Atal hind
Uncategorized

हरियाणा सरकार के 1950 -1075 सरकारी सम्पर्क नंबर दावे मदद या खेल???हो गए सब फेल 

हरियाणा सरकार के 1950 -1075 सरकारी सम्पर्क नंबर दावे मदद या खेल???हो गए सब फेल 
चंडीगढ़ (अटल हिन्द ब्यूरो )
लॉकडाउन की घोषणा के कुछ समय बाद ही दिल्ली के साथ एनसीआर से भी मजदूरों का पलायन शुरू हो गया था ओर बड़ी संख्या में गुरुग्राम से भी मजदूरों का पलायन हुवा। हालांकि इस मामले पर दिल्ली सरकार को घेरा गया किन्तु एनसीआर के अन्य हिस्सों से हुए पलायन के बारे में किसी ने सवाल नही किये। मजदूरों को जोर जबरदस्ती यहां रोका भी गया। साथ ही खट्टर सरकार ने असंगठित मजदूरों का रजिस्ट्रेशन कर उन्हें हर हफ्ते 1000 रुपये देने का दावे भी किये और उसके लिए एक हेल्प लाइन नंबर 1100 जारी भी किया।इसके अलावा 1950 और  1075 नंबर भी किसी भी एमरजेंसी और सहायता के लिए जारी कर जनता को बताया की आप इस नंबरों पर फोन कर सहायता प्राप्त कर सकते है हरियाणा सरकार का यह कदम बहुत ही सहरानीय था लेकिन सिर्फ सरकारी कागजों में ताकि जनता को बेवकूफ बनाया जा सके अटल हिन्द ने हरियाणा सरकार के इन जनता की सहायता के लिए सार्वजनिक रूप से जारी किये नंबरों पर सम्पर्क करने की कोशिश की वो भी जिला कैथल के एक अधिकारी के सामने उनके कार्यलय में लेकिन यह का हमारे मोबाईल फोन से डायल ये तीनो नंबर मौजूद ही नहीं है शायद हमारा मोबाईल खराब हो इसलिए हमने उसी अधिकारी के कमरे में मौजूद एक अन्य व्यक्ति से इन नबरों को मिलाने के लिए कहा उनके मोबाईल फोन से भी ये नबर मौजूद नहीं थे मतलब नहीं मिले। यानी हरियाणा सरकार केवल कागजों में सब खानापूर्ति करती है और हरियाणा की जनता को सहायता के लिए जारी इस्तेमाल फोन नबंरों के नाम पर सिर्फ और सिर्फ धोखा दे रही है ?

किन्तु नम्बर जारी होने के बाद उसे मिलाया गया तो वो लगा ही नही। IVR पर उसे गलत नंबर बताया जा रहा था। इसके बाद जब आज फिर उस नंबर की पड़ताल की गई तो नंबर लग गया किन्तु 3 अलग अलग लोगो को अलग अलग जवाब मीले जिससे साबित होता है कि खट्टर सरकार द्वारा मजदूरों की मदद का दावा मात्र एक दिखावा है और मजदूरों के साथ छलावा था।
पहली बार फोन करने पर बोला गया कि हमारी साइट काम नही कर रही है तो आप नजदीकी CSC सेंटर जा कर अपना रजिस्ट्रेशन करवा सकते है। अब कोई उनसे पूछे कि लॉकडाउन में जब राशन सब्जी के लिए निकलना मुश्किल हो रहा है ऐसे में गरीब मजदूर शहर में कैसे निकल कर सेंटर ढूंढ कर अपना रजिस्ट्रेशन करवाए? साइट कब तक चालू होगी इसके लिए जवाब मिलता है कि कुछ कह नही सकते।
दूसरे फोन पर बताया गया कि हमने रजिस्ट्रेशन 6 अप्रेल को ही बंद कर दिए है। अब रजिस्ट्रेशन नही होगा। जब बोला गया कि तब तो ये नंबर मिल ही नही रहा था तब बताया गया कि नही चालू था बहुत रजिस्ट्रेशन हुए है।

तीसरे फोन पर पूछा गया कि आपका आधार कार्ड कहा का है तो बताया गया कि बिहार का तो जवाब मिला कि नही हरियाणा के आधार कार्ड पर ही रजिस्ट्रेशन होगा। तो कुल मिला कर ये साबित होता है कि सरकारी दावे खोखले है। वही सवाल ये भी उठता है कि शहर में ज्यादातर असंगठित मजदूर दूसरे प्रदेशों से यहां काम करने आते है ओर हरियाणा की अर्थव्यवस्था में सहयोग करते है ऐसे में क्या इस विपरीत परिस्तिथि में खट्टर सरकार उनकी मदद नही करेगी??जैसे बहुत से मजदूरों को किराए के लिए परेशान किया जा रहा है। और अब उनके पास राशन भी खत्म हो चुका है किंतु मुख्यमंत्री कार्यालय ओर जिला उपायुक्त कार्यालय से बात होने के बाद भी उनतक राशन नही पहुच रहा। ऐसे में सवाल ये भी उठता है कि यहां के सांसद जिन्हें लोग ऐसे समय मे लापता घोषित कर रहे है वही कई विधायक भी नदारद है अधिकारी लोगो के फोन नही उठा रहे ऐसे में लोगो को सुविधा मिलेगी तो कैसे??

 

हैल्प लाईन नंबर पर किया जा सकता है संपर्क
उपायुक्त सुजान सिंह ने कहा कि जिला में हैल्प लाईन नंबर 1950 पर 24 घंटे संपर्क किया जा सकता है। इसके साथ-साथ चिकित्सा संबंधित सहायता के लिए कोरोना वायरस से संबंधित जानकारी के लिए 98963-17010, टोलफ्री नंबर 1075, अन्य बीमारियों के लिए 96460-71332 तथा एंबुलैंस हैल्प लाईन नंबर 108 पर संपर्क कर सकते हैं। इसी प्रकार जरूरतमंदों के खाने की सहायता हेतू शहरी क्षेत्र में 97298-64035, 01746-234220, कलायत के लिए 94166-30078, गुहला के लिए 94163-42435, ग्रामीण क्षेत्रों के लिए 01746-234296, 98967-50084, कैथल व राजौंद खंड हेतू 90507-01774, कलायत, सीवन व गुहला खंड हेतू 97809-39812, पूंडरी व ढांड खंड हेतू 94160-73563 पर संपर्क किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि इसके अलावा कैथल कंट्रोल रूम नंबर 01746-224240 व सिटीजन हैल्प लाईन नंबर 99969-37500 तथा पुलिस कंट्रोल रूम नंबर-85699-85864 पर संपर्क कर सकते हैं।

Leave a Comment