Atal hind
Uncategorized

25 वर्ष बाद डीसीआरयूएसटी में एक साथ होगें 75 दोस्त  हॉस्टल व क्लासरूम में पहुंचकर करेंगे पुरानी यादें ताजा

25 वर्ष बाद डीसीआरयूएसटी में एक साथ होगें 75 दोस्त
हॉस्टल व क्लासरूम में पहुंचकर करेंगे पुरानी यादें ताजा
17 नवंबर को डीसीआरयूएसटी में होगा पूर्व छात्र मिलन समारोह
रणबीर सिंह रोहिल्ल्ला, सोनीपत।
25 वर्ष पूर्व छोटू राम इंजीनियरिंग कॉलेज से पासआऊट 75 पूर्व विद्यार्थी एक बार फिर दीनबंधु छोटूराम विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, मुरथल में एक साथ रहेंगे। इनमें से कई विद्यार्थी अमेरिका से आएंगे तो हैदराबाद कोई विद्यार्थी  महाराष्ट्र से आएगा। अवसर है डीसीआरयूएसटी में 16 व 17 नवंबर को आयोजित होने वाली एलुमनाई मीट का।
तत्कालीन छोटूराम इंजीनियरिंग कॉलेज के 1990 से 1994 बैच के इलैक्ट्रानिक्स, कंप्यूटर, इलैक्ट्रिकल, मैकेनिकल व कैमिकल इंजीनियरिंग के पूर्व छात्र विश्वविद्यालय में एक बार फिर एकत्रित होंगे। अब 25 साल पहले के बैच के 75 दोस्त फिर एक साथ विश्वविद्यालय में एक साथ मिलकर अपनी पुरानी यादें ताजा करेंगे। इनमें कुछ महिलाएं भी हैं, जिन्होंनें विभागाधिकारियों से कहा कि वो फिर से लड़कियों के हॉस्टल में ही रहेंगी ताकी वो अपनी 25 वर्ष पुरानी यादें उसी जगह रहकर ताजा करें। पूर्व छात्र मिलन समारोह के दौरान वर्तमान विद्यार्थी अपनी सांस्कृतिक प्रस्तुति भी देंगे। इसके अतिरिक्त पूर्व छात्रों एवं वर्तमान विद्यार्थियों के बीच में बास्केटबाल का मैच भी आयोजित किया जाएगा। पूर्व विद्यार्थी दीनबंधु छोटू राम विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय का दौरा करेंगे। इस दौरान वे विश्वविद्यालय में उपलब्ध करवाई जा रही सुविधाओं के बारे में भी जानकारी लेंगे। पूर्व छात्र विश्वविद्यालय के वर्तमान छात्रों से भी बातचीत करेंगे, तथा उनके साथ अपने जीवन के अनुभव साझा करेंगे, ताकि वर्तमान विद्यार्थी स्वयं को वैश्विक प्रतिस्पर्धा के लिए तैयार कर सकें। विश्वविद्यालय ने पूर्व छात्र मिलन समारोह की तैयारियां पूर्ण कर ली हैं। विश्वविद्यालय द्वारा पूर्व छात्रों का स्वागत किया जाएगा।
कुछ पूर्व छात्रों को छुट्टियों में भी हॉस्टल में रहना था पसंद
पूर्व छात्र अपने क्लास रूम का दौरा भी करेंगे, जहां पर बैठकर उन्होंने अध्ययन कर आज इस मुकाम पर पहुंचे हैं। इसके अतिरिक्त हॉस्टलों का दौरा भी करेंगे, जहां पर वे लंबे समय तक घर से दूर रहे थे।  छात्र मिलन समारोह में भाग लेने वाले पूर्व विद्यार्थियों के साथ उनके परिवार भी आएंगे, ताकि वे अपने बच्चों का ये दिखा सकेगे कि उन्होंने कहा और कैसे रहकर अध्ययन किया। तत्कालीन छोटूराम इंजीनियरिंग कॉलेज के कुछ पूर्व छात्रों को हॉस्टल में रहना इतना अच्छा लगता था कि वे अवकाश के दिनों में भी घर नहीं जाते थे। वे केवल फीस लेने के लिए ही घर जाना पसंद करते थे। एक पूर्व छात्र ने बताया कि उस समय सडक़ पर वाहन कम होते थे, जिस कारण उनका एक ग्रुप दो पहिया वाहन पर मसुरी व शिमला भी घुम आए थे।
पूर्व छात्र करते हैं एक दूसरे की मदद
25 वर्ष पूर्व तत्कालीन छोटूराम इंजीनियरिंग कॉलेज से पास आऊट विश्वविद्यालय के पूर्व छात्र एक दूसरे से निरंतर न केवल संपर्क में रहते हैं, अपितु एक दूसरे की मदद के लिए तैयार भी रहते हैं। 1990 से 94 बैच के एक साथी की मौत होने पर एक पूर्व छात्र ने मृतक परिवार के दोनों बच्चों की स्नातक तक की शिक्षा का जिम्मा भी उठा लिया है। ताकि उनके साथी के बच्चे पढ लिखकर अपने परिवार का अच्छी तरह से भरण पोषण कर सकें।
75 पूर्व छात्रों में से कुछ पूर्व छात्रों का परिचय
पूर्व छात्र अमित गर्ग, राजेंद्र देशवाल, सुरेंद्र यादव, राजेश मलिक, हरिश मखीजा व संदीप गुप्ता व्यसायी हैं तो वहीं दूसरी तरफ भारतीय प्रशासनिक सेवा में आशीष बत्रा व संदीप गुप्ता कार्यरत हैं। कर्नन अनिल कुमार वर्मा देश की सेना में कर्नल के पद पर कार्यरत हैं। वहीं विनीत सैनी केंद्र में विज्ञान एवं तकनीकि विभाग में वरिष्ठ पद पर कार्यरत है। अनुराग वर्मा, सुरेंद्र अहलावत व विकास कपूर प्रतिष्ठित कंपनियों में अहम पदों पर कार्यरत हैं।

डिस्क्लेमर (अस्वीकरण) : इस आलेख में व्यक्त किए गए विचार लेखक के निजी विचार हैं. इस आलेख में दी गई किसी भी सूचना की सटीकता, संपूर्णता, व्यावहारिकता अथवा सच्चाई के प्रति ATAL HIND उत्तरदायी नहीं है. इस आलेख में सभी सूचनाएं ज्यों की त्यों प्रस्तुत की गई हैं. इस आलेख में दी गई कोई भी सूचना अथवा तथ्य अथवा व्यक्त किए गए विचार #ATALHIND के नहीं हैं, तथा atal hind उनके लिए किसी भी प्रकार से उत्तरदायी नहीं है.

अटल हिन्द से जुड़ने के लिए शुक्रिया। जनता के सहयोग से जनता का मीडिया बनाने के अभियान में कृपया हमारी आर्थिक मदद करें।

Leave a Comment

URL