Atal hind
टॉप न्यूज़ रेवाड़ी हरियाणा

लिंग जांच करने का धंधा मोबाइल वैन के जरिए करते थे ,पकड़े गए 

लिंग जांच करने का धंधा मोबाइल वैन के जरिए करते थे ,पकड़े गए

धारूहेड़ा (अटल हिन्द ब्यूरो )

देश में भ्रूण हत्या और लिंग जांच कानूनी अपराध है। इसके बावजूद कुछ लोगों को कानून की धज्जियां उड़ाने में

कोई कोर कसर नहीं छोड़ते है। अकसर लिंग जांच करने वाले लोगों का भांड़ाफोड़ होता रहता है। वहीं ऐसा ही

एक ओर मामला सामने आया है जहां लिंग जांच करने वाला गिरोह मोबाइल वैन के जरिये धंधा कर रहे थे।

 

रेवाड़ी स्वास्थ्य विभाग की टीम ने लिंग जांच करने वाले एक गिरोह का पर्दाफाश किया है। टीम ने भ्रूण लिंग

जांच करने वाले एक ऐसे गिरोह को यूपी के गाजियाबाद से गिरफ्तार किया है। गिरोह मोबाइल वैन के जरिए

लिंग जांच का धंधा करता है। इसकी ऐवज में 80 हजार से एक लाख रुपए तक की रकम वसूली जाती थी।

 

गिरोह के खिलाफ धारूहेड़ा थाना में केस दर्ज कराया गया है। दरअसल, स्वास्थ्य विभाग को सूचना मिली थी

कि एक गिरोह मोबाइल वैन में रखी अनपंजीकृत अल्ट्रासाऊंड मशीन के जरिए भ्रूण लिंग जांच का धंधा करता

है। गिरोह के सदस्य एक वैन को लेकर धारूहेड़ा में भी आते है।

इसकी सूचना के बाद गिरोह को पकड़ने के लिए स्वास्थ्य विभाग ने डीसी यशेन्द्र सिंह से परमिशन ली। डीसी

यशेन्द्र सिंह के निर्देश पर एसएमओ चित्ररंजन, ड्रग्स कंट्रोलर अमनदीप व डा. जयप्रकाश के नेतृत्व में एक टीम

गठित की गई। टीम ने गिरोह से संबंधित जानकारी जुटाई और उसके बाद गिरोह से संपर्क किया गया। इसके

लिए एक डिकोट पेशेंट के रूप में महिला तैयार की गई।

गिरोह से संपर्क करने पर पता चला कि दिन और वार के हिसाब से मोबाइल वैन के जरिए जांच की जाती थी।

गिरोह ने बताया कि रविवार के दिन यूपी के गाजियाबाद में जांच की जाती है। गिरोह से मिली जानकारी के

आधार पर स्वास्थ्य विभाग की टीम धारूहेड़ा थाना पुलिस को साथ लेकर गाजियाबाद पहुंच गई।

 

गाजियाबाद पहुंचने के बाद सौदा तय हुआ और फिर एक सुनसान जगह पर मोबाइल वैन में रखी अल्ट्रासाऊंड

मशीन के जरिए जांच करते हुए रंगे हाथों टीम ने जांच करने वाले दो लोगों के अलावा वैन चालक को काबू कर

लिया है। तीनों लोगों को काबू करते हुए मशीन भी कब्जे में ले ली है। धारूहेड़ा थाना में आरोपितों के खिलाफ केस दर्ज कराया गया है।

डिस्क्लेमर (अस्वीकरण) : इस आलेख में व्यक्त किए गए विचार लेखक के निजी विचार हैं. इस आलेख में दी गई किसी भी सूचना की सटीकता, संपूर्णता, व्यावहारिकता अथवा सच्चाई के प्रति ATAL HIND उत्तरदायी नहीं है. इस आलेख में सभी सूचनाएं ज्यों की त्यों प्रस्तुत की गई हैं. इस आलेख में दी गई कोई भी सूचना अथवा तथ्य अथवा व्यक्त किए गए विचार #ATALHIND के नहीं हैं, तथा atal hind उनके लिए किसी भी प्रकार से उत्तरदायी नहीं है.

अटल हिन्द से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।

Related posts

माँ कसम मै  आर्य को नहीं जानता ,और कैथल विधायक की बढ़ गई मुश्किल ,ऑडियो वायरल 

admin

सुहागरात मनाने दुल्हन के पास पहुंचे 4 भाई, सास ने कहा- चल चारों बेटों को खुश कर

admin

क्यों ट्विटर पर मोदी रोज़गार दो ट्रेंड होकर भी ढेर हो गया ?

admin

Leave a Comment

URL