Atal hind
Uncategorized

कौन है राष्ट्रपति, केन्द्रीय मंत्रियों व राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार और भारतीय नागरिक है भी इसका भारत  सरकार के पास कोई रिकॉर्ड नहीं 

राष्ट्रपति, केन्द्रीय मंत्रियों व राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार के नामों व नागरिकता सबूत सरकार के रिकार्ड में नहीं
Faridabad (atal hind)पानीपत के आरटीआई एक्टिविस्ट पीपी कपूर ने 20 जनवरी 2020 को प्रधानमंत्री कार्यालय में आरटीआई लगाई थी। इसके तहत प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, राष्ट्रपति, केन्द्रीय मंत्रियों, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार, चीफ ऑफ डिफैंस स्टाफ व तीनों सेना प्रमुखों के नाम पूछे व नागरिकता प्रमाण पत्र मांगे थे। प्रधानमंत्री कार्यालय के केन्द्रीय जनसूचना अधिकारी प्रवीन कुमार ने अपने 3 मार्च 2020 के पत्र द्वारा बताय कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी नागरिकता अधिनियम, 1855 के अनुभाग-3 के तहत जन्म से ही भारतीय हैं। जबकि राष्ट्रपति, सभी केन्द्रीय मंत्रियों, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार, चीफ ऑफ डिफैंस स्टाफ व तीनों सेनाओं के प्रमुखों के नाम व नागरिकता सबूत उनके रिकार्ड में मौजूद नहीं हैं।

कपूर ने कहा कि जिस आधार पर पीएम मोदी को भारतीय नागरिक बताया जा रहा है उससे तो भारत में जन्मा हर व्यक्ति भारतीय नागरिक हुआ। हैरानी की बात है कि जब कानून बनाने वाले केन्द्रीय मंत्रियों, राष्ट्रपति, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार तक के नागरिकता सबूत सरकार के पास नहीं हैं तो देश की 135 करोड़ जनता को एनआरसी, सीएए, एनपीआर के नाम पर क्यों आतंकित किया जा रहा है। शिक्षा, रोजगार, आर्थिक मंदी, किसानों-मजदूरों की बढ़ती आत्महत्याएं, कालाधन, मजदूरों की बदहाली जैसे सवालों से ध्यान हटाकर देश को नागरिकता जैसे बेमतलब के मुद्दे पर उलझाया जा रहा है। प्रधानमंत्री कार्यालय में केन्द्रीय मंत्रियों, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार, चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ व तीनों सेना प्रमुखों के नामों की जानकारी तक ना होना गंभीर सवाल खड़े करता है।
ये मांगी थी सूचना:-
भारत के राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी व उनके सभी मंत्री मंडलीय सहयोगियों/मंत्रियों के भारतीय नागरिक होने सम्बंधी सबूतों की सत्यापित छाया प्रति व नामों की सूचना।
भारत के चीफ ऑफ डिफैंस स्टाफ, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार व तीनों रक्षा सेवाओं के प्रमुख के नामों की सूचना व इनके नागरिकता प्रमाणपत्रों की सत्यापति छाया प्रति।

Leave a Comment