लाॅकडाउन ब्लूप्रिंट हो रहा तैयार,ढील के साथ 15 मई तक बढ़ सकता है  लॉकडाउन

लाॅकडाउन ब्लूप्रिंट हो रहा तैयार,ढील के साथ 15 मई तक बढ़ सकता है  लॉकडाउन

 

Lockdown blueprint ready, loosened lockdown may increase till May 15

 

नई दिल्ली। लॉकडाउन से निकलने के लिए केंद्र सरकार ने ब्लूप्रिंट तैयार करना शुरू कर दिया है। इस ब्लूप्रिंट पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोमवार को सभी मुख्यमंत्रियों से चर्चा करेंगे और उसके बाद इसे अंतिम रूप दिया जाएगा। इसके बाद आगामी बृहस्पतिवार को मोदी एक बार फिर देशवासियों को संबोधित भी करेंगे। सूत्रों के अनुसार केंद्र के ब्लू प्रिंट के अनुसार 3 मई तक जारी लॉकडाउन-2 को 15 मई तक बढ़ाया जा सकता है। कोरोना के हॉटस्पॉट को छोड़कर बाकी क्षेत्रों में ढील धीरे-धीरे बढ़ाई जाती रहेगी। माना जा रहा है कि कोरोना संक्रमण की रफ्तार इसी तरह रही तो लॉकडाउन कम से कम मई के अंत तक जाएगा और 2 जून से ही चीजें सामान्य हो पाएंगी।

INDIA-शर्मनाक :..डॉक्‍टर ने अकेले आधी रात कब्र खोदकर साथी डाक्टर का शव दफनाया

 

सूत्रों का यह भी कहा है कि मोदी सरकार लॉकडाउन को आगे जारी रखने का फैसला राज्य सरकारों पर छोड़ने के पक्ष में है। केंद्र की चिंता यह है कि लोग लॉकडाउन से परेशान होने लगे हैं। सरकार को मिल रही खुफिया रिपोर्ट के अनुसार, खासतौर पर मजदूर वर्ग लॉकडाउन को ज्यादा देर तक बर्दाश्त करने की स्थिति में नहीं है। इसके अलावा आर्थिक गतिविधियां लगभग ठप हो जाने से देश की अर्थव्यवस्था को नुकसान हो रहा है। सरकार दिल्ली और मुंबई के हालात देखकर दुविधा में है।

इस खतरनाक दवा को क्यों बताया जा रहा CORONA का रामबाण, जिसका नहीं कोई वैज्ञानिक आधार

 

 

ढील के साथ 15 मई तक बढ़ेगा लॉकडाउन
सूत्रों के अनुसार मोदी सरकार की कार्ययोजना के अनुसार 3 मई से पूरा लॉकडाउन नहीं खुलने जा रहा। कुछ ढील के साथ इसे 15 मई तक जारी रखने की योजना है। इसके बाद समीक्षा के बाद 15 मई से जून के पहले सप्ताह तक ढील बढ़ाकर स्टेज एक,दो व तीन के अनुसार लॉकडाउन खोला जाएगा। कोराेना पर नियंत्रण होने लगा तो जून के पहले हफ्ते तक पूरा लॉकडाउन समाप्त करने की योजना है,हालांकि सोशल डिस्टेंसिंग,मास्क की अनिवार्यता सितंबर तक जारी रहेगी। सरकार की योजना है कि ईद आने तक ढील बढ़ाई जाये। हालात ठीक रहे तो स्कूल,कॉलेजों के अगस्त के बाद ही खुल पाने की संभावना है।

 

big breking-Haryana सरकार ने एक एक हजार रुपये देने का वायदा किया था  4 लाख 56 हजार  में से 3.15 लाख आवेदन रद्द किये  

 

कई चरणों में खुलेगा परिवहन क्षेत्र
ग्रामीण व गैर हॉटस्पॉट क्षेत्रों में शर्तों के साथ आर्थिक गतिविधियाें की अनुमति के बाद सरकार की प्राथमिकता परिवहन क्षेत्र खोलने की है। इसमें हवाई यात्रा, ट्रेन और सड़क परिवहन शामिल है। सूत्रों के अनुसार एयरपोर्ट, दिल्ली मेट्रो आदि की सुरक्षा व्यवस्था संभाल रही सीआईएसएफ के डीजी ने सरकार को आगाह किया है कि परिवहन क्षेत्र को एक साथ खोल देने से भगदड़ की स्थिति पैदा हो सकती है। इसलिए सरकार की योजना है कि पहले चरण में प्रमुख महानगरों की हवाई यात्रा चुनींदा मार्गों पर खोली जाये। मसलन, दिल्ली, मुंबई, दिल्ली, बेंगलुरू। इसी तरह रेलवे में सबसे पहले राजधानी को खोला जाये। शहरों में सार्वजनकि परिवहन के लिए ऑड-ईवन का फार्मूला प्रयोग में लाया जा सकता है। दिल्ली मेट्रो की एक-एक लाइन को कुछ दिनों के अंतराल पर शुरू करने का प्रस्ताव है। मॉल,सिनेमाघर आदि को खुलने के लिए अभी इंतजार करना पड़ेगा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *