Take a fresh look at your lifestyle.
corona

हरियाणा पुलिस को बड़ा झटका, हनीप्रीत पर नहीं चलेगा देशद्रोह का केस

हरियाणा पुलिस को बड़ा झटका, हनीप्रीत पर नहीं चलेगा देशद्रोह का केस(Huge shock to Haryana Police, treason case will not run on Honeypreet)
-अतिरिक्त सेशन जज की कोर्ट ने हटाई देशद्रोह (Treason)की धाराएं, आरोप तय
-इससे पहले ही हट चुकी हैं दूसरी एफआइआर में देशद्रोह की धारा
पंचकूला
हरियाणा पुलिस द्वारा पंचकूला में 25 अगस्त 2017 को हुई हिंसा में मुख्य आरोपित हनीप्रीत पर लगाई गई देशद्रोह की धाराओं को पंचकूला के अतिरिक्त सेशन जज संजय संधीर की अदालत ने हटा दिया है। इस मामले में बहस के बाद शनिवार को आरोप तय कर दिये गये। एफआइआर नंबर 345 में हनीप्रीत(Honeypreet) सहित सभी आरोपियों पर से देशद्रोह की धारा हटा दी गई है। हनीप्रीत व अन्य आरोपितों धारा 121 व 121ए हटाते हुए अब धारा 216, 145, 150, 151, 152, 153 और 120बी के तहत आरोप तय किये गये हैं। डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत सिंह की सबसे बड़ी राजदार हनिप्रीत सहित सभी आरोपितों पर पंचकूला हिंसा मामले में आज सुनवाई हुई। हनीप्रीत को विडियो कॉन्फ्रेंसिंग के ज़रिए पेश किया गया।
यह एफआइआर(FIR) 28 अगस्त को दर्ज की गई थी, जिसमें पंचकूला (PANCHKULA)में हुई हिंसा का आरोप सुरेंद्र धीमान और डा. आदित्य पर लगा था। एफआइआर नंबर 345 में हनीप्रीत के अलावा सुरेंद्र धीमान, गुरमीत, शरणजीत कौर, गोविंद, प्रदीप कुमार, गुरमीत कुमार, दान सिंह, सुखदीप कौर, सीपी अरोड़ा, खरैती लाल, चमकौर, राकेश, दिलावर सिंह भी आरोपी है, जिनके खिलाफ चार्जशीट कोर्ट में पेश हो चुकी है। हनीप्रीत के खिलाफ दाखिल की गई चार्जशीट में कुल 67 गवाह बनाए गए हैं, जिनमें से ज्यादातर पुलिस के लोग हैं। हनीप्रीत और दूसरे आरोपियों के खिलाफ पंचकूला के सेक्टर-5 पुलिस थाने में 27 और 28 अगस्त को आइपीसी की धाराओं 121, 121ए, 216, 145, 150, 151, 152, 153 और 120बी के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई थी। जिसमें कहा गया है कि आरोपितों ने राम रहीम को छुड़वाने की साजिश रची और हिंसा की। इसमें 32 लोगों की मौत हुई और 200 घायल हो गए थे। इस एफआइआर में हरियाणा पुलिस ने कई मोस्ट वांटेड डा. आदित्य को गिरफ्तार करना बाकी है। 25 अगस्त 2017 को डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम के साथ पंचकूला आई गाडिय़ों के बारे में डेरा की चेयरपर्सन विपासना ने पंचकूला पुलिस की ओर से मांगी गई जानकारियां उपलब्ध करवा दी थी। विपासना ने डेरे से संबंधित 8 गाडिय़ों के बारे में सूचना दे दी थी। साथ ही उनके साथ आये लोगों के बारे में भी जानकारी दी है। इन गाडिय़ों में 25 अगस्त को कौन-कौन आए थे और गाडिय़ों को कौन चला रहा था, इस बारे में भी विपासना की ओर से डिटेल जवाब पंचकूला पुलिस को थमा दिया गया था। इसके बाद तीन -चार नोटिस देने के बाद एक बार विपासना पंचकूला पुलिस के समक्ष पेश हुई थी।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

हरियाणा पुलिस ने “डीएसपी के रीडर“ को मोर बनाया     |     Coronavirus :india राज्यवार मरीजों की संख्या, अब तक आंकड़ा 850 से पार     |     अमेरिका में  1,00,000 से ज्यादा संक्रमित, 1500 से अधिक लोगों की मौत     |     दिल्ली से यूपी के लिए 200 बसों का इंतजाम     |     पानीपत ब्रेकिंग*पत्नी, पुत्री और पुत्र की गोली मारकर हत्या, फिर की खुदकुशी     |     e paper     |     हरियाणा  एक दिन में 800 कोरोनावायरस संदिग्ध मिले, 11671 पहुंचे आइसोलेशन में     |     बड़ी लापरवाही: 15 लाख लोग विदेशों से आए सबकी नहीं हुई जांच     |     फरीदाबाद के प्राईवेट स्कूल मॉडर्न विद्या निकेतन स्कूल की धींगा मस्ती कहा फीस जमा करवाओ      |     hisaar-भाई के निधन के बाद घर के बाहर लिखाशोक व्यक्त करने न आएं,  लॉकडाउन तोड़कर      |    

error: Don\'t Copy
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9802153000