Atal hind
Uncategorized

स्कूल से पिकनिक मनाने गये 2 छात्र डूबे ,स्कूल प्रशासन जिम्मेवार ,16-16 लाख रुपये की मुआवजा दिया 

स्कूल से पिकनिक मनाने गये 2 छात्र डूबे ,स्कूल प्रशासन जिम्मेवार ,16-16 लाख रुपये की मुआवजा दिया
मृत स्कूली बच्चों को मिलेगी 20-20 लाख रुपये की मुआवजा राशि…. स्कूल प्रबंधन 16-16 लाख रुपये की मुआवजा राशि देनें को हुआ राजी
रायपुर (अटल हिन्द ब्यूरो ) पिकनिक मनाने गये स्कूली छात्रों की डैम में डूबकर मौत मामले में स्कूल प्रबंधन मुआवजा देने को राजी हो गया है। स्कूल प्रबंधन बच्चों को 16-16 लाख रुपये की राशि बतौर मुआवजा परिजनों को देगा। उससे पहले मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बच्चों की मौत पर दुख जताते हुए 4-4 लाख रुपये के मुआवजे का ऐलान किया था। आज परिजनों और प्रबंधन की प्रशासनिक अफसरों की मौजूगी में बैठक हुई, जिसके बाद मुआवजा राशि देने पर सहमति बनी।प्रशासन   ने इस बात की चेतावनी दी है कि अगर आने वाले दिनों इस तरह की कभी भी लापरवाही हुई तो स्कूल की मान्यता रद्द कर दी जायेगी। इससे पहले कल दोपहर स्कूल से पिकनिक मनाने गये छात्रों के दल में से दो छात्रों की नदी में डूबने से मौत हो गयी थी।शासन ने इस बात की चेतावनी दी है कि अगर आने वाले दिनों इस तरह की कभी भी लापरवाही हुई तो स्कूल की मान्यता रद्द कर दी जायेगी। इससे पहले कल दोपहर स्कूल से पिकनिक मनाने गये छात्रों के दल में से दो छात्रों की नदी में डूबने से मौत हो गयी थी।टाटीबंध के भारत माता स्कूल से 170 छात्रों का दल सिरपुर पिकनिक मनाने गया था, इसी दौरान मंदिर दर्शन के पहले बच्चे डैम में उतरकर नहाने लगे। हालांकि स्कूल प्रबंधन का कहना है कि बच्चों ने जबरदस्ती डैम में उतरकर मस्ती शुरू कर दी, हालांकि इस दौरान मौजूद शिक्षकों की उन बच्चों को बाहर निकालने व हिदायत देने को लेकर कोई भूमिका सामने नहीं आयी, जिसका परिणाम ये हुआ की दोनों बच्चे डूब गये।

डिस्क्लेमर (अस्वीकरण) : इस आलेख में व्यक्त किए गए विचार लेखक के निजी विचार हैं. इस आलेख में दी गई किसी भी सूचना की सटीकता, संपूर्णता, व्यावहारिकता अथवा सच्चाई के प्रति ATAL HIND उत्तरदायी नहीं है. इस आलेख में सभी सूचनाएं ज्यों की त्यों प्रस्तुत की गई हैं. इस आलेख में दी गई कोई भी सूचना अथवा तथ्य अथवा व्यक्त किए गए विचार #ATALHIND के नहीं हैं, तथा atal hind उनके लिए किसी भी प्रकार से उत्तरदायी नहीं है.

अटल हिन्द से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।

Leave a Comment

URL