सिरसा जिला प्रशासन एक माह के भीतर प्रशासन सही करवाकर देगा मकान का इंतकाल

पीडि़त परिवार के अनिश्चितकालीन धरने को एसडीएम सिरसा ने करवाया समाप्त
-कहा:- एक माह के भीतर प्रशासन सही करवाकर देगा मकान का इंतकाल
-हम पाई-पाई को मोहताज, इंतकाल सही न हुआ तो करेंगे भूख हड़ताल: पीडि़त परिवार
सिरसा। जिला प्रशासन की कार्यशैली से प्रताडि़त अग्रसैन कॉलोनी की पीडि़त महिला रुचि जमालिया पत्नी राजीव जमालिया ने आज लघुसचिवालय में अनिश्चितकालीन धरना शुरू किया। एसडीएम सिरसा सहित अनेक प्रशासनिक अधिकारियों ने एक महीने में इंतकाल सही करवाकर देने का विश्वास दिलाकर धरना समाप्त करवाया। पीडि़त रुचि जमालिया ने बताया कि उनके साथ अन्याय हुआ है। तत्कालीन पटवारी जसवंत सिंह, कानूनगों मदनमोहन मैहता व सेवानिवृत्त तहसीलदार ओपी बिश्रोई की संयुक्त सांठगाठ से उसका मकान छह बार बिक गया और उनका परिवार पाई-पाई को मोहताज हो गया। मामले में जिला प्रशासन कोई सुनवाई करने को तैयार नहीं, बल्कि अपने अधिकारियों को बचाने में जुटा है। पीडि़त महिला रुचि के पति राजीव जमालिया ने बताया कि सिविल लाइन सिरसा में उक्त तीनों अधिकारियों पर मामला दर्ज है लेकिन पुलिस ने उन्हें जांच में शामिल करने की बजाए इतनी ढिलाई दे दी कि उन्होंने कोर्ट से अग्रिम जमानत ले ली। इससे उन्हें मानसिक प्रताडऩा हुई है। पीडि़त परिवार ने स्पष्टï तौर पर कहा कि वे इस मामले में समझौता नहीं, बल्कि चाहते है कि उनके मकान का इंतकाल सहीं करवाया जाए और उन्हें इंसाफ दिलाया जाए। पीडि़त परिवार के अनुसार एसडीएम सिरसा ने उन्हें विश्वास दिलाया कि इस मामले में न्याय होगा। एक माह के भीतर इंतकाल सही करवाकर दिया जाएगा। इस पर पीडि़त परिवार ने कहा कि अगर एक माह के भीतर इंतकाल सही कर उन्हें न्याय न मिला तो वे भूख हड़ताल कर आत्म हत्या करने पर मजबूर होंगे। धरने में पहले दिन लक्ष्मी रानी, नरेश कुमार, इशु अग्रवाल, अभिषेक, मयंक भी मौजूद थे।
वहीं एसडीएम जयवीर यादव से बात की गई तो उन्होंने बताया कि इस मामले में जो भी कानूनी कार्रवाई बनती है, वह करेंगे। शीघ्र अतिशीघ्र इंतकाल को कानूनी रुप से दुरुस्त करवाया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *