Take a fresh look at your lifestyle.

वार्षिक राशिफल 2020,मेष राशि वर्ष 2020

वार्षिक राशिफल 2020

साल 2020 का आगमन होने वाला है। नववर्ष अपने साथ नई खुशियां और उमंग लेकर आता है। आपके लिए यह कैसा रहने वाला है, यह जानने के लिए आप सभी आतुर होंगे। यही सोच कर हम आपके लिए वार्षिक राशिफल 2020 लेकर आयें है, आने वाला साल 2020 आपके व्यवसाय, वित, पारिवारिक, संतान और शिक्षा, स्वास्थ्य, प्रतियोगी परीक्षाएं, यात्रा और पूजा-धर्म अनुष्ठान के लिए कैसा रहने वाला है यह बताने जा रहे हैं। यह राशिफल आपकी जन्मराशि को ध्यान में रखते हुए लिखा गया है। वैदिक ज्योतिष के अनुसार जन्मकुंडली में चंद्र जिस राशि में स्थित होते हैं, वह राशि जन्मराशि कहलाती है। इसे आप अपने राशि नाम अक्षर के अनुसार भी पढ़ सकते है। अधिक जानकारी और ज्योतिषीय परामर्श के लिए आप हमसे संपर्क करें-

मेष राशि वर्ष 2020

नाम अक्षर — चू, चे, चो, ला, ली, लू, ले, लो, अ

ग्रह गोचर

इस वर्ष शनि 24 जनवरी को मकर राशि में दशम भाव में प्रवेश करेंगे। वर्ष के प्रारम्भ में राहु मिथुन में तृतीय भाव में होंगे और 19 सितम्बर के बाद वृष राशि में आपके द्वितीय भाव में प्रवेश करेंगे। 30 मार्च को गुरु मकर राशि में दशम भाव में प्रवेश करेंगे एवं वक्री होकर 30 जुन को घनु राशि में नवम भाव में गोचर करेंगे और फिर से मार्गी होकर 20 नवम्बर को मकर राशि में दशम भाव में आ जाएंगे। 31 मई से 8 जुन तक शुक्र अस्त रहेंगे।

व्यवसाय

व्यवसाय की दृष्टि से वर्ष का प्रारम्भ सामान्य रहेगा। इस अवघि में आपको अपने प्रति विश्वास आपको विजयी बनाएगा। 30 मार्च से 29 जून तक समय काफी अनुकूल है। इस समय आप अपने भाग्य एवं कर्म के द्वारा व्यवसाय में उन्नति प्राप्त करेंगे। दशम भाव पर शनि एवं गुरु की युति प्रभाव से नौकरी करने वाले व्यक्तियों की पदोन्नति होगी और उन्हें अपने कार्य स्थल पर मान-सम्मान की प्राप्ति होगी।

इस समय आपको अपने से बड़े व्यक्तियों का एवं अपने अघिकारियों का पूर्ण सहयोग प्राप्त होगा। आपके व्यापार में आपके माता-पिता का पूर्ण सहयोग प्राप्त होगा। जून के बाद बुजुर्ग लोगों या वरिष्ठ अधिकारियों का सहयोग प्राप्त होगा जिससे आप अपने व्यापार में और अधिक सुधार कर पायेंगे।

वित्तीय

आर्थिक दृष्टि से वर्ष का प्रारम्भ सामान्य फलदायक रहेगा। आप निष्ठा के साथ धनार्जन में लगे रहेंगे। और अपनी आर्थिक स्थिति को सुदृढ करने का पूर्ण प्रयास करेंगे। अप्रैल से जून पर्यन्त आप इच्छित धन प्राप्त करेंगे। मांगलिक कार्यों में आपका धन खर्च होगा।

यदि कोई बडा निवेश करना पड़े तो उस क्षेत्र से जुड़े अनुभवी व्यक्तियों की सलाह अवश्य लें। 20 जून के बाद नवम स्थान का गुरु धार्मिक कार्यों में भी धन व्यय करा सकता है। 20 नवम्बर के बाद आपको रत्न, आभूषण इत्यादि की भी प्राप्ति होगी। रूके व फंसे हुए धन की भी प्राप्ति होगी ।

पारिवारिक

पारिवारिक रूप से 30 मार्च के बाद समय बहुत अनुकूल हो जाएगा। चतुर्थ स्थान पर गुरु एवं शनि की संयुक्त दृष्टि प्रभाव से आपके परिवार में सुख शान्ति का वातावरण बना रहेगा व सहयोग भी प्राप्त होगा। परिवार में सदस्य संख्या की वृद्धि का योग बन रहा है।

तृतीयस्थ राहु पर गुरु की दृष्टि के कारण सामाजिक प्रतिष्ठा में बढ़ोतरी होगी। भाईयों के पूर्ण सहयोग से आपका पराक्रम व मान-सम्मान बढ़ेगा। 19 सितम्बर के बाद राहु ग्रह का गोचर द्वितीय स्थान में होगा। उस समय सामाजिक पद प्रतिष्ठा में कुछ कमी आ सकती है।

