Faridabad-गाय के ऊपर हाफ मर्डर का आरोप लगने से हरियाणा में हड़कंप, पुलिस भी हैरान

गाय के ऊपर हाफ मर्डर का आरोप लगने से हरियाणा में हड़कंप, पुलिस भी हैरान (Harassment in Haryana due to allegations of half-murder on cows, police also shocked)

फरीदाबाद:

एनआईटी फरीदाबाद विधानसभा क्षेत्र में आज उस समय हड़कंप मच गया जब लोगों को जानकारी मिली की एनआईटी के विधायक पंडित नीरज शर्मा के भाई मुनेश शर्मा को पुलिस ने हिरासत में लिया है। तुरंत ही एनआईटी में चर्चे शुरू हो गए कि मुनेश शर्मा ने शायद अपनी जिंदगी में कभी मक्खी मच्छर में नहीं मारे होंगे फिर किस कारण पुलिस ने हिरासत में उन्हें लिया है। जैसे ही लोगों तक ये बात पहुँची लोग सीआईए बड़खल के दफ्तर के बाहर एकत्रित होने लगे और लगभग 8 बजे आलम ये हो गया कि श्री सिद्धाता आश्रम से लेकर सीआईए बड़खल के दफ्तर के बाहर तक जाने वाला रोड जाम हो गया।(Thousands of people had reached and discussions were also there that Munesh Q was detained as his cow) हजारो लोग पहुँच गए थे और चर्चाएं यही वहाँ भी थी कि अपना गउ जैसा मुनेश क्यू हिरासत में लिया गया। कुछ लोगों का कहना था कि विधानसभा चुनावों के मतदान के दिन भी मुनेश को कुछ लोगों ने एक स्कूल में धमकी दी लेकिन मुनेश ने उन्हें जबाब नहीं दिया चुपचाप वहाँ से चले गए। चर्चाएं ये भी थीं कि 20 तारिख की रात्रि में मुनेश शर्मा के भाई एवं एनआईटी के वर्तमान विधायक नीरज शर्मा पर हमला हुआ और कुछ लोगों का कहना है कि उन पर हाथ भी उठाया गया था लेकिन वो पुलिस के पास नहीं गए।
इस मामले की बात करें तो कल एक वीडियो वाइरल हुआ था और बताया गया कि कांग्रेस के लोगों ने (Former MLA Nagendra Bhadana’s office was attacked)पूर्व विधायक नागेंद्र भड़ाना के दफ्तर पर हमला किया था। फिर उस रात्रि का भी वीडियो वाइरल हुआ और कहा गया कि पहले हमला नीरज शर्मा पर हुआ था। भड़ाना के दफ्तर पर जब हमला हुआ तो उसमे कुछ युवक तोड़फोड़ करते दिख रहे हैं और कहा जा रहा है कि गोली भी चलाई गई लेकिन उस वीडियो में मुनेश शर्मा कहीं बन्दूक चलाते नहीं दिख रहे हैं और न ही नीरज और न ही वो लोग जिन्हे आज हिरासत में लिया गया था।
मुनेश शर्मा की बात करें तो इन्होने शायद ख्वाब में भी कभी बन्दूक नहीं चलाया होगा। यही वजह है कि सीआईए बड़खल के दफ्तर के बाहर आज एनआईटी क्षेत्र के अलांवा भी कई क्षेत्रों के लोग इसलिए मौजूद थे क्यू कि मुनेश शर्मा कई समाजसेवी संस्थाओं से जुड़े हैं और पूरे जिले में संस्थाओं के कार्यक्रम में आते जाते रहते हैं।

वाइरल वीडियो के बाद जो एफआईआर दर्ज हुई है उसमे शायद हाफ मर्डर यानी धारा 307 लगाई गई है और एनआईटी में जब पता चला कि मुनेश शर्मा को धारा 307 के तहत हिरासत में लिया गया है तो लोग कहने लगे कि एक गाय पर हाफ मर्डर का आरोप लगा है(Munesh Sharma has been detained under section 307, then people started saying that a cow has been accused of half murder)। लोगों का कहना था कि जिंदगी में मुनेश शर्मा ने किसी को गाली भी नहीं दी होगी हाँ वो गाली सुन लिए होंगे लेकिन उन्होंने गाली का जबाब गाली से नहीं दिया होगा तो उनके ऊपर हाफ मर्डर??? लोगों को विश्वाश नहीं हुआ और लोग सीआईए बड़खल दफ्तर के बाहर पहुँच गए और लोगों में उत्सुकता ये देखने को थी कि गाय के ऊपर हाफ मर्डर का आरोप कैसे लग सकता है? सीआईए बड़खल दफ्तर के आस पास शहर की क्राइम ब्रांच के कई अधिकारी भी हैरान दिखे और कहा कि मुनेश ऐसा नहीं कर सकता।
ठीक उसी दौरान हरियाणा कांग्रेस अध्यक्ष कुमारी सैलजा ने कई ट्वीट किये और मुनेश की हिरासत की खबर पूरे प्रदेश में पहुँच गई। चर्चाएं ये भी थीं कि अगली बार प्रदेश में कांग्रेस की सर्कार बनेगी और तीन जिलों में कांग्रेस के इकलौते विधायक नीरज शर्मा अगली बार मंत्री बनेंगे और फिर???
कई तरह की बातें चलीं लेकिन बड़खल क्राइम ब्रांच के प्रभारी इंस्पेक्टर विमल कुमार को एक अच्छा पुलिस अधिकारी कहा जाता है और कहा जाता है कि उनमे सूझबूझ है और वो किसी के साथ अन्याय नहीं होने देते। लगभग 8 बजकर 30 मिनट पर मुनेश शर्मा सीआईए बड़खल के दफ्तर से बाहर निकले तब उनके समर्थक खुश हुए।
इस मामले की बात करें तो फरीदाबाद पुलिस का कहना है कि दिनांक 25 अक्टुबर को धारा 148 ,149, 427,452, 506 IPC व आर्म्स एक्ट के तहत थाना सारण में दर्ज एफआईआर 376 के संबंध में क्राइम ब्रांच बडकल द्वारा मुनेश शर्मा एवं तीन अन्य व्यक्तियों को पूछताछ के लिए बुलाया गया था।

एसपी क्राइम अनिल कुमार ने बताया कि पूछताछ के बाद सभी को फारिग कर दिया गया है। इस केस के संबंध में तफ्तीश के दौरान साक्ष्यों के आधार पर जरूरत पड़ी तो उनको पूछताछ के लिए भविष्य में भी बुलाया जा सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: