हरियाणा  में रह रहे प्रवासी लोगों को कहीं नहीं जाना पड़ेगा राज्य सरकार  उनके रहने -खाने का इंतजाम करेगी – मुख्यमंत्री 

हरियाणा  में रह रहे प्रवासी लोगों को कहीं नहीं जाना पड़ेगा राज्य सरकार  उनके रहने -खाने का इंतजाम करेगी – मुख्यमंत्री
 चंडीगढ़ , 29 मार्च(राजकुमार अग्रवाल  ) हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कोरोना वायरस को लेकर वीडियो कांफ्रैंस के माध्यम से सभी उपायुक्तों को आवश्यक दिशा-निर्देश देते हुए कहा कि जिला में दूसरे राज्यों के जितने भी मजदूर लोग रह रहे हैं, उन्हें वहीं रखें। सड़कों पर मुवमेंट नही होनी चाहिए। इन सभी व्यक्तियों के लिए शैल्टर हॉम बनाकर भोजन, पानी, बिजली, मैडिकल चैकअप आदि की व्यवस्था सुनिश्चित करें। दूसरे राज्यों से लगने वाली सीमाओं पर व्यक्तियों का आवागमन पूर्णत: बंद हो। इसके साथ-साथ जरूरी सामान की सप्लाई चलती रहे।
मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि रिलीफ कैंपों के लिए राधा स्वामी सत्संग भवनों का भी इस्तेमाल करें। अलग-अलग जगह बनने वाले रिलीफ कैंप में किसी एक सामाजिक व धार्मिक संस्था को सहयोग के लिए चिन्हित करें। इसके साथ-साथ उस स्थान पर एक नोडल अधिकारी मोनिटरिंग के लिए तथा वहां रह रहे व्यक्तियों के लिए मैडिकल चैकअप की विशेष व्यवस्था करें। उन्होंने कहा कि संस्था की एक कमेटी बनाकर रिलीफ कैंप का दायित्व उन्हें सौंपे। जिला प्रशासन सुरक्षा के कड़े इंतजाम इन कैंपों में करें। रिलीफ कैंपों में रहने वाले सभी व्यक्तियों का पूरा ब्यौरा रखा जाए। उन्होंने कहा कि जितनी भी फैक्ट्रियों में मजदूर काम कर रहे हैं, उन फैक्ट्रियों के संचालक उनकी सैलरी नही काटेंगे, ऐसा करने वाले फैक्ट्री संचालकों के खिलाफ सख्त कार्रवाई अमल में लाई जाए। इसी प्रकार किराए पर रहने वाले मजदूरों से मकान मालिक एक महीनें का किराया नही लें। यदि कोई मकान मालिक किसी मजदूर को किराया नही देने की एवज में निकालता है तो उसके खिलाफ भी आपदा एक्ट के तहत आवश्यक कार्रवाई अमल में लाई जाए। सभी जिलों की सीमाओं में लगे नाकों पर भी पुलिस विभाग सुनिश्चित करें कि इस तरह की मुवमैंट बिल्कुल नही हो। कोई व्यक्ति अगर आता है तो उन्हें तुरंत नजदीक के रिलीफ कैंप में पहुंचाना सुनिश्चित करें और सोशल डिस्टेंस का विशेष ध्यान रखा जाए।
वीडियो कांफ्रेंस के बाद पुलिस महानिदेशक (क्राईम) प्रशांत अग्रवाल ने उपायुक्त सुजान सिंह व पुलिस अधीक्षक शशांक कुमार सावन के साथ बैठक करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल द्वारा दिए गए निर्देशों की सख्ती से पालना हो। रिलीफ कैंपों में सुरक्षा के व्यापक प्रबंध हों। इस दौरान कोई भी बस नही चल रही है, जो भी व्यक्ति दूसरे राज्योंं में जाना चाहते हैं, वह नही जा सकते। उन सभी की व्यवस्था जिला में बनाए जाने वाले विभिन्न रिलीफ कैंपों में की जाएगी। रिलीफ कैंपों में रखे जाने वाले सभी व्यक्तियों का मैडिकल चैकअप हो और उनके भोजन, शौचालय व अन्य मूलभूत सुविधाएं मुहैया हो।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *