Atal hind
कैथल क्राइम टॉप न्यूज़ हरियाणा

रॉकी मित्तल को मिली जमानत, 333 व 353 धाराएं भी हटी

रॉकी मित्तल को मिली जमानत, 333 व 353 धाराएं भी हटी

(KAITHAL NEWS(ATAL HIND)रॉकी मित्तल को जमानत मिल गई है। रॉकी करीब 6 साल पुराने मामले में जज पर हमला करके घायल करने के आरोप में जेल में बंद थे। आपको बता दें कि पुलिस ने केस में नई धाराएं 333 व 353 जोड़कर रॉकी को 9 मार्च को पंचकूला स्थित उनके आवास से गिरफ्तार किया गया था।

उसके बाद हमला करने में प्रयोग की गई नीली बत्ती बरामद करने के लिए रॉकी को तीन दिन के रिमांड पर लिया था। रिमांड के दौरान पुलिस रॉकी से नीली बत्ती बरामद नहीं कर पाई। 12 मार्च को रॉकी को कोर्ट के आदेश पर न्यायिक हिरासत में भेज दिया था।

जांच के दौरान पुलिस ने करीब तीन सप्ताह पहले केस में जोड़ी नई धाराएं हटा दी जिसके बाद रॉकी को जिला न्यायालय से जमानत मिल गई। रॉकी के वकील आरडी शर्मा ने बताया कि पुलिस ने जो धाराएं जोड़ी थी, वह हटा दी हैं। रॉकी को जमानत मिल गई।

यह है मामला- 18 मई 2015 में नई अनाज मंडी में बदमाश ने आढ़ती मुनीष मित्तल की गोली मारकर हत्या कर दी थी। आढ़तियों ने रोष स्वरूप जींद रोड बाईपास पर जाम लगा दिया था। उसी समय वहां से जज अपने परिवार सहित गाड़ी से निकल रहे थे। आरोप है कि रॉकी ने जज की गाड़ी पर लगी नीली बत्ती उताकर जज के मुंह पर मारकर गंभीर घायल कर दिया था।

 

डिस्क्लेमर (अस्वीकरण) : इस आलेख में व्यक्त किए गए विचार लेखक के निजी विचार हैं. इस आलेख में दी गई किसी भी सूचना की सटीकता, संपूर्णता, व्यावहारिकता अथवा सच्चाई के प्रति ATAL HIND उत्तरदायी नहीं है. इस आलेख में सभी सूचनाएं ज्यों की त्यों प्रस्तुत की गई हैं. इस आलेख में दी गई कोई भी सूचना अथवा तथ्य अथवा व्यक्त किए गए विचार #ATALHIND के नहीं हैं, तथा atal hind उनके लिए किसी भी प्रकार से उत्तरदायी नहीं है.

अटल हिन्द से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।

Related posts

पीडियाट्रिक ब्लड डिसऑर्डर पर जागरुकता बढ़ाने के लिए  निशुल्क ओपीडी का आयोजन

admin

हरियाणा में 6 दिन में डबल हो रहे मरीज,1736 एक्टिव मरीज मौजूद

Sarvekash Aggarwal

ग़रीब मजदूरों पर हरियाणा के यमुनानगर में  बरसी लाठियाँ   

Sarvekash Aggarwal

Leave a Comment

URL