Atal hind
Uncategorized

शादीशुदा महिलाओं को कौन सी चीजें दूसरों के साथ नहीं बांटनी चाहिए?

शादीशुदा महिलाओं को कौन सी चीजें दूसरों के साथ नहीं बांटनी चाहिए?
बहुत सुंदर सवाल किया है आपने!देखिये,एक लड़की जिस घर में बहू बन कर आई है,वह अब उसका घर भी है।उसे अब बहुत सी ऐसी बातों का ज्ञान हो जायेगा,जिनके बारे में पड़ोस में रहने वाले,और पति के दोस्त भी नहीं जानते होंगे।

1—मसलन,अगर संयुक्त परिवार है,तो भी,या फिर एकल रूप में हों तब भी—आपको पता चले कि पति और उनके किसी भाई में कोई आपसी विवाद चल रहा है,तो उस तरफ से आंखें मूँद कर रखिये।ये भाईयों का मसला है,बहुओं का इस से कोई लेना देना नहीं।ऐसी बातें न तो किसी बाहरी से शेयर करिये और न ही अपनी जेठानी या दौरानी से इस मसले को डिस्कस करिये।बहुओं की बोलचाल पूर्व की तरह सुचारु रहनी चाहिए।

2—हो सकता है बिजनेस फेमिली होने के कारण कोई घाटा हुआ हो और आपके पति या ससुर वगैरा को कोई कर्ज कहीं से लेना पड़ा हो, तो ऐसी बातें कभी भी अपनी किसी सहेली,पडौसन वगैरा को मत बताईये।इससे परिवार की प्रतिष्ठा पर आँच आयेगी।कोशिश करिये ऐसी सूचनाएँ आपके मायके भी न पहुंचें।ससुराल की प्रतिष्ठा अब आपकी भी प्रतिष्ठा है।

3—घर में रखे गहने और जेवरातों की कोई भी बात मित्रों, सहेलियों आदि को बताना ठीक नहीं होता।खासतौर पर घर में काम करने वाली मेड (maid) को भी नहीं। घर में अगर कोई शादी हो,और नये जेवरात खरीदे गए हों, तो विशेष ध्यान रखें।इसी तरह घर के कैश की जानकारी भी बाहर न जाने दें।

4—आपकी बेटी या ननद के रिश्ते की बात कहीं चल रही है,तो शादी होने तक भावी रिश्तेदारों के बारे में किसी को न बताएं।विरोधी सक्रिय होकर परिवार को हानि पहुँचा सकते हैं।

5—आपके पति के वेतन आदि की जानकारी किसी को न दें।

6—घर के सदस्यों के बैंक एकाउंट संख्या,और मोबाइल नम्बर किसी को न बताएं।

7—आपका अपने पति से कोई विवाद किसी भी मामले में हुआ हो,तो उसकी जानकारी बाहर नहीं जानी चाहिए।यदि आपको पति के किसी बाहरी महिला से अवैध संबंधों का शक हो,तो सीधे पति से ही बात करें।प्रमाण हो तो ससुर जी या अपनी सासु माँ को बता सकती हैं।

8—कई बार कोई महिला अपनी किसी पक्की सहेली को घर के, और अपने “व्यक्तिगत राज” बता देती हैं।ये सहेली सम्बन्ध बिगड़ जाने पर ऐसे राज खोल देती हैं।इसलिए किसी स्त्री को अपने कोई भी राज किसी को भी नहीं बताने चाहिए।

शादीशुदा महिला भारतीय संस्कृति में परिवार का अहम हिस्सा मानी जाती है।आपका एक गलत कदम(सूचना बाहर जाना) पूरे परिवार की प्रतिष्ठा को गर्त में झोंक सकता है।इसलिए सतर्क होकर रिश्ता निभाएँ!

डिस्क्लेमर (अस्वीकरण) : इस आलेख में व्यक्त किए गए विचार लेखक के निजी विचार हैं. इस आलेख में दी गई किसी भी सूचना की सटीकता, संपूर्णता, व्यावहारिकता अथवा सच्चाई के प्रति ATAL HIND उत्तरदायी नहीं है. इस आलेख में सभी सूचनाएं ज्यों की त्यों प्रस्तुत की गई हैं. इस आलेख में दी गई कोई भी सूचना अथवा तथ्य अथवा व्यक्त किए गए विचार #ATALHIND के नहीं हैं, तथा atal hind उनके लिए किसी भी प्रकार से उत्तरदायी नहीं है.

अटल हिन्द से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।

Leave a Comment

URL