Take a fresh look at your lifestyle.

पितृ पक्ष में श्राद्ध बहुत महत्वपूर्ण व आवश्यक कर्म हैं : रविदत्त शास्त्री

श्राद्ध करने वाले व्यक्ति को अच्छा स्वास्थ्य, सुख-समृद्धि की प्राप्ति होती है।

पितृ पक्ष में श्राद्ध बहुत महत्वपूर्ण व आवश्यक कर्म हैं : रविदत्त शास्त्री
कैथल, 27 सितंबर (कृष्ण प्रजापति): भारतीय संस्कृति में जहां उत्सव और पर्वों को महत्वपूर्ण माना गया है, वहीं श्राद्ध के रूप में पितरों को श्रद्धांजलि देने के लिए 15 दिन का समय निश्चित किया गया है। पितर अर्थात वह व्यक्ति जो देह त्याग कर इस संसार से जा चुके हैं, उनकी मुक्ति और आगे का मार्ग प्रशस्त हो, इसके लिए उनके परिवार के लोग श्राद्ध तर्पण करते हैं। पितरों की तृप्ति के लिए श्राद्ध किए जाते हैं, श्राद्ध करने से पितर तृप्त होते हैं। उनके प्रसन्न और तृप्त होने से घर में धन-संपदा आती है। श्राद्ध करने वाले व्यक्ति को अच्छा स्वास्थ्य, सुख-समृद्धि की प्राप्ति होती है। इस संबंध में जानकारी देते हुए पंडित रविदत्त शास्त्री ने बताया कि श्राद्ध करने के लिए दक्षिण दिशा उत्तम मानी गई है, यगोपवित को दाहिने कंधे पर रखकर तर्पण करना चाहिए। श्राद्ध के दिन श्राद्ध करने वाले धर्मज्ञ ब्राह्मणों को आमंत्रित किया जाता है। निमंत्रण दिए हुए ब्राह्मणों के शरीर में पितरों का आवेश हो जाता है, वह वायुरूप से उनके भीतर प्रवेश करते हैं और ब्राह्मणों के बैठने पर स्वयं पितर भी उनके साथ बैठे रहते हैं। ब्राह्मणों के आने पर उनके पैर धोए और प्रणाम करें, उसके बाद विधिवत पूर्वक आसन पर बैठ जाएं और विधि आरंभ करने की प्रार्थना करें। शास्त्री ने बताया कि इसके बाद पवित्र और उत्तम अन्न परोसकर ब्राह्मणों को भोजन करवाया जाता है। जब तक ब्राह्मण भोजन करते हैं तब तक श्री नारायण का सिमरन करना चाहिए। उन्होंने बताया कि ब्राह्मणों को तृप्त जानकर उन्हें हाथ मुंह धोने के लिए जल प्रदान करना चाहिए, फिर अपने नाम और गोत्र का उच्चारण करते हुए सामर्थ्य शक्ति के अनुसार दक्षिणा दी जाती है। इस कार्य में पितरों की प्रिय वस्तु दान करनी होती है। रवि दत्त ने बताया कि ब्राह्मणों से आशीर्वाद लेकर परिवार सहित भोजन किया जाता है, सभी श्राद्ध श्रद्धा से किए जाते हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

कैथल ब्रेकिंग – कैथल के हुडा-19 पार्ट-2 में चली गोली !रणदीप सुरजेवाला मौके पर पहुंचे     |     (Lay flowers, not thorns in the way of Kartarpur)करतारपुर की राह में कांटे नहीं, फूल बिछाये     |     प्रत्याशियों ने की कड़ी मेहनत, मेहनत का फल देगी अब जनता     |     Electoral assessment discussion चुनावी आंकलन चर्चा….मतदाताओं ने भी विपक्ष से निराश होकर बीजेपी के पक्ष में ही वोट किया.     |     festival of Diwali दीवाली के पंच पर्व, शुभ मुहूर्त,25 और 26 अक्तूबर को धनतेरस पर क्या करें ?     |     ऐसा कौन सा सूचना तंत्र है कि जनता द्वारा चुनाव में मतदान करने के बाद तुरंत ही एक्ज़िट पोल तैयार हो जाता है?     |     E PAPER ATAL HIND 22-10-2019     |     कैथल आईटीआई के बाहर कुछ लोगों ने शांति भंग करने की कोशिश  पुलिस व अर्ध सैनिक बल के जवानों ने किया नाकाम     |     हरियाणा में मतदान संपन्न, कैथल में सुरजेवाला के भाई की गाडी पर पथराव,उचाना में फर्जी वोटिंग का विवाद, नूह में लाठी,डंडे चले जिसके चसलते शाम 6 बजे तक 65% वोटिंग होने का अनुमान है      |     हरियाणा चुनाव: नूंह जिले में बीजेपी और कांग्रेस समर्थकों में खूनी भिड़ंत, कई घायल, कुछ घायलों की स्थिति ज्यादा खराब     |    

error: Don\'t Copy
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9802153000