Atal hind
क्राइम टॉप न्यूज़ पंजाब

सिविल अस्पताल में आपस में भिड़े दो गुट; विवाद में चली गोली डॉक्टर को लगी,

सिविल अस्पताल में आपस में भिड़े दो गुट; विवाद में चली गोली डॉक्टर को लगी,
Amritsar(atal hind/jitender arora)। यहां सिविल अस्पताल में रविवार सुबह 4:00 बजे मेडिको लीगल रिपोर्ट लेने आए दो पक्ष भिड़ गए। इस दौरान एक पक्ष के व्यक्ति ने दूसरे पक्ष पर गोली चला दी। एक गोली अस्पताल में कार्यरत इमरजेंसी मेडिकल आफिसर भवनीत सिंह को लगी। भवनीत सिंह को तत्काल निजी अस्पताल में दाखिल करवाया गया। घटना की जानकारी पाकर मौके पर डीसीपी परमिंदर सिंह व सिविल अस्पताल के एसएमओ डा. चंद्रमोहन पहुंच गए। घटना को अंजाम देने के बाद आरोपित फरार हो गए।

असल में लव कुश नगर में दो लोगों के बीच मामूली विवाद को लेकर झगड़ा हुआ था। झगड़ा इतना बढ़ गया कि दोनों पक्षों के दर्जन भर से ज्यादा लोग आमने-सामने हो गए। एक दूसरे को जमकर पीटा। झगड़े के बाद दोनों ही पार्टियां सिविल अस्पताल में मेडिको लीगल रिपोर्ट प्राप्त करने के लिए पहुंच गए। यहां भी दोनों आपस में भिड़ गए। डीसीपी परमिंदर सिंह मंडार ने कहा कि जल्द ही आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

इमरजेंसी मेडिकल आफिसर भवनीत सिंह की जांघ पर गोली लगी है। इससे पूर्व इसी अस्पताल में फरवरी माह में घुसे दो अज्ञात युवकों ने पिस्टल दिखाकर लैब टेक्निशन मनजिंदर संधू से 20 लाख की मांग की थी। शिकायत के बावजूद पुलिस ने आरोपितों की धरपकड़ नहीं की।

डाक्टरों ने मेडिको लीगल का काम किया बंद, मांगी सुरक्षा

घटना के बाद डाक्टरों ने मेडिको लीगल का काम बंद कर दिया है। उनका कहना है कि जब तक उन्हें सुरक्षा नहीं दी जाती, तब तक वे पुलिस से संबंधित कोई काम नहीं करेंगे। इंडियन मेडिकल एसोसिएशन ने भी इस घटना की निंदा की है। एसोसिएशन के प्रदेश अध्यक्ष डॉ केडी सिंह व सचिव डॉक्टर आरएस सेठी ने कहा कि पुलिस की ढीली कार्रवाई की वजह से डाक्टरों पर हमले हो रहे हैं। एसोसिएशन इसकी कड़ी निंदा करती है। यदि आरोपितों को जल्द गिरफ्तार न किया गया तो, एसोसिएशन स्वास्थय सेवाएं भी ठप कर देगी।

 

डिस्क्लेमर (अस्वीकरण) : इस आलेख में व्यक्त किए गए विचार लेखक के निजी विचार हैं. इस आलेख में दी गई किसी भी सूचना की सटीकता, संपूर्णता, व्यावहारिकता अथवा सच्चाई के प्रति ATAL HIND उत्तरदायी नहीं है. इस आलेख में सभी सूचनाएं ज्यों की त्यों प्रस्तुत की गई हैं. इस आलेख में दी गई कोई भी सूचना अथवा तथ्य अथवा व्यक्त किए गए विचार #ATALHIND के नहीं हैं, तथा atal hind उनके लिए किसी भी प्रकार से उत्तरदायी नहीं है.

अटल हिन्द से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।

Related posts

फरीदाबाद पुलिस (police)ने पत्रकार पर दर्ज किया फर्जी मुकदमा, किया थर्ड डिग्री टॉर्चर,

Sarvekash Aggarwal

रॉकी मित्तल को मिली जमानत, 333 व 353 धाराएं भी हटी

admin

पुलिस ने मारे धक्के जमीन पर गिरे राहुल लाठीचार्ज में कईयों के सर फूटे

admin

Leave a Comment

URL