Take a fresh look at your lifestyle.
corona

सोशल मीडिया पर फर्जी अंकाउट बनाकर प्रचार-प्रसार करने वालों को जारी किए जाएंगे नोटिस:फुलिया

सोशल मीडिया पर मीडिया सर्टीफिकेशन और मीडिया मोनिटरिंग कमेटी के सदस्यों की निगरानी रहेगी और 24 घंटे सोशल मीडिया, रेडियो व समाचार पत्रों पर पैनी निगाहे रखी जाएंगी

सोशल मीडिया पर फर्जी अंकाउट बनाकर प्रचार-प्रसार करने वालों को जारी किए जाएंगे नोटिस:फुलिया
सोशल मीडिया, रेडियो व समाचार पत्रों पर 24 घंटे रहेगी कमेटी के सदस्यों की निगरानी
कुरुक्षेत्र 6 अक्टूबर
जिला निर्वाचन अधिकारी एवं उपायुक्त डा. एसएस फुलिया ने कहा कि फेसबुक, टवीटर, इंस्टाग्राम, यूटयूब, वाटस एप सहित सोशल मीडिया के अन्य साधनों पर फर्जी अंकाउट बनाकर प्रचार-प्रसार करने वाले उम्मीदवार व सम्मबन्धित व्यक्ति के खिलाफ नोटिस जारी किया जाएगा और नियमानुसार कार्रवाई भी अमल में लाई जाएगी। इतना ही नहीं सोशल मीडिया पर मीडिया सर्टीफिकेशन और मीडिया मोनिटरिंग कमेटी के सदस्यों की निगरानी रहेगी और 24 घंटे सोशल मीडिया, रेडियो व समाचार पत्रों पर पैनी निगाहे रखी जाएंगी।
वे रविवार को उपायुक्त निवास कार्यालय पर मीडिया सर्टीफिकेशन एंड मीडिया मोनिटरिंग कमेटी के सदस्यों की एक बैठक को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि पैड न्यूज, सोशल मीडिया, विज्ञापन, पम्पलेट, बैनर, होर्डिंग्स, हैंडबिल इत्यादि पर नजर रखने तथा इलेक्ट्रोनिक्स चैनल व रेडियो पर विज्ञापन प्रसारण के लिए अनुमति लेने तथा किसी भी प्रकार की पैड न्यूज और विज्ञापनों से सम्बन्धित शिकायत का निवारण करने के लिए लघु सचिवालय के चतुर्थ तल पर जिला सूचना एवं जन सम्पर्क अधिकारी कार्यालय में एमसीएमसी कंट्रोल रुम स्थापित किया गया है और इस कंट्रोल रुम से 24 घंटे 7 दिन निगरानी रखी जा रही है। उन्होंने कहा कि सभी राजनैतिक दलों, प्रत्याशियों को सोशल मीडिया के लिए बनाए गए अंकाउट की जानकारी एमसीएमसी कमेटी को देनी होगी ताकि इस अंकाउट के अनुसार निगरानी रखी जा सके। अगर किसी व्यक्ति या प्रत्याशी ने निर्धारित अंकाउट के बिना फर्जी अंकाउट बनाकर सोशल मीडिया पर प्रचार-प्रसार किया तो उसके खिलाफ कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।
उन्होंने कहा कि प्रिंट मीडिया के लिए विज्ञापन प्रसारण के लिए प्रमाण पत्र लेने की जरुरत नहीं है, लेकिन मतदान से 48 घंटे पहले प्रिंट मीडिया में विज्ञापन देने के लिए एमसीएमसी कमेटी से विज्ञापन प्रकाशित करने का प्रमाण पत्र लेना जरुरी होगा, अगर इन आदेशों की अवहेलना की तो नियमानुसार कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। उन्होंने कहा कि भारत निर्वाचन आयोग की हिदायतों अनुसार चुनाव प्रचार के दौरान विभिन्न राजनैतिक दलों द्वारा प्रसारित करवाए जाने वाले चुनाव विज्ञापनों के प्रसारण की पूर्व अनुमति मीडिया सर्टिफिकेशन एवं मीडिया मोनिटरिंग कमेटी से लेना अनिवार्य है। सभी केबल, इलेक्ट्रोनिक चैनल, सोशल मीडिया एवं एफएम रेडियो संचालक बिना पूर्व अनुमति के कोई भी चुनाव प्रचार सामग्री या विज्ञापन प्रसारित नहीं कर सकता। इन आदेशों की अवहेलना करने पर सख्त कार्यवाही अमल में लाई जाएगी।
उन्होंने कहा कि सम्बंधित उम्मीदवार को विज्ञापन प्रसारण की तिथि से तीन दिन पूर्व कमेटी से अनुमति लेनी होगी। जो केबल एवं एफएम रेडियो संचालक किसी भी दल या अभ्यार्थी का चुनाव प्रचार विज्ञापन जिस भी प्रारूप में अर्थात आडियो या वीडियो में प्रसारित करता है, तो उसकी दो-दो प्रति, प्रसारित अवधि एवं विज्ञापन खर्च का विवरण भी मीडिया सर्टिफिकेशन एवं मोनिटरिंग कमेटी को देना होगा। मीडिया सर्टिफिकेशन एवं मोनिटरिंग कमेटी की अनुमति के बाद ही ऐसे विज्ञापन प्रसारित या प्रसारण किए जा सकेंगे। उन्होंने सभी राजनैतिक दलों एवं चुनाव लडऩे वाले प्रत्याशियों से अपील की कि वे केबल/एफएम रेडियो पर अपने चुनाव प्रचार विज्ञापन प्रसारित करवाए जाने से पूर्व इसकी अनुमति जिला निर्वाचन अधिकारी से अवश्य लें ताकि आदर्श आचार संंहिता की उल्लंघना ना हो। इस मौके पर थानेसर विधानसभा क्षेत्र के रिटर्निंग अधिकारी एवं एसडीएम अश्विनी मलिक, एमसीएमसी कमेटी के सदस्य सचिव एवं डीआईपीआरओ सुरेश सरोहा, डीआईओ विनोद सिंगला, कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय लोक सम्पर्क विभाग के निदेशक प्रोफेसर तिजेन्द्र शर्मा, कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय मास कम्यूनिकेशन निदेशालय के सहायक प्रोफेसर डा. अशोक शर्मा, एआईपीआरओ डा. नरेन्द्र सिंह, ऑल इंडिया रेडियों से स्टेशन इंजीनियर रजत आदि उपस्थित थे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

