Take a fresh look at your lifestyle.
corona

25 सालों से जातीय भावनाओं में बहकर आजाद प्रत्याशी जीताकर ठगा सा महसूस कर रहे हैं पूंडरी के मतदाता

भावनाओं में बहकर लोगों ने आजाद प्रत्याशी तो बनाए, लेकिन ये किसी भी काम नहीं आए हैं। विधानसभा में ये लोग एक कौने में बैठे रहते हैं।

अबकी बार सत्ता में भागेदारी चाह रही पूंडरी की जनता
25 सालों से जातीय भावनाओं में बहकर आजाद प्रत्याशी जीताकर ठगा सा महसूस कर रहे हैं यहां के मतदाता
पूंडरी (कैथल)।
पूंडरी विधानसभा की सियासी फिजा में बड़ा बदलाव आने लगा है। इस दफा यहां के मतदाता भाजपा के नारे अबकी बार 75 पार में अपनी विधानसभा को शामिल कराने के लिए एकजुट हो गए हैं। अबकी बार मतदाता यहां से जातीय जहर को खत्म करने का पूरी तरह से मन बना चुके हैं। इस जातीय जहर के कारण यहां 25 सालों से आजाद प्रत्याशी बनते आ रहे हैं। भावनाओं में बहकर लोगों ने आजाद प्रत्याशी तो बनाए, लेकिन ये किसी भी काम नहीं आए हैं। विधानसभा में ये लोग एक कौने में बैठे रहते हैं। जनता काम मांगती तो इनका एक ही रटारटाया जवाब रहता है कि उनकी प्रदेश में सरकार नहीं है। उनके काम नहीं हो पाते। ऐसे में आजाद प्रत्याशी बनाने का नुकसान कितना होता है, इस बात को पूंडरी की जनता से ज्यादा कोई नहीं जानता। आजादों के चक्कर में अपने बच्चों का भविष्य अंधकार में झोंक चुके पूंडरी के लोग इस बार अपने प्रतिनिधि को सीधे सरकार में भेजना चाहते हैं।
पूंडरी के लिए इस बार अच्छी बात यह है कि भाजपा ने इस बार एक बड़े कद्दावर नेता वेदवाल एडवोकेट को यहां से अपना उम्मीदवार बनाया है। प्रदेश महामंत्री वेदपाल की पार्टी हाईकमान से अच्छी-खासी पकड़ है, इस बात को सब जानते हैं। पार्टी हाईकमान की तरफ से ढांड में आए केंद्रीय राज्यमंत्री कृष्ण पाल गुर्जर यह बात खुलकर कह चुके हैं कि पार्टी में बड़ा खूंटा है। चुनाव जीतकर वेदपाल विधानसभा में पहुंचेंगे तो वहां भी उनके लिए बड़ा उपहार तैयार है। अब तो पूंडरी के लोगों की यह बात में समझ आ गई और उनके साथ समर्थकों का बड़ा लावलश्कर लग गया है। गांव दर गांव डाक्टर वेदपाल के समर्थन में हुजूम उमड़ने लगे हैं। बडे़ सर्वों और सट्टा बाजार में वेदपाल की जीत तय की हुई है।

बाक्स
वेदपाल 36 बिरादरी के सहयोग से बढ़ रहे हैं आगे
भाजपा प्रत्याशी वेदपाल 36 बिरादरी को साथ लेकर चल रहे हैं। चुनावी मैदान में कुछ प्रत्याशी ऐसे भी हैं, जो केवल जाति के नाम पर वोट मांग रहे हैं। जाति के दम पर कभी चुनाव नहीं जीते जा सके, इस बात से पूंडरी के लोग अच्छी तरह से वाकिफ हैं। शनिवार देर रात पूंडरी शहर, फतेहपुर और पबनावा गांव में उमड़ी भीड़ ने तो वेदपाल की जीत पर मुहर लगा दी है।

बाक्स
पूंडरी की जनता मोदी के करेगी हाथ मजबूत
पूंडरी के लोग देश के साथ कदम से कदम मिलाकर चलना चाहते हैं और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हाथों को मजबूत कर रहे हैं। नरेंद्र मोदी ने देशभर में भारत की शान बढ़ाई है। दुनिया भर में आज भारत का ढंका भज रहा है। नरेंद्र मोदी सरकार ने कश्मीर से धारा 370 को तोड़कर अपने वादे एक देश, एक विधान को पूरा कर दिया है। जबकि कांग्रेस पार्टी ने मोदी सरकार के इस फैसले के खिलाफ रही है। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के रवैये से तो पाक को फायदा मिला है। ऐसे में पूंडरी के लोग विधानसभा चुनाव में कांग्रेस को सबके सिखाने के लिए मैदान में स्वयं डट गए हैं। मुख्यमंत्री मनोहर लाल के पांच साल के शासन में कोई उंगली नहीं उठी है। प्रदेश में गुंडागर्दी नहीं चलने दी। दलालों का सफाया किया गया। बगैर पैसे दिए योग्य युवकों को नौकरियां मिली। पूर्व सरकारों की तरह किसानों की जमीन नहीं लूटी गई।

