Take a fresh look at your lifestyle.
corona

SC के फैसले के बाद एक घंटे में पलटा गेम?,क्या इस्तीफा देंगे अजीत पवार ! बैठक में NCP ने कहा- इस्तीफा दें, अजित पवार बोले- थोड़ी देर में बताता हूं

SC के फैसले के बाद एक घंटे में पलटा गेम?,क्या इस्तीफा देंगे अजीत पवार ! बैठक में NCP ने कहा- इस्तीफा दें, अजित पवार बोले- थोड़ी देर में बताता हूं
मुंबई 26 नवंबर 2019। महाराष्ट्र की सियासी उथल-पुथल के बीच एक बड़ी खबर आ रही है। अजित पवार अपने इस्तीफे पर कुछ देर में फैसला ले सकते हैं। अब से कुछ देर पहले अजित पवार की प्रफुल्ल पटेल, छगन भुजबल से मुलाकात हुई है, जिसके बाद इस्तीफे को लेकर अटकलें लगने लगी है। एक गुप्त जगह पर एनसीपी के शीर्ष नेताओं के साथ अजित पवार की बैठक हुई है। बैठक में अजित पवार को इस्तीफा देने को कहा गया, जिस पर उन्होंने जल्द फैसला लेने की बात कही ।
इधर एनसीपी के शीर्ष नेताओं के साथ बैठक के तुरंत बाद अजित पवार मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस से मुलाकात करने के लिए पहुंचे। खबर लिखे जाने तक अजित पवार अभी वर्षा यानि मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस के आवास पर मौजूद हैं जहां भाजपा नेताओं के साथ अजित पवार के बातचीत चल रही है।

सूत्रों की मानें तो एनसीपी नेताओं ने अजित पवार से इस्तीफा देने की मांग की है. जिसपर अजित पवार ने कहा है कि वह जल्द ही कोई फैसला लेंगे. गौरतलब है कि अजित पवार ने अभी तक उपमुख्यमंत्री पद का कार्यभार भी नहीं संभाला है और कुछ ही देर पहले उन्होंने सुप्रिया सुले से मुलाकात की. अजित पवार से मिलने के बाद प्रफुल्ल पटेल ने कहा कि हमने उनसे इस्तीफा देने को कहा है, अजित पवार ने हमें कुछ समय में जवाब देने को कहा है.
सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद महाराष्ट्र में पूरी राजनीतिक तस्वीर बदलती दिख रही है. उपमुख्यमंत्री अजित पवार ने मंगलवार सुबह एनसीपी नेताओं से मुलाकात की, जिसमें प्रफुल्ल पटेल, सुप्रिया सुले जैसे नेता शामिल रहे. प्रफुल्ल पटेल ने बैठक के बाद कहा है कि हमने इस्तीफा मांगा है, जिसपर अजित पवार ने जल्द जवाब देने को कहा है. एनसीपी नेताओं से मिलने के बाद अजित पवार सीधे देवेंद्र फडणवीस से मिलने पहुंचे हैं. दूसरी ओर शरद पवार भी उस होटल में पहुंचे हैं, जहां पर एनसीपी के नेता मौजूद हैं.

सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने ट्वीट किया है. उन्होंने अदालत के फैसले का स्वागत किया है और लिखा कि लोकतांत्रिक मूल्यों और संवैधानिक सिद्धांतों को बनाए रखने के लिए मैं SC के प्रति आभारी हूं. ये काफी खुशी कि बात है कि महाराष्ट्र का फैसला संविधान दिवस के दिन आया है.

Leave A Reply

Your email address will not be published.

पोल्ट्री मालिकों को फीड के बाद अब अंड़े के उठान की चिंता सता रही     |     जरूरतमंद व्यक्ति को देंगे नि:शुल्क दवाई : अशोक     |     मची चीख-पुकार सवारियों से भरी टेंपो पलटी दर्जनों  घायल     |     हम सब को एक साथ मिल कर करना है कोरोना महामारी का अंत मेवा सिंह     |     हरियाणा  में रह रहे प्रवासी लोगों को कहीं नहीं जाना पड़ेगा राज्य सरकार  उनके रहने -खाने का इंतजाम करेगी – मुख्यमंत्री      |     गेंहू, सरसों के अलावा फूलों की खेती पर भी राहत पैकेज दें सरकार : प्रमोद सैनी     |     हरियाणा  में रह रहे प्रवासी लोगों को कहीं नहीं जाना पड़ेगा राज्य सरकार  उनके रहने -खाने का इंतजाम करेगी -मुख्यमंत्री      |     सरकार व प्रशासन के निर्देशों का पालन करना प्रत्येक नागरिक का कर्तव्य : गुरविन्द्र सोनू निरंकारी     |     ग्राम पंचायत महुवाखेडी ने एक माह का मानदेय मुख्यमंत्री रिलिफ फंड में देने की कि घोषणा     |     BREKING- HARIYANA-मलबे में दबा परिवार, 7 महीने के बच्चे की मौत     |    

error: Don\'t Copy
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9802153000