Take a fresh look at your lifestyle.

बजट पर नहीं बोल सकेंगे हरियाणा के विधायक ?

बजट पर नहीं बोल सकेंगे हरियाणा के विधायक ,

विधायकों को बजट के पहले तीन दिन अलग-अलग विषयों पर बोलने का और उस पर चर्चा करने का मौका दिया जाएगा।

चंडीगढ़()

राज्य में आम बजट को तैयार करने के लिए पहली बार हरियाणा विधानसभा के बजट सत्र में राज्य के सभी विधायकों को बजट के पहले तीन दिन अलग-अलग विषयों पर बोलने का और उस पर चर्चा करने का मौका दिया जाएगा। उसके बाद ही बजट पेश किया जाएगा ताकि बजट में जन प्रतिनिधियों के माध्यम से लोकहित से जुड़ी योजनाएं और बातें शामिल की जा सकें।यह बात मुख्यमंत्री  मनोहर लाल ने आज पानीपत में मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर से जुड़े औद्योगिक संगठनों के प्रतिनिधियों के साथ बातचीत करते हुए कही।  मुख्यमंत्री ने कहा कि यह पहली बार हो रहा है कि बजट से पूर्व अर्थ व्यवस्था से जुड़े विभिन्न स्टेक होल्डरस के साथ प्री बजट कन्सलटेशन बैठक रखी गई है। जिसमें पानीपत में मैन्युफैक्चरिंग क्षेत्र से जुड़े लोगों के साथ चर्चा की गई है। उन्होंने कहा कि इससे पहले गुरुग्राम में सर्विस सेक्टर व रियल एस्टेट से जुड़े लोगों के साथ यह बैठक की जा चुुकी है। फरीदाबाद में इसी तरह की बैठक  15 जनवरी को रखी गई है। उसके बाद 16 जनवरी को हिसार में भी एग्रीकल्चर एण्ड एलाईड सर्विसिज से संबंधित बैठक होगी। विभिन्न औद्योगिक संगठनों और विधायकों के सुझावों को मिलाकर बढिय़ा बजट बनाया जाएगा, जो कि समय की आवश्यकता भी है। पंचकूला में भी इस तरह की बैठक आयोजित कर चर्चा की जाएगी।मनोहर लाल ने कहा कि राज्य की आर्थिक व्यवस्था अच्छी हो। इसके लिए मानक भी अच्छे होने चाहिए। प्रदेश को उर्जा दक्षता राज्य बनाने के लिए सरकार ने बहुत ही अच्छा काम किया है। प्रदेश में पावर लाईन लोसिज 34 प्रतिशत से 21 प्रतिशत तक लाए गए है। इसे आगे 15 प्रतिशत तक लाया जाएगा। ऐसे औद्योगिक संगठनों को बढ़ावा दिया जाएगा, जो राज्य के युवाओं को ज्यादा से ज्यादा रोजगार देंगे। प्रदेश सरकार ने युवाओं को दक्ष बनाने के लिए स्कील डेवलपमेंट यूनिवर्सिटी बनाई है। प्रदेश सरकार अपने खर्च पर  युवाओं को ट्रेनिंग उपलब्ध करवाएगी। औद्योगिक संगठन, सक्षम युवाओं को भी पेार्टल के माध्यम से ले सकते हैं। ऐसे उद्योगों को प्रोत्साहित किया जाएगा, जो भूमि का कम से कम उपयोग करेंगे और पानी का पुन: उपयोग कर सकेंगे। उन्होंने इस दौरान बैठक में उपस्थित विभिन्न संगठनों के प्रतिनिधियों से बातचीत भी की और उनसे लिखित में सुझाव भी लिया।बैठक में पानीपत डायर एसोसिएशन के प्रधान भीम राणा, व्यापार कल्याण बोर्ड के अध्यक्ष शिव कुमार जैन, उद्योगपति अविनाश पालीवाल, विभु पालीवाल, हरियाणा कारपेट मैन्युफैक्चरिंग एसोसिएशन के महासचिव अनिल मित्तल, ऑल इंडिया वुलन एण्ड सोढ़ी मील्ज एसोसिएशन के प्रधान पवन गर्ग, बापौली जोन इण्डस्ट्रीयल एसोसिएशन के प्रधान नरेश गुप्ता, जगाधरी चैम्बर ऑफ कामर्स इन्डस्ट्री यमुनानगर के महासचिव वरिन्द्र कुमार मेंहदीरता, प्लाईवुड कलस्टर यमुनानगर के प्रधान हेमंत कुमार गुप्ता, लघु उद्योग भारती यमुनानगर के प्रधान जीएस चावला के साथ-साथ सोनीपत, बहादुरगढ़, करनाल और हिसार के मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर के लोगों ने अपनी बात रख सुझाव दिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि इन सुझावों पर विचार-विमर्श कर बजट में शामिल किया जाएगा।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

एन एस एस शिविर में किया गया श्रमदान एवं विभिन्न क्षेत्रों का भ्रमण     |     हरियाणा के दो नेताओ की लड़ाई ,कुंडू से टकराना भारी पड़ेगा ग्रोवर को     |     तोशाम-नौवीं कक्षा के छात्र से दुष्कर्म करने का मामला     |     hariyana-क्या फायदा ऐसे कानून और आयुक्तों का जो जनता ने मांगी फैलसा देने में फ़िसड्डी है     |     e paper 27-01-2020     |     Chandigarh: मां की निर्ममता, ढाई साल के मासूम बच्चे को बेड के बॉक्स में किया बंद, हुई मौत     |     अब भोंक कर दिखाओ कुतो ,सीएम आने तक ,कुत्तों को पांव व मुंह बांध कर गड्ढे में डाला     |     e paper 26-01-2020     |     एन एस एस शिविर में मनाया गया राष्ट्रीय मतदाता दिवस     |     नेहरू युवा केन्द्र के बैनर तले किया गया मतदाता रैली का आयोजन     |    

error: Don\'t Copy
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9802153000