Atal hind
चण्डीगढ़  टॉप न्यूज़ राजनीति हरियाणा

हरियाणा में सरपंची के चुनाव में बड़े बदलाव की तैयारी, रोकी सारी पुरानी प्रक्रियाएं

हरियाणा में सरपंची के चुनाव में बड़े बदलाव की तैयारी, रोकी सारी पुरानी प्रक्रियाएं*

चंडीगढ़ (अटल हिन्द ब्यूरो )हरियाणा में अगले साल फरवरी में सरपंची के प्रस्तावित चुनावों को लेकर सरकार ने बड़े स्तर पर तैयारियां शुरु कर दी है। हालांकि पंचायतों स्तर पर निकाले जा रहे ड्रा और कार्यवाही को फिलहाल लंबित रखने के लिए आदेश दिये हैं।प्रदेश में पंचायती राज संस्थाओं जिला परिषद, पंचायत समिति, ग्राम पंचायत के चुनाव होने हैं। इसके लिए सरकार ने महिलाओं को 50 फीसदी आरक्षण देने का फैसला किया है, लेकिन यह विधेयक विधानसभा में पास नहीं हुआ है। ऐसे में अब पंचायती राज सिस्टम में महिलाओं को 50 फीसदी आरक्षण देने के लिए सिस्टम तैयार किया जा रहा है।विकास एवं पंचायत विभाग के प्रधान सचिव ने पंचायती राज संस्थाओं में सीटों के आरक्षण से जुड़े मामले लंबित रखने के आदेश दिए हैं। इस संदर्भ में प्रधान सचिव द्वारा सभी डीसी, जिला विकास एवं पंचायत अधिकारियों व खंड विकास एवं पंचायत अधिकारियों को कहा गया है कि वे आगामी आदेशों तक आरक्षण के मामलों को लंबित रखें।

आपको बता दें कि वर्तमान में पंचायतों में महिलाओं के लिए 33 फीसदी सीटें आरक्षित हैं। पिछड़ा वर्ग व अनुसूचित जाति के लोगों के लिए सीटें रिजर्व की हुई हैं। कौन सी सीट सामान्य रहेगी और कौन सी रिजर्व कैटेगरी में आएगी, इसका फैसला हर साल ड्रा के माध्यम से किया जाता है। अब चूंकि पंचायतों के चुनावों में अधिक समय नहीं है। ऐसे में ग्राउंड स्तर पर यह काम शुरू हो गया था।

इस बीच राज्य सरकार ने पंचायती राज संस्थाओं में महिलाओं को 50 प्रतिशत आरक्षण देने का निर्णय लिया है। ऐसी स्थिति में अब सीटों को भी इसी आधार पर आरक्षित किया जाएगा। इसलिए आरक्षण के मामलों को फिलहाल लंबित किया गया है।

डिस्क्लेमर (अस्वीकरण) : इस आलेख में व्यक्त किए गए विचार लेखक के निजी विचार हैं. इस आलेख में दी गई किसी भी सूचना की सटीकता, संपूर्णता, व्यावहारिकता अथवा सच्चाई के प्रति ATAL HIND उत्तरदायी नहीं है. इस आलेख में सभी सूचनाएं ज्यों की त्यों प्रस्तुत की गई हैं. इस आलेख में दी गई कोई भी सूचना अथवा तथ्य अथवा व्यक्त किए गए विचार #ATALHIND के नहीं हैं, तथा atal hind उनके लिए किसी भी प्रकार से उत्तरदायी नहीं है.

अटल हिन्द से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।

Related posts

haryana सरकार के “ई-सचिवालय” पोर्टल का आम जनता को नही हो रहा कोई फायदा

admin

पश्चिम बंगाल का दुर्भाग्य है कि यहां के चुनावी संग्राम में आए दिन नए विवादों की आग जलाई जाती है

admin

उचाना में हेलीपैड नहीं खुदा दुष्यंत चौटाला की सियासत खुदी है

admin

Leave a Comment

URL