Atal hind
Uncategorized

हरियाणा लाए गए  55 तब्लीगी जमाती में से 52 में कोरोना की पुष्टि

 

निजामुद्दीन से हरियाणा के बाढ़सा लाए गए 55,तब्‍लीगी जमाती में से 52 में कोरोना की पुष्टि।

Nizamuddin brought to floods of Haryana 55
Corona confirmed in 52 of Tablighi Jamati.
 
 

हरियाणा आए  55 तब्लीगी जमाती में से 52 में कोरोना की पुष्टि

 

Corona confirmed in 52 out of 55 Tabligi Jamati coming from Nizamuddin to Haryana

 

झज्जर(अटल हिन्द ब्यूरो ) निजामुद्दीन के तब्लीगी मरकज से हरियाणा के बढ़ासा आए 55 लोगों में से 52 कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। इससे हड़कंप मच गया है। इन लोगों को झज्जर के बाढ़सा स्थित नेशनल कैंसर इंस्टीट्यूट के रिहायशी सदन में आइसोलेशन में रखा गया है। इनके सैंपल की जांच दिल्ली के एम्स में की गई थी। यहां निजामुद्दीन से करीब 118 लोगों को मंगलवार दोपहर लाया गया था। इनमें से 18 लोगों की रिपोर्ट आ गई थी और उनमें से 13 को कोरोना पॉजिटिव पाया गया था।

 

बृहस्पतिवार को 55 लोगों की रिपोर्ट में 52 को कोरोना वायरस पॉजिटिव पाए जाने की पुष्टि हुई। इनमे से अन्य करीब 45 लोगों की रिपोर्ट रात तक आने की संभावना है।उन्हें यहां पर तैयार किए गए बाढ़सा स्थित नेशनल कैंसर इंस्टीट्यूट परिसर में लाया गया। बताया जाता है कि उनको यहां संस्थान के रिहायशी सदन के एक काम्पलैक्स में रखा गया है। जानकारी के अनुसार दिल्ली एम्स में जांच में इनके कोरोना पॉजिटिव होने की पुष्टि हुई है।

 

 

बता दें कि बाढ़सा स्थित थित नेशनल कैंसर इंस्टीट्यूट के रिहायशी सदन में मंगलवार दोपहर बाद तीन बसों में करीब 100 लोगों को दिल्ली से यहां पर लाया गया था। प्रारंभिक तौर पर सामने आया था कि दिल्ली निजामुद्दीन क्षेत्र में सुबह से चल रही प्रक्रिया के तहत ही इन्हें यहां पर शिफ्ट किया गया है। करीब 238 फ्लैट के एक सदन में ठहराए गए इन लोगों के लिए अलग-अलग कमरों में व्यवस्था की गई है। लाए गए लोगों से जुड़ी पूरी व्यवस्था एम्स प्रबंधन के स्तर पर की जा रही है। इसके बाद इनके सैंपल लिए गए। बृहस्पतिवार को इनमें से 55 लोगों की रिपोर्ट आई। 52 लोगों के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई। तीन लोगों की रिपोट नेगेटिव आई। बताया जाता है कि अन्य लोगों की रिपोर्ट भी आज देर रात तक आने की संभावना है।

 

उल्लेखनीय है कि सुबह से दिल्ली के निजामुद्दीन क्षेत्र में चल रही हलचल का असर जिला के बाढ़सा क्षेत्र में भी देखने को मिला है। हालांकि, यहां पर एम्स प्रबंधन पहले भी कोरोना संदिग्धों को लाते हुए उनका उपचार कर रहा है। जिनमें से कुछ के स्वस्थ हो जाने के बाद उन्हें छुट्टी भी दी गई।

5 नए मामले सामने आए,सभी का जमात से कनेक्शन
गुरुवार को 5 नए मामले सामने आए हैं, जो सभी जमात से जुड़े हुए थे। पलवल जिले के हथीन क्षेत्र में धर्म प्रचार कर रहे 3 बांग्लादेशी कोरोना पॉजिटिव मिले हैं, तो अम्बाला में दो दिन पहले मस्जिद से क्वारैंटाइन किए गए दो लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इनमें से एक नेपाल का है तो एक महाराष्ट्र का रहने वाला बताया जा रहा है। पलवल जिला प्रशासन ने 12 लोगों के सैंपल लिए थे,इनमें से 3 पॉजिटिव मिले,7 की रिपोर्ट नेगेटिव आई है जबकि 2 के सैंपल दोबारा मंगाए गए हैं। इन 12 लोगों में से 10 बांग्लादेशी हैं,जबकि दो उनके ट्रांसलेटर थे।

 

इनके संपर्क में रहे 150 से अधिक लोगों की तलाश की जा रही है। इंस्पेक्टर विनोद कौशिक ने बताया कि पलवल के जिला अस्पताल में विदेशी नागरिकों को होने के बाद उनकी सुरक्षा के इंतजाम काफी कड़े कर दिए गए थे। यहां पर 24 घंटे 22 लोगों की ड्यूटी लगाई गई है।पलवल सिविल सर्जन ब्रह्मदीप सिंह ने बताया कि 12 लोगों के सैंपल पीजीआई में टेस्ट के लिए भिजवाए गए थे। बुधवार रात इनकी रिपोर्ट आ गई,3 कोरोना संक्रमित मिले हैं। पीजीआई ने 2 लोगों के ब्लड सैंपल दोबारा मंगाए गए हैं। जबकि 7 लोगों में कोरोनावायरस की नेगेटिव होने की रिपोर्ट आई है। कोरोनावायरस को लेकर अपडेट में पलवल के एक निजी कॉलेज में 162 अन्य लोगों को आइसोलेशन पर रखा गया है।

 

सरपंच किए गए सस्पेंड
डीसी पलवल ने हुंचपुरी,महलूका,दुरैंची,मठेपुर और छांयसा के सरपंचो को बाहर से आने वाले व्यक्तियो की सूचना प्रशासन को ना देने के चलते सस्पेंड कर दिया है। इन 5 गांवों के नम्बरदारों व चौकीदारों को कारण बताओ नोटिस जारी कर दिए गए है। बाहर से आए जमाती इन्हीं गांवों में रूके थे।

Leave a Comment