शर्मनाक ! ये कैसी हरकत, पुतलों की जगह रख दिए ‘सेक्स डॉल्स’,(sex dolls) मांगनी पड़ी माफी

शर्मनाक ! ये कैसी हरकत, पुतलों की जगह रख दिए ‘सेक्स डॉल्स’, मांगनी पड़ी माफी

 

Shame! This kind of action, put ‘sex dolls’ in place of effigies, had to ask for forgiveness

दिल्ली (खेल समाचार )साउथ कोरिया की एक पेशेवर फुटबॉल टीम एफसी सोल ने स्टेडियम भरने के लिए पुतलों का इस्तेमाल किया, लेकिन बाद में जांच के बाद इन पुतलों का जो सच सामने आया वो हैरान करने वाला था. पुतलों के जांच के बाद पता चला कि ये पुतले नहीं बल्कि सेक्स डॉल्स हैं.
दरअसल किसी ने सोचा नहीं था कि खेल में ये सब भी होगा. कोरोना वायरस के इस कहर के बीच खेलों की शुरुआत तो धीरे-धीरे अब हो रही है.नई गाइडलाइन के तहत बंद स्टेडियम में खेल की इजाजत दी गई है, लेकिन शुरुआत से पहले ही खेल को शर्मसार करने वाली हरकत सामने आई है, जो अब सुर्खियां बटोर रही हैं.इस हरकत की हर ओर आलोचना हो रही है और अब ऐसी हरकत करने वाले फुटबॉल क्लब ने माफी भी मांगी है.

https://amzn.to/3g5wZzn

इस घटना के बाद मिक्स अप के लिए सप्लायर को दोषी ठहराते हुए एफसी सोल ने एक बयान जारी कर कहा हम फैंस से माफी मांगना चाहेंगे, हमें गहरा खेद है, हमारा इरादा इस कठिन समय में कुछ हल्का फुल्का करने का था. हम इस बारे में जरूर सोचेंगे कि आखिर हमसे गलती कहां हुई, जिससे ऐसा फिर कभी न हो.

दरअसल फुटबॉल मैच को बंद दरवाजे के बीच कराया जा रहा था. जहां खाली स्टेडियम में जारी हुई इन तस्वीरों में 10 डॉल्स दिखाई गईं जो टीम के खिलाड़ियों की जर्सी पहनकर स्टेडियम में बैठी हुई थी. इन्हें कार्डबोर्ड कटआउट के रूप में दिखाया गया था, लेकिन सोशल मीडिया पर फैंस ने इसे तुरंत ही पकड़ लिया और फिर क्लब की क्लास ली.

 

फुटबॉल की वापसी

साउथ कोरिया में फुटबॉल की वापसी हुई है जहां डिफेंडिंग चैंपियन जियोनबुक मोटर्स ने सुवन ब्लूविंग्स को 1-0 से हरा दिया, इस दौरान एक भी फैन को स्टेडियम में जाने की अनुमति नहीं थी. गौरतलब है कि दुनियाभर में फुटबॉल एक्शन की कमी के साथ के लीग ने 10 से अधिक देशों को इंटरनेशनल प्रसारण के अधिकार बेचे हैं. बुंदेसलीगा भी इस सप्ताह के लीग में शामिल हो गया, जहां एक बार फिर से जर्मनी में फुटबॉल सीजन की शुरुआत हो चुकी है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Our COVID-19 India Official Data
Translate »
error: Content is protected !! Contact ATAL HIND for more Info.
%d bloggers like this: