय में युवा क्लाबों व युवा मंडलों की बैठक में संबंधित अधिकारियों को

आवश्यक दिशा-निर्देश दे रहे थे। उन्होंने कहा कि जिला के सभी युवा क्लबों की जानकारी एकत्रित करें।  प्रत्येक गांव में एक

संगठित युवा संगठन अति आवश्यक है, जिससे गांव के हर कोने से हर वर्ग से उन युवक, युवतियों का चयन किया जाए, जिनसे

समाज सेवा की भावना कूट-कूट कर भरी हो और अपने गांव, जिले, राज्य और देश के लिए समाजसेवा प्रदान कर सके। नए

युवाओं को जोडऩा बहुत ही आवश्यक है, क्योंकि इससे अन्य युवाओं का भी प्रोत्साहन बढ़ेगा और स्वयं समाज सेवा के लिए इन

क्लबों से जुडऩे का प्रयास करेंगे। युवा क्लबों का गठन करने के प्रशिक्षण की प्रक्रिया भी शुरू करें। इस कार्य को पूर्ण करने के लिए

पंचायती राज, खंड विकास एवं पंचायत अधिकारी, नेहरू युवा केंद्र व जिला प्रशासन की विभिन्न ईकाईओं से मदद ली जाएगी।

उन्होंने कहा कि यह युवा क्लब पौधा रोपण, भू्रण हत्या जागरूकता, जल संरक्षण, टीकाकरण, सरकार की नीतियों का प्रचार-

प्रसार जन-जन पहुंचाते हैं। उन्होंने कहा कि जिला के युवा जिनकी आयु 13 से 29 वर्ष के बीच हो वह सर छोटूराम खेल स्टेडियम

स्थित खेल एवं युवा कार्यक्रम अधिकारी कार्यालय तथा ऋषि नगर स्थित नेहरू युवा केंद्र में संपर्क कर सकते हैं। इस मौके पर

नेहरू युवा केंद्र की कोर्डिनेटर दीक्षा मिश्रा, खेल विभाग के वाईसीओ सुशील कुमार, दीपक पामा आदि मौजूद रहे।

डिस्क्लेमर (अस्वीकरण) : इस आलेख में व्यक्त किए गए विचार लेखक के निजी विचार हैं. इस आलेख में दी गई किसी भी सूचना की सटीकता, संपूर्णता, व्यावहारिकता अथवा सच्चाई के प्रति ATAL HIND उत्तरदायी नहीं है. इस आलेख में सभी सूचनाएं ज्यों की त्यों प्रस्तुत की गई हैं. इस आलेख में दी गई कोई भी सूचना अथवा तथ्य अथवा व्यक्त किए गए विचार #ATALHIND के नहीं हैं, तथा atal hind उनके लिए किसी भी प्रकार से उत्तरदायी नहीं है.

अटल हिन्द से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।

Related posts

ये तो हद हो गई  डेवेलपर ने कागजों में स्पेस बेच किया 250 करोड़ का घोटाला

admin

रिपब्लिक टीवी के प्रमुख अर्नब गोस्वामी को परिणाम भुगतने ही होंगे।

admin

अच्छे दिन न आए और न आएंगे

admin

Leave a Comment

URL