Take a fresh look at your lifestyle.

वर्मा जी ने ज़िन्दगी में हमे पहली बार कोई काम कहा है और यह हो नहीं सकता की हम इनको नाराज़ करे  

वर्मा जी ज़िन्दगी में हमे पहली बार कोई काम कहा है और यह हो नहीं सकता की हम इनको नाराज़ करे

न्यूयोर्क (अटल हिन्द ब्यूरो )आज मेरे को एक मेरी जानने वाली लड़की का फ़ोन आया उसने मुझे बताया की पारिवारिक हालत की वजह से उन्हें नौकरी की बहुत ज़रूरत है उनके परिवार वाले उन्हें अब बोझ समझने लगे और वो पिछले दो महीने से बहुत ही जयादा परेशान थी उन्होंने मुझे कहा की मेरी नौकरी में हेल्प करो मैं बहुत ज्यादा परेशान हूँ वर्मा जी प्लीज कुछ करो, मैंने मेरे एक पहचान वाले रतन सिंह जो रतन पेट्रोलियम के मालिक है और न्यूयोर्क में काफी पैट्रॉल पंप भी है उनको फ़ोन करके मैंने कहा रतन जी, अगर आप मेरी थोड़ी सी भी इज़्ज़त करते है तो बिना सवाल पूछे एक लड़की की अपने ऑफिस में जगह बना दे, वो चुप कर गए और कुछ सेकंड में बोले वर्मा जी लड़की हो भेज दो, मैंने कहा वो मेरे ऑफिस में है मैं ही लेकर आ रहा हूँ हम 25 मिनट में रतन के ऑफिस पहुंच गए “आगे की बाते ध्यान से पढ़ना” जब मैंने उस लड़की को रतन सिंह से मिलवाया, रतन सिंह में पूछा कॉफ़ी पियोगे मैंने कहा यस, उसने कहा नहीं, उन्होंने सेकेटरी से चाय लाने को कहा , और उसी वक़्त रतन सिंह ने अपनी सीट से उठकर मुझे सम्मान देने के लिए अपनी सीट पर बिठाया, लड़की से कहा, आप वर्मा जी की साथ आयो हो आपकी नौकरी पक्की, कितने पैसे हफ्ते के तुमने सोचा है वो सोच में पड़ गयी, मेरे कहने से वो बोली अगर जो सरकारी मिनिमम रेट है जो $13 पर ऑवर है हो तो अच्छा है, रतन सिंह की सीट पर मैं बैठा था वो मेरे सामने बैठे थे मुझे बोले वर्मा जी यह $13 कहती है मैं इसको $17 एक घंटे के हिसाब से दूंगा, 40 घंटे हर हफ्ते और 15 दिन की paid छुट्टिया दूँगा और अगर ऑफिस में काम अच्छा किया तो मैं आपको हर छह महीने में 200 डॉलर्स की इन्क्रेअसमेंट दूँगा, और आपको ऑफिस की असिस्टेंट मैनेजर की तरह काम करेगी, वर्मा जी ज़िन्दगी में हमे पहली बार कोई काम कहा है और यह हो नहीं सकता की हम इनको नाराज़ करे “बड़ी इमोशनल मूवमेंट हो गयी थी” इसके अलावा और कुछ बताये वर्मा जी, मैंने कहा भाई पहले तो अपनी सीट पर आयो फिर बात करते है हमने सीट बदली तो देखा वो लड़की रो रही थी मैंने कहा तु क्यों रो रही है बोली वर्मा जी मुझे उम्मीद नहीं थी की मुझे इस ऑफिस में नौकरी मिल जाएगी, यह ख़ुशी के आंसू है, दूसरी लड़की को बुलाकर कहा इसको इसका ऑफिस दिखायो, रतन सिंह ने कहा, अगर आपको पैसे की ज़रूरत है मैं आपको पैसे भी एडवांस दे देता हूँ, लड़की ने मना कर दिया, चलिए लड़की को नौकरी मिले गयी मुझे ख़ुशी हुई और लड़की भी बहुत खुश है “रतन सिंह सत्यमेव जयते यूएसए के बड़े फैन है और मेरे 1997 से परिचित है और आज मैं यह सोच रहा था इंसान की फेस वैल्यू उसे कभी कभी वो दे जाती है जो कभी इंसान सोच भी नही सकता, मैं एक मजदूर टाइप का इंसान हूँ और सत्यमेव जयते यूएसए को पूरी जान के साथ आगे लाने में लगा हूँ मेरी जंग भी आसान नहीं है मेरे सारे साथी पैसे ना लगाने पड़ जाए, इसी वजह से भाग गए, लेकिन मुझे इस बात की ख़ुशी है की 14 महीने से मैं अकेला ही सत्यमेव जयते यूएसए को अपने खून से सींच कर चला रहा हूँ और आगे भी चलती रहेगी, आज रतन सिंह के ऑफिस में जो देखा, महसूस किया “वो बहुत अलग था” सच तो यह है जो आज हुआ वो मैंने कभी नहीं देखा, वरना अपने देसी तो यहाँ जिससे काम करवाते है उसका खून पी जाते है जितने पैसे वो देते है कहते भी शर्म आती है अच्छे भले इंसान को जानवर बना देते है और उससे बिलकुल जानवरों की तरह काम लेते है, बत्तमीज़ी से भी बात करते है और अगर ठरकी हो तो शारीरिक शोषण करने से भी बाज़ नहीं आते कई हफ्ते ट्रायल के नाम से फ्री भी काम करवाते रहते है उनकी सैलरी की एवरेज 5 से 8 डॉलर घंटे से ज्यादा नहीं होती “मैं न्यूयोर्क के अच्छे अच्छे बिज़नेसमनो से वाकिफ हूँ लेकिन जो आज मैंने देखा, कभी नहीं देखा, इस बात की ख़ुशी है की वो लड़की ने घर जाकर अपने माँ बाप और बहनो से कहा, आज मेरी नौकरी लग गयी है और सैलरी भी तुमसे ज्यादा है 🙂 🙂 भगवान् सबके बच्चो को खुशिया दे, जय माता दी इंडिया ओम वर्मा, न्यूयोर्क सिटी

Leave A Reply

Your email address will not be published.

एन एस एस शिविर में किया गया श्रमदान एवं विभिन्न क्षेत्रों का भ्रमण     |     हरियाणा के दो नेताओ की लड़ाई ,कुंडू से टकराना भारी पड़ेगा ग्रोवर को     |     तोशाम-नौवीं कक्षा के छात्र से दुष्कर्म करने का मामला     |     hariyana-क्या फायदा ऐसे कानून और आयुक्तों का जो जनता ने मांगी फैलसा देने में फ़िसड्डी है     |     e paper 27-01-2020     |     Chandigarh: मां की निर्ममता, ढाई साल के मासूम बच्चे को बेड के बॉक्स में किया बंद, हुई मौत     |     अब भोंक कर दिखाओ कुतो ,सीएम आने तक ,कुत्तों को पांव व मुंह बांध कर गड्ढे में डाला     |     e paper 26-01-2020     |     एन एस एस शिविर में मनाया गया राष्ट्रीय मतदाता दिवस     |     नेहरू युवा केन्द्र के बैनर तले किया गया मतदाता रैली का आयोजन     |    

error: Don\'t Copy
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9802153000