Atal hind
Uncategorized

सितंबर माह में रेवाड़ी पुलिस ने सुलझाई डेढ़ दर्जन से अधिक वारदातें हिस्ट्री शीटर पपला गुर्जर के गुर्गाें को पकड़ किया राजस्थान पुलिस के हवाले

सितंबर माह में रेवाड़ी पुलिस ने सुलझाई डेढ़ दर्जन से अधिक वारदातें
हिस्ट्री शीटर पपला गुर्जर के गुर्गाें को पकड़ किया राजस्थान पुलिस के हवाले
चोरी, स्नैचिंग और नशे के सौदागरों पर कसा शिकंजा
धनेश विद्यार्थी, रेवाड़ी।
जिले के इतिहास में पहली बार 25 दिनों में पाक्सो एक्ट के तहत आरोपी को सजा दिलानेके अलावा सितंबर माह में रेवाड़ी पुलिस ने करीब डेढ दर्जन से अधिक वारदातों को सुलझाने में कामयाबी हासिल की। इनमें हिस्ट्री शीटर पपला गुर्जर के गुर्गाें को पकड़कर राजस्थान पुलिस के हवाले करना भी शामिल है। इसके अलावा चोरी, चैन स्नैचिंग और नशे के सौदागारों पर शिकंजा कसना भी पुलिस की कामयाबी रहा।
पूरा सितंबर माह रेवाड़ी पुलिस अपनी डयूटी निभाती नजर आई। अब इन उपलब्धियों के लिए एसपी नाजनीन भसीन ने अपने जवानों एवं पुलिस अधिकायिरों को शाबाशी दी है।
क्या-क्या किया पुलिस ने
सितंबर माह में महेन्द्रगढ़ का कुख्यात बदमाश बिक्रम उर्फ पपला को उसके साथियों ने बहरोड़ थाना में फायरिंग कर छुड़ा लिया था। इस वारदात के बाद रेवाड़ी पुलिस ने ही सबसे पहले चारों तरफ बदमाशों को घेरा था। रेवाड़ी के बदमाश का नाम सामने आते ही सीआईए रेवाड़ी की टीम ने पपला के साथी माता चैक निवासी राहुल गुर्जर को काबू किया था। राहुल पर राजस्थान पुलिस ने 50 हजार रुपए का इनाम रखा था। उसके बाद सीआईए ने बदमाश राहुल को राजस्थान की एसएओजी टीम को सौंपा था।
25 दिन में आया ऐतिहासिक फैसला
सितंबर माह में रेवाड़ी पुलिस के लिए एक ओर एतिहासिक फैसला आया। यह फैसला रेवाड़ी कोर्ट की तरफ से सुनाया गया था। धारूहेड़ा क्षेत्र में एक 3 साल की मासूम के साथ दरिंदगी करने वाले आरोपी को न केवल 2 घंटे में पकड़ा, बल्कि 10 दिन में चालान पेश कर केस से जुड़े तमाम सबूत व गवाही पूरी कराकर पुलिस ने कोर्ट में आरोपी के खिलाफ मजबूती से अपना पक्ष रखा। यहीं कारण है कि 25 दिन में ही रेवाड़ी कोर्ट ने आरोपी को दोषी ठहराते हुए उसे सजा भी सुना दी। पुलिस द्वारा की गई इस कार्रवाई को आज भी हर जगह सराहाया जा रहा है।
-स्नैचर व वाहन चोरों को भी काबू किया
30 दिन में जिला पुलिस के विभिन्न थानों की पुलिस ने कार्रवाई करते हुए स्चैनिंग के सात आरोपियों को काबू करते हुए 5 वारदातों का खुलासा किया और उनसे एक ट्रक, चार मोबाइल बरामद किए गए है। वहीं आठ वाहन चोरों को गिरफ्तार कर उनके द्वारा की गई 16 वारदातों का खुलासा करते हुए एक अल्टो कार, एक वैगनार कार, एक फॉरच्यूनर कार व 13 बाइकों को बरामद किए गया है। दुकान, घरों में चोरी व एटीएम उखाड़े वाले गिरोह के पांच सदस्यों को काबू करते हुए पुलिस ने 7 केस का खुलासा किया है तथा उनसे चोरी किए गए सोने-चांदी के आभूषण, लैपटॉप, मोबाइल, गारमेंट्स की दुकान से चोरी किया गया सामान भी बरामद कर लिया है। गिरोह से बरामद किए गए सामान की कुल कीमत 6 लाख 70 हजार रुपए है। इसके अलावा सितंबर माह में 12 पीओ, 6 बेल जंपर, एक गैंग को भी गिरफ्तार किया गया है।