संतान और शिक्षा

संतान के लिए वर्ष का प्रारम्भ अच्छा रहेगा। पंचम स्थान पर गुरु ग्रह के दृष्टि प्रभाव से नवविवाहित व्यक्तियों को संतान रत्न की प्राप्ति हो सकती है। आपके बच्चों की उन्नति होगी। प्रथम सन्तान के विषय में शुभ समाचार प्राप्त हो सकती है।

शिक्षा के क्षेत्र में भी अच्छी प्रगति होने के शुभ योग हैं। 30 मार्च से जून पर्यन्त समय थोड़ा प्रभावित रहेगा तत्पश्चात सर्वप्रकारेण अच्छा ही रहेगा।

स्वास्थ्य

स्वास्थ्य के दृष्टिकोण से वर्ष का प्रारम्भ अनुकूल रहेगा। लग्न स्थान पर गुरु ग्रह की दृष्टि प्रभाव से आप मानसिक रूप से सन्तुष्ट रहेंगी। यदि पहले से कोई बीमारी नहीं है तो यह वर्ष अच्छा रहेगा। कभी-कभी मौसम जनित बीमारियों से परेशान हो रही हैं तो जल्दी ही आप अच्छे हो जायेंगे। आप आपना स्वास्थ्य अनुकूल रखने के लिए शाकाहारी भोजन करें एवं योगासन के साथ-साथ व्यायाम भी करते रहें।

30 मार्च के बाद आप अपने स्वास्थ्य को लेकर लापरवाही न करें। यदि आप ब्लड पे्रशर के मरीज हैं तो अपने स्वास्थ्य का विशेष ध्यान रखें। जून के बाद समय फिर से अनुकूल हो जाएगा।

प्रतियोगी परीक्षाएं

प्रतियोगी परीक्षा के लिए यह वर्ष सामान्य फलदायक रहेगा। वर्ष के प्रारम्भ में करियर में सफलता प्राप्ति के लिए लगातार परिश्रम करने की आवश्यकता है। विद्यार्थियों के लिए वर्षारम्भ बहुत अनुकूल सिद्ध होगा।

व्यावसायिक शिक्षा प्राप्त करने वाली जातिकाओं के लिए समय बहुत अच्छा है। विद्यार्थियों की शिक्षण के प्रति रूचि बढ़ेगी। 30 मार्च से जून पर्यन्त समय थोड़ा प्रभावित रहेगा। उसके बाद फिर अच्छा हो जाएगा और वर्ष पर्यन्त अच्छा रहेगा।

यात्रा

वर्ष के प्रारम्भ में नवम स्थान का गुरु लम्बी यात्रा कराने का प्रबल योग बना रहे हैं अत: आप अपने परिजनों के साथ आनन्ददायक यात्राओं का आनन्द उठाएंगे।

नवम स्थान पर राहु ग्रह की दृष्टि प्रभाव से तीर्थ यात्रा में परेशानी का सामना करना पड¦ सकता है। नौकरी करने वाले व्यक्तियों की पदोन्नति के साथ इच्छित स्थान पर स्थानान्तरण होगा।

पूजा-धर्म अनुष्ठान

नवम स्थान में गुरु ग्रह के प्रभाव से आप कोई विशेष पूजा अनुष्ठान, यज्ञ, हवन इत्यादि संपन्न करेंगे। 30 मार्च के बाद धार्मिक कार्यों में बाधा उत्पन्न हो सकती है।

1 प्रत्येक दिन सुबह सूर्य को जल दें।

2 गरीब व्यक्तियों को भोजन कराऐं।

3 अपने घर में श्रीयंत्र की स्थापना करें और नित्य उसके सामने दीपक जला कर लक्ष्मी मंत्र का पाठ करें।

ज्योतिष आचार्या रेखा कल्पदेव
“श्री मां चिंतपूर्णी ज्योतिष संस्थान
5, महारानी बाग, नई दिल्ली -110014
8178677715, 9811598848

Leave A Reply

Your email address will not be published.

खेल मंत्री संदीप सिंह ने मंत्रोच्चारण के बीच हवन यज्ञ में आहुति डाल कर किया अंतर्राष्टï्रीय सरस्वती महोत्सव का आगाज, अंतर्राष्टï्रीय सरस्वती महोत्सव हर वर्ष नए लुक में आएंगा नजर:संदीप सिंह     |     e paper 28-01-2020     |     एन एस एस शिविर में किया गया श्रमदान एवं विभिन्न क्षेत्रों का भ्रमण     |     हरियाणा के दो नेताओ की लड़ाई ,कुंडू से टकराना भारी पड़ेगा ग्रोवर को     |     तोशाम-नौवीं कक्षा के छात्र से दुष्कर्म करने का मामला     |     hariyana-क्या फायदा ऐसे कानून और आयुक्तों का जो जनता ने मांगी फैलसा देने में फ़िसड्डी है     |     e paper 27-01-2020     |     Chandigarh: मां की निर्ममता, ढाई साल के मासूम बच्चे को बेड के बॉक्स में किया बंद, हुई मौत     |     अब भोंक कर दिखाओ कुतो ,सीएम आने तक ,कुत्तों को पांव व मुंह बांध कर गड्ढे में डाला     |     e paper 26-01-2020     |    

error: Don\'t Copy
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9802153000