Atal hind
खेल टॉप न्यूज़ हरियाणा

हर्षू ने फ्रीस्टाइल रेसलिंग  चैंपियनशिप के लिए किया क्वालीफाई

हर्षू ने फ्रीस्टाइल रेसलिंग  चैंपियनशिप के लिए किया क्वालीफाई

विनय मार्ग स्पोर्ट्स कंपलेक्स दिल्ली में 27 को  होगा फाइनल

फ्रीस्टाइल रेसलिंग से पहले निशानेबाजी में जीते कई मेडल

फतह सिंह उजाला
पटौदी । 
  पटौदी विधानसभा क्षेत्र के हेलीमंडी नगर पालिका के पूर्व पार्षद एवं वरिष्ठ भाजपा नेता विनोद शर्मा की पुत्री हर्षू शर्मा के द्वारा जो कि दिल्ली शिक्षा विभाग में कार्यरत है ने फ्रीस्टाइल रैसलिंग की चैंपियनशिप के लिए क्वालीफाई किया है । दिल्ली के विनय मार्ग स्पोर्ट्स कंपलेक्स में ऑल इंडिया सिविल सर्विसेज वूमेन फ्रीस्टाइल रैसलिंग का फाइनल 27 मार्च शनिवार को संपन्न होगा।

हेली मंडी क्षेत्र के निवासी वरिष्ठ भाजपा नेता एवं पूर्व पार्षद विनोद शर्मा की पुत्री हर्षू शर्मा की खेलों में बचपन से ही रुचि रही है। रेसलिंग से पहले हर्षू शर्मा शूटिंग अथवा निशानेबाजी में अपनी प्रतिभा का लोहा राज्य, अंतर राज्य और राष्ट्रीय स्तर पर विभिन्न प्रतियोगिताओं में मनवा चुकी है । दिल्ली में शिक्षा विभाग में कार्यरत हर्षू शर्मा के द्वारा ऑल इंडिया सिविल सर्विस विमेन फ्रीस्टाइल रैसलिंग में फाइनल के लिए क्वालीफाई किया जाने की खबर और फोटो उसके द्वारा जब परिजनों को भेजी गई तो इसके बाद से पिता विनोद शर्मा बेहद उत्साहित दिखाई दिए हैं ।

वही जैसे ही यह सूचना गुरुवार देर रात को विनोद शर्मा के जानकार मित्रजनों के बीच में पहुंची तो विनोद शर्मा को बधाई देने का सिलसिला भी आरंभ हो गया। होनहार निशानेबाज से पहलवानी के मैदान में दमखम दिखाने के लिए पुत्री हरशु शर्मा ने कब तैयारी कर ली , इस बात का रहस्य भी हर्षू शर्मा के द्वारा ऑल इंडिया सिविल सर्विस वूमेन फ्री स्टाइल चैंपियनशिप के लिए क्वालीफाई किया जाने के बाद ही खुला है। जिस प्रकार से हर्षू शर्मा के द्वारा शूटिंग अथवा निशानेबाजी में विभिन्न प्रतियोगिताओं में राज्य और राष्ट्रीय स्तर पर मेडल जीते गए । उन्हीं सब उपलब्धियों को ध्यान में रखते हुए वरिष्ठ भाजपा नेता विनोद शर्मा की पुत्री हर्षू शर्मा के द्वारा भी ऑल इंडिया सिविल सर्विस वूमेन फ्रीस्टाइल रैसलिंग में गोल्ड मेडल जीतने की सभी के द्वारा कामना करते हुए हर्षू शर्मा कार प्रोत्साहन किया गया है। जिस प्रकार हर्षू शर्मा के द्वारा शूटिंग – निशानेबाजी के बाद में फ्रीस्टाइल रेसलिंग को चुना गया, इससे उसनें यह भी साबित कर दिया है कि वह किसी भी चुनौतीपूर्ण खेल के लिए पूरी तरह से फिट है।

डिस्क्लेमर (अस्वीकरण) : इस आलेख में व्यक्त किए गए विचार लेखक के निजी विचार हैं. इस आलेख में दी गई किसी भी सूचना की सटीकता, संपूर्णता, व्यावहारिकता अथवा सच्चाई के प्रति ATAL HIND उत्तरदायी नहीं है. इस आलेख में सभी सूचनाएं ज्यों की त्यों प्रस्तुत की गई हैं. इस आलेख में दी गई कोई भी सूचना अथवा तथ्य अथवा व्यक्त किए गए विचार #ATALHIND के नहीं हैं, तथा atal hind उनके लिए किसी भी प्रकार से उत्तरदायी नहीं है.

अटल हिन्द से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।

Related posts

चौटाला का सीएम को सीधा-सीधा चैलेंज बरोदा विधानसभा चुनाव में मेरे सामने लड़ें

Sarvekash Aggarwal

हाथरस कांड-कहानी की शुरुआत होती है 2015 के ग्राम पंचायत चुनाव से

admin

टीबी संक्रमण के सबसे अधिक 26.9 लाख मामले भारत में: रिपोर्ट

Sarvekash Aggarwal

Leave a Comment

URL