Take a fresh look at your lifestyle.

अजमेर में मार्बल कारोबारियों, पैराडीजो समारोह स्थल, भगवती मशीन टूल्स आदि पर आयकर विभाग की छापामार कार्यवाही।

अजमेर में मार्बल कारोबारियों, पैराडीजो समारोह स्थल, भगवती मशीन टूल्स आदि पर आयकर विभाग की छापामार कार्यवाही।
एक साथ चालीस से भी ज्यादा स्थानों पर छापे, 350 अधिकारी-कर्मचारी शामिल।
सरकार के एक मंत्री की भूमिका को लेकर भी चर्चा।

अजमेर (अटल हिन्द ब्यूरो ) अजमेर जिले में आयकर विभाग ने दो बड़े कारोबारी संस्थानों पर छापामार कार्यवाही की है। 40 से भी ज्यादा स्थानों पर एक साथ 350 अधिकारियों और कर्मचारियों ने जांच पड़ताल का काम शुरू किया है। प्राप्त जानकारी के अनुसार अजमेर के जयपुर रोड पर पैराडीजो समारोह स्थल को खरीदने वाले घनश्याम सैनी और विजय सैनी के मार्बल संस्थानों के साथ-साथ भगवती मशीन टूल्स से जुड़े दो परिवारों के संस्थानों पर भी बड़ी कार्यवाही की गई है। जानकारी के मुताबिक आयकर विभाग ने अजमेर जिले के सावर क्षेत्र में खान कारोबारी घनश्याम और विजय सैनी के संस्थानों की जांच पड़ताल की गई तो पैराडीजो समारोह स्थल के खरीदने की जानकारी भी मिली। इस जानकारी के मुताबिक इस समारोह स्थल का बेचान करीब 35 करोड़ रुपए में हुआ, लेकिन रजिस्ट्री कम कीमत की दिखाई गई। समारोह स्थल की जांच पड़ताल के दौरान ही समारोह स्थल को बेचने वाले अशोक जैन के यहां भी कार्यवाही की जा रही है। चूंकि घनश्याम सैनी और उनके भाई विजय सैनी का कारोबार किशनगढ़ में भी है, इसलिए किशनगढ़ के शक्ति मार्बल, शक्ति स्टोनेक्स, शक्ति ग्रेनाइट आदि पर भी जांच पड़ताल का काम चल रहा है। इसी परिवार का एक समारोह स्थल गुलाबबाड़ी में राधे रानी गार्डन के नाम से भी है, यही वजह रही कि इस गार्डन के साथ साथ सैनी बंधुओं के गुलाबबाड़ी स्थित घर पर छापामार कार्यवाही की गई। यानि सैनी परिवार से जुड़े सावर, अजमेर, किशनगढ़ आदि में कार्यवाही की गई है। विभाग को करोड़ों रुपए की आय से अधिक सम्पत्ति के कागजात मिले हैं। इसी क्रम में किशनगढ़ के शक्ति मार्बल से जुड़े आलोक मालपाणी और अखिलेश मालपाणी के यहां भी जांच पड़ताल की जा रही है। चूंकि सैनी बंधुओं का कारोबार बहुत बड़ा है, इसलिए इस मामले में अब राज्य सरकार के एक मंत्री की भूमिका को लेकर भी चर्चा हो रही है। सूत्रों की माने तो इस मंत्री का भी खान का कारोबार बड़े पैमाने पर है। सैनी परिवार के साथ साथ देश की प्रमुख भगवती मशीन टूल्स प्राइवेट लिमिटेड के संस्थानों पर भी 13 फरवरी को छापामार कार्यवाही की गई। इस कंपनी से जुड़े दिनेश शर्मा और उनके भाई यशवंत शर्मा के संस्थानों के साथ-साथ अलवर गेट, आदर्श नगर स्थित आवासों पर भी कार्यवाही की गई है। दिनेश शर्मा भगवती मशीन टूल्स के मालिक हैं तो उनके छोटे भाई यशवंत शर्मा श्री भगवती मशीन टूल्स के मालिक हैं। हालांकि दोनों भाईयों का कारोबार अलग है, लेकिन दोनों भाईयों की अजमेर के परबतपुरा स्थित औद्योगिक क्षेत्र में ग्रेनाइट कटर मशीन निर्माण की फैक्ट्रियां हैं। दोनों भाइयों द्वारा बनाई जाने वाली ग्रेनाइट कटर मशीन की डिमांड पूरे देश में है। शर्मा बंधुओं ने भी बड़े पैमाने पर जमीनों का कारोबार किया है। आयकर विभाग ने शर्मा बंधुओं के सभी ठिकानों पर छापामार कार्यवाही की है। आयकर विभाग की इस कार्यवाही से अजमेर के कारोबारियों में हड़कंप मच गया है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

कांग्रेस विधायक भारत भूषण बतरा ने विधानसभा में मनीष ग्रोवर पर लगाए गंभीर आरोप l     |     हिंसा की आग ,सुलगती रही दिल्ली,10 की मौत 186 लोग घायल     |     रामाश्रम सत्संग 2020 का भव्य समारोह –     |     यमुनानगर की प्रिंसिपल रितू छाबड़ा हत्या करने के मामले में आरोपित छात्र दोषी करार     |     कैथल पोलिस और नप  विभाग समझ ले  दुर्घटना घटी तो विभाग के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की  जाएगी-सत्येंद्र दुहन     |     हरियाणा में ट्रैफिक पुलिस की शर्मनाक करतूत, दूध पिलाती महिला का बनाया वीडियो     |      रेवाड़ी मे विवाहिता मायके के घर मे फंदे पर लटकी मिली     |     कलायत पुलिस स्टेशन के सामने अवैध खुर्दों से परेशान महिलाओं ने किया अनोखा प्रदर्शन     |     हरियाणा पुलिस ने एटीएम उखाड़ कर ले जाले वालों को किया काबू, 5 आरोपी गिरफतार     |     प्रतियोगिताओं में हिस्सा लेने से बच्चों की प्रतिभा में आता है निखार : डा. दीपक देगवन     |    

error: Don\'t Copy
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9802153000