Australian पीएम ने मदद से किया इन्‍कार हरियाणा की बेटी सगनदीप ने उठाया बीड़ा

आस्ट्रेलियाई पीएम ने मदद से किया इन्‍कार हरियाणा की बेटी सगनदीप ने उठाया बीड़ा
=ATAL HIND=

atalhindnews@gmail.com

Australian PM denies Haryana’s daughter Sagandeep with help
निसिंग(हरियाणा) आस्ट्रेलिया में रह रही हरियाणा की बेटी सगनदीप को उसकी सेवा की लगन के लिए वहां पढ़ रहे विदेशी विद्यार्थी नमन कर रहे हैं और वह इसकी पूरी हकदार है। सिडनी में आइटी की छात्रा सगनदीप ने आस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन को कहते सुना कि वहां अध्ययनरत विदेशी विद्यार्थियों की मदद करने में वह असमर्थ हैं और ऐसे विद्यार्थी चाहें तो स्वदेश जा सकते हैं। इससे हरियाणा की इस बेटी का मन विचलित हो उठा। उसने आस्‍ट्रेलिया में रह रहे विदेशी विद्यार्थियों की मदद का बीड़ा उठा लिया।

डरता तो वो प्रधानमंत्री था…. इस प्रधानमंत्री से तो दुश्मन थर्राता है…

 

 

सगन की लगन को सभी कर रहे नमन
सगनदीप ने बिना समय गंवाए व्हाट्स एप पर हेल्पिंग एट रिस्क स्टूडेंट्स ग्रुप बना दिया। इसके बाद देखते ही देखते चहुं ओर सेवा की अलख जगने लगी और कारवां बन गया। किसी ने बेघर छात्रों को आश्रय दिया तो किसी ने खाने-पीने की मदद मुहैया कराई। यह सिलसिला अब दिन-रात जारी है।

 

CORONA TEST-Rajsthan-रेपिड टेस्ट के किट घटिया क्वालिटी के पॉजिटिव को भी नेगेटिव बता रहे

 

आस्‍ट्रेलिया में मदद की मुहिम में जुटी सगनदीप
सगनदीप मूलत: करनाल के निसिंग से ताल्लुक रखती है। दो वर्ष से वह सिडनी के आस्ट्रेलियन इंस्टीट्यूट ऑफ इन्फोरमेशन टेक्नॉलोजी में अध्ययनत है। आइटी की पढ़ाई कर रही सगन ने बताया कि पिछले दिनों काेरोना के खौफ से आस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन ने साफ कह दिया कि वह लॉकडाउन में फंसे विदेशी विद्यार्थियों की मदद में असमर्थ हैं और वे स्वेदश जा सकते हैं। उड़ानें रद होने से यह मुमकिन नहीं था।

sex education*बड़े शहरों के नामी पब्लिक स्कूल के कक्षा 8 से 13 तक 78 फीसदी बच्चों ने पोर्न फिल्में देखी ,यौन आक्रमण से ख़ौफ़ज़दा भारत की बेटियां.

 

सगनदीप ने बताया कि यह सुन वह बेचैन हो उठी। उसने तय किया कि हर हाल में इन विद्यार्थियों की मदद करेगी। उसने विदेशी विद्यार्थियाें की मदद के लिए मुहिम छेड़ने की निश्‍चय किया। इसके लिए उसने व्हाट्स एप ग्रुप हेल्पिंग एट रिस्क स्टूडेंट्स बनाया। उसने इसके माध्‍यम से परिचितों और अन्‍य लोगों से मदद की गुहार लगाते हुए इस मुहिम आगे बढ़ाने की अपील की। इसके बाद लोगों ने मदद के हाथ बढ़ाए और इसके लिए सक्रिय हो गए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *