Take a fresh look at your lifestyle.

डीएसपी देवेन्द्र सिंह की गिरफ्तारी को पुलवामा हमले और धर्म से जोडऩा उचित नहीं।

डीएसपी देवेन्द्र सिंह की गिरफ्तारी को पुलवामा हमले और धर्म से जोडऩा उचित नहीं।

—राजकुमार अग्रवाल —
 कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा है कि जम्मू कश्मीर पुलिस के डीएसपी देवेन्द्र सिंह की गिरफ्तारी के बाद पुलवामा हमले की दोबारा से जांच होनी चाहिए। इसी प्रकार लोकसभा में प्रतिपक्ष के नेता अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि यदि डीएसपी देवेन्द्र, सिंह की जगह खान होते तो अब तक बबेला मच जाता। कांग्रेस के नेताओं के इन बयानों को देश के मौजूदा हालातों में उचित नहीं माना जा सकता। एक ओर जब अंतर्राष्ट्रीय मंच पर पाकिस्तान को आतंकी देश घोषित करने के प्रयास हो रहे है, तब कांग्रेस के नेता पाकिस्तान की मदद करने वाले बयान दे रहे हैं। यह माना कि जम्मू कश्मीर पुलिस के डीएसपी देवेन्द्र सिंह को आतंकवादियों को मदद करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। एक ओर जहां इस गिरफ्तारी को खुफिया एजेंसियां बड़ी सफलता मान रही है, वहीं दूसरी ओर कांग्रेस की ओर से पाकिस्तान को मदद करने वाले बयान दिए जा रहे हैं।

 

भारत सरकार पुलवामा हमले के लिए पाकिस्तान को जिम्मेदार ठहरा चुकी है। सब जानते हैं कि पाकिस्तान की शह पर ही जम्मू कश्मीर में आतंकवादी वारदातें हो रही थी। अनुच्छेद 370 के हटने से पहले तक जम्मू कश्मीर के हालात कैसे थे, यह किसी से छिपे नहीं है। सुरक्षा बलों पर तब पथराव होता था, जब आतंकवादियों के विरुद्ध कार्यवाही होती थी। आए दिन आतंकी संगठन आईएस और पाकिस्तान के झंडे लहरते थे। जम्मू कश्मीर पुलिस को लेकर भी कई बार सुरक्षा बलों के सामने सवाल उठे थे। लेकिन अनुच्छेद 370 को निष्प्रभावी करने के बाद जम्मू कश्मीर में आतंकी वारदातों में कमी आई है। लेकिन अभी भी पाकिस्तान अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। सब जानते हैं कि पुलवामा हमले में हमारे 45 जवान शहीद हुए थे और तब इस हमले में पाकिस्तान का हाथ होने की बात सामने आई थी।  अब यदि देवेन्द्र सिंह की गिरफ्तारी को पुलवामा हमले से जोड़ा जाएगा तो पाकिस्तान को ही मदद मिलेगी। समझ में नहीं आता कि लोकसभा में कांग्रेस सांसदों का प्रतिनिधित्व करने वाले अधीर रंजन चौधरी देवेन्द्र की गिरफ्तारी पर धर्म क्यों तलाश रहे हैं? अच्छा हो कि जांच एजेंसियों को अपना काम करने दिया जाए।  हमारी जांच एजेंसियां सक्षम है। इन्हीं एजेंसियों की वजह से डीएसपी देवेन्द्र सिंह की गिरफ्तारी हुई है। पता चला है कि देवेन्द्र सिंह के आतंकवादियों से संबंध है। दो आतंकियों को सुरक्षित तौर पर चंडीगढ़ पहुंचाने का कार्य भी देवेन्द्र सिंह के द्वारा किया जा रहा था। जब जांच एजेंसियों ने आतंकवादियों की मिली भगत का भंडाफोड़ किया है, तब हमें जांच एजेंसियों की हौंसला अफजाई करनी चाहिए। 

Leave A Reply

Your email address will not be published.

एन एस एस शिविर में किया गया श्रमदान एवं विभिन्न क्षेत्रों का भ्रमण     |     हरियाणा के दो नेताओ की लड़ाई ,कुंडू से टकराना भारी पड़ेगा ग्रोवर को     |     तोशाम-नौवीं कक्षा के छात्र से दुष्कर्म करने का मामला     |     hariyana-क्या फायदा ऐसे कानून और आयुक्तों का जो जनता ने मांगी फैलसा देने में फ़िसड्डी है     |     e paper 27-01-2020     |     Chandigarh: मां की निर्ममता, ढाई साल के मासूम बच्चे को बेड के बॉक्स में किया बंद, हुई मौत     |     अब भोंक कर दिखाओ कुतो ,सीएम आने तक ,कुत्तों को पांव व मुंह बांध कर गड्ढे में डाला     |     e paper 26-01-2020     |     एन एस एस शिविर में मनाया गया राष्ट्रीय मतदाता दिवस     |     नेहरू युवा केन्द्र के बैनर तले किया गया मतदाता रैली का आयोजन     |    

error: Don\'t Copy
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9802153000