Atal hind
Uncategorized

सुकमा पुलिस को बड़ी सफलता, एसपी चौबे की हत्या का मास्टरमाइंड नक्सली बदरू समेत 9 ने किया आत्मसमर्पण

सुकमा पुलिस को बड़ी सफलता, एसपी चौबे की हत्या का मास्टरमाइंड नक्सली बदरू समेत 9 ने किया आत्मसमर्पण
सुकमा। जिला पुलिस बल को एक बार फिर बड़ी सफलता हासिल हुई है। 10 लाख का इनामी हार्डकोर नक्सली बदरू समेत 9 लोगों ने सोमवार को पुलिस के समक्ष पेश होकर आत्मसर्पण किया है। बदरू और उसके साथी की मदनवाडा और राजनांदगांव के आस-पास हुई नक्सली हमले में मुख्य भूमिका रही थी। बदरू और उसके साथियों की मदद से नक्सलियों की कई ख़ुफ़िया जानकारी हासिल करने में मदद मिलेगी।

सुकमा एएसपी सिद्धार्थ तिवारी ने आत्मसमर्पण की पुष्टि करते हुए बताया है कि बदरू ने नक्सलियों का 75 किलो का जरेटिन जब्त कराने में मदद की। वहीं इस आत्मसमर्पित नक्सलियों में बदरू की पत्नी भी शामिल हैं।

क्या था मदनवाडा हमला

2 जुलाई 2009 को राजनांदगांव के मदनवाड़ा में नक्सली हमला हुआ था। उस वक्त विनोद कुमार चौबे राजनांदगांव एसपी और मुकेश गुप्ता आईजी थे। नक्सलियों के दो जवानों को गोली मारने की सूचना पर एसपी चौबे जवानों के साथ निकल पड़े। मदनवाड़ा के पास नक्सलियों ने पहले बारुदी सुरंग विस्फोट किया फिर उन पर गोलियों की बौछार कर दी थीत्र इस घटना में अफसरों की भूमिका को लेकर सवाल उठते रहे हैं। राजनांदगांव जिले में ये अब तक की सबसे बड़ी नक्सली वारदाता थी। इसी मामले में अब नए सिरे जांच के आदेश दिए गए हैं।

डिस्क्लेमर (अस्वीकरण) : इस आलेख में व्यक्त किए गए विचार लेखक के निजी विचार हैं. इस आलेख में दी गई किसी भी सूचना की सटीकता, संपूर्णता, व्यावहारिकता अथवा सच्चाई के प्रति ATAL HIND उत्तरदायी नहीं है. इस आलेख में सभी सूचनाएं ज्यों की त्यों प्रस्तुत की गई हैं. इस आलेख में दी गई कोई भी सूचना अथवा तथ्य अथवा व्यक्त किए गए विचार #ATALHIND के नहीं हैं, तथा atal hind उनके लिए किसी भी प्रकार से उत्तरदायी नहीं है.

अटल हिन्द से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।

Leave a Comment

URL