-नशा तस्करों व तबंचा के शौकीनों पर पुलिस ने कसा शिकंजा
नशे की लत आने वाले नई पीढी को बिगाड़ने का काम कर रही है। इसी दिशा में नशे के खिलाफ रेवाड़ी पुलिस भी बड़ी तेजी से काम कर रही है। 30 दिन के भीतर स्मैक, गांजा व सुल्फा बेचने वाले लोगों के खिलाफ पुलिस ने बड़े स्तर पर कार्रवाई की है। 9 लोगों को गिरफ्तार कर पुलिस ने 4 किलो 340 ग्राम गांजा, 9.80 ग्राम स्मैक बरामद की है।
इसी एक माह के दौरान पुलिस ने तबंचा रखने के शौकीन 10 लोगों को गिरफ्तार कर 10 अवैध हथियार पकड़े है। सितंबर माह के दौरान पुलिस ने अवैध हथियार रखने व सप्लाई करने वालों पर भी बड़े लेवल पर कार्रवाई की है। पुलिस ने 4 देसी कट्टे, 6 देसी पिस्तौल के अलावा 8 कारतूस बरामद करते हुए 10 लोगों को काबू किया है।
-शराब माफियों पर भी पुलिस ने कसी नकेल
सितंबर माह के 30 दिन के अन्दर जिला पुलिस ने शराब का अवैध कारोबार करने वालों के खिलाफ कार्रवाई करते हुए 16 लोगों को काबू किया है। और उनसे 1160 शराब की बोतल व एक बुलेरो गाड़ी बरामद की गई है।
-जुआरियों में पैदा किया खौफ
जुआ खेलने वाले लोगों पर भी रेवाड़ी पुलिस ने सितंबर माह में बड़ी कार्रवाई की है। पुलिस ने अलग-अलग स्थानों पर कार्रवाई कर सात लोगों को गिरफ्तार कर 1 लाख 84 हजार 600 रुपए की राशि बरामद की है।
-अपराध व अपराधियों का खत्मा मकसदः- एसपी
रेवाड़ी पुलिस 24 घंटे लोगों की सेवा के लिए तत्पर है। जिले में अपराध व अपराधियों का खात्मा ही पहला मकसद है, जिसमें पिछले एक माह के दौरान हम काफी हद तक कामयाब भी हुए हैं। उन्होने बताया कि मै जिले की जनता से भी आग्रह करती हूं कि वह अपने आसपास होने वाली अपराधिक घटनाओं, अपराधिक किस्म के व्यक्ति या फिर किसी भी प्रकार के अवैध धंधे से मुंह मोड़ने की बजाए उसके खिलाफ सीधे पुलिस द्वारा जारी किए गए मोबाइल नंबर 9306913933 पर जानकारी दें। उन्होने बताया कि सूचना देने वाले का नाम व पता तो गुप्त रखा ही जाएगा। साथ ही आम लोगों द्वारा इस प्रकार का सहयोग मिलने पर जिले से अपराध और अपराधियों का सफाया किया जाएगा।

डिस्क्लेमर (अस्वीकरण) : इस आलेख में व्यक्त किए गए विचार लेखक के निजी विचार हैं. इस आलेख में दी गई किसी भी सूचना की सटीकता, संपूर्णता, व्यावहारिकता अथवा सच्चाई के प्रति ATAL HIND उत्तरदायी नहीं है. इस आलेख में सभी सूचनाएं ज्यों की त्यों प्रस्तुत की गई हैं. इस आलेख में दी गई कोई भी सूचना अथवा तथ्य अथवा व्यक्त किए गए विचार #ATALHIND के नहीं हैं, तथा atal hind उनके लिए किसी भी प्रकार से उत्तरदायी नहीं है.

अटल हिन्द से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।

Leave a Comment

URL