जबर्दस्त भीड़ उमड़ रही वेदपाल के स्वागत में
पूंडरी हलके के गांवों में जनसम्पर्क के दौरान भाजपा प्रत्याशी को जबर्दस्त समर्थन मिल रहा है। राविबार को उन्होंने हलके के सोलूमाजरा, बरोट, खेड़ी रायवाली समेत कई अन्य गांवों में जनसम्पर्क किया।
ग्रामीणों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि पिछले 25 सालों से विकास के मामले में पिछड़ रहे पूंडरी हलके की जनता को उनका हक दिलाने के लिए जी-जान लगा दूंगा। उन्होंने लोगों से जीत का आशीर्वाद माँगा। सोलूमाजरा में सैकड़ों की संख्या में लोग वेदपाल एडबोकेट के स्वागत के लिए पहुंचे। वेदपाल ने कहा कि जिस प्रकार जनता का स्नेह उन्हें मिल रहा है, उससे यह तय है कि हमारी जीत बड़े अंतर से होगी। उन्होंने कहा कि विधानसभा में पहुंचकर हलके की उम्मीदों पर खरा उतरूंगा। चाहे मामला सब डिवीजन बनाने का हो या कोई अन्य। हलके की हर लंबित मांग को विशेष प्रयास करके पूरा कराया जायेगा।
बीती रात करनाल रोड पर पूंडरी में आयोजित जनसभा में वेदपाल एडबोकेट ने कहा कि निर्दलीय की परिपाटी के कारण ही हलका विकास के मामले ने पिछड़ा है। सरक्तर में भागीदारी होगी तो विकास कार्य तेजी से होंगे।
इस दौरान पूर्व विधायक तेजबीर सिंह, ईशम सिंह साकरा, सुखविंदर गोरसी, सरदार पलविंदर सिंह, कृष्ण शर्मा पिलनी, सोलूमाजरा के पूर्व सरपंच जयसिंह गुर्जर,ओम प्रकाश गुर्जर, बलकार गुर्जर, मंडल महामंत्री विनोद राणा, सुल्तान कौल, रामफल टीक, राजेंद्र शर्मा सिरसल, बलकार खेपड़, विनोद बंसल, श्रवण सिंगला, वीना सेठी, परवीन गोलन, नसीब पांचाल, जगीर सैन, जीतेंद्र राणा, सतपाल चौहान आदि मुख्य रूप से उपस्थित रहे।

सोलूमाजरा के पूर्व सरपंच इनेलो छोड़ भाजपा में आए
सोलूमाजरा के पूर्व सरपंच जयसिंह गुर्जर रविवार को खुलकर भाजपा प्रत्याशी के समर्थन में आ गए। जय सिंह गुर्जर पिछले 20 साल से इनेलो के साथ जुड़े रहे हैं।

भाजपा प्रत्याशी को समर्थन देते सोलूमाजरा के पूर्व सरपंच जय सिंह गुर्जर।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

दंबंगों ने वृद्ध के नाजुक अंगों के साथ किया….     |     कैथल जिले में वितरित की जाने वाली गेहूं  मत खाना ,वरना ,,,     |     E PAPER     |     कैथल जिले में बिना मास्क कोरोना से लड़ेंगी आशा वर्कर ?     |     4 अप्रैल 2020 का राशिफल:: शनिदेव की विशेष कृपा से इन राशियों के लिए आज का दिन होने वाला हैं बेहतरीन..!!!     |     hariyana-राजनेताओं & अधिकारियों ने कोरोना को लेकर कैसे उड़ाई PM मोदी आदेशों/निर्देशों की धज्जियां?     |     मस्जिदों के गेट पर ताले और खाकी वाले बने रखवाले !     |     हरियाणा में   प्रवासी मजदूर हो रहे है डिप्रेशन का शिकार, स्वास्थ्य महकमे ने इस तरह संभाला मोर्चा     |     कैथल का बेटा ऑस्ट्रेलिया में ब्रेन ट्यूमर से जूझ रहा, मां ने पीएम मोदी से लगाई गुहार     |     दुष्यंत चौटाला का  तुगलकी फरमान,लोक डाउन के दशवें दिन जागे कुंभकरणी नींद से     |    

error: Don\'t Copy
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9802153000