पोल्ट्री मालिकों को फीड के बाद अब अंड़े के उठान की चिंता सता रही     |     जरूरतमंद व्यक्ति को देंगे नि:शुल्क दवाई : अशोक     |     मची चीख-पुकार सवारियों से भरी टेंपो पलटी दर्जनों  घायल     |     हम सब को एक साथ मिल कर करना है कोरोना महामारी का अंत मेवा सिंह     |     हरियाणा  में रह रहे प्रवासी लोगों को कहीं नहीं जाना पड़ेगा राज्य सरकार  उनके रहने -खाने का इंतजाम करेगी – मुख्यमंत्री      |     गेंहू, सरसों के अलावा फूलों की खेती पर भी राहत पैकेज दें सरकार : प्रमोद सैनी     |     हरियाणा  में रह रहे प्रवासी लोगों को कहीं नहीं जाना पड़ेगा राज्य सरकार  उनके रहने -खाने का इंतजाम करेगी -मुख्यमंत्री      |     सरकार व प्रशासन के निर्देशों का पालन करना प्रत्येक नागरिक का कर्तव्य : गुरविन्द्र सोनू निरंकारी     |     ग्राम पंचायत महुवाखेडी ने एक माह का मानदेय मुख्यमंत्री रिलिफ फंड में देने की कि घोषणा     |     BREKING- HARIYANA-मलबे में दबा परिवार, 7 महीने के बच्चे की मौत     |    

error: Don\'t Copy
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9802153000