Take a fresh look at your lifestyle.
corona

तरावड़ी-बिन बारात दूल्हे के साथ ससुराल पहुंची दूल्हन

तरावड़ी-बिन बारात दूल्हे के साथ ससुराल पहुंची दूल्हन
जनता कफर्यू के चलते रिश्तेदारों ने घर पर ही मनाया जश्न
डी.जे. पर मस्ती करने के अधूरे रहे बारातियों के सपने, समारोह पूरी तरह से स्थगित
तरावड़ी, 22 मार्च (रोहित लामसर)। कस्बा तरावड़ी में बिना बारात और बिना बैंड-बाजे बिना डी.जे और बिना कोई रस्म अदा किए ही दूल्हन को दूल्हे के साथ ससुराल आना पड़ा। जी हां हम बात कर रहे हैं कस्बा तरावड़ी के वार्ड नंबर-6 की। कोरोना वॉयरस के चलते जब देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूरे देश में जनता कफर्यू लगाया तो दूल्हे ने समझने में देरी न करते हुए भरी बारात गांव में ले जाना उचित नही समझा। दूल्हे ने तुरंत बारात के कार्यक्रम को स्थगित करते हुए शनिवार रात को ही दूल्हन को घर पर ले आने का फैसला लिया। आपको बता दें कि तरावड़ी के वार्ड नंबर-6 के रहने वाले  सोनू की रविवार को जींद के एक गांव में बारात जानी थी, बारात को लेकर पूरे इंतजाम किए हुए थे, गाड़ियां भी बुक करवाई जा चुकी है, रिश्तेदार घर पर आए हुए थे, रस्में अदा करने के साथ-साथ शगुन के गीत भी महिलाएं गा रही थी। जब जनता कफर्यू के बारे में पता चला तो शादी समारोह को स्थगित करना पड़ा। इसके बाद रविवार को घर से बाहर नही निकलने की अनुमति के बाद दूल्हा एक ही वाहन में परिजनों को लेकर दूल्हन के घर पहुंचा और रविवार की अलसुबह दूल्हन को लेकर तरावड़ी पहुंच गया। बिना रस्में और बिना बारातियों के हुई यह अनोखी शादी देखकर हर कोई हैरान था। जानकारी देते हुए तरावड़ी के रहने वाले दूल्हे सोनू व जींद निवासी दूल्हन कविता ने बताया कि उन्होंने देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा लिए गए फैसले का स्वागत किया, इसलिए उन्होंने बिना बारातियों के ही शादी करने की सोची।

बाक्स
फिर घर पर ही मनाया रिश्तेदारों ने जश्न :- सोनू ने बताया कि शादी समारोह को पूरी तरह से स्थगित कर दिया गया था, इसके बाद जब रविवार की अलसुबह दूल्हन ससुराल पहुंची तो रविवार को पूरा दिन घर पर ही रिश्तेदारों ने जश्न मनाया। अच्छे-अच्छे पकवान बनाए गए और रिश्तेदारों को घर पर ही पार्टी दी गई। उन्होंने घर के अंदर की शगुन के गीत गाकर सभी रस्में भी अदा की। दूल्हे के माता-पिता का कहना था कि कोरोना वॉयरस की दहशत के चलते और जनता कफर्यू के कारण ही उन्हें शादी समारोह को स्थगित करना पड़ा।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

    |     कैथल जिले में वितरित की जाने वाली गेहूं  मत खाना ,वरना ,,,     |     E PAPER     |     कैथल जिले में बिना मास्क कोरोना से लड़ेंगी आशा वर्कर ?     |     4 अप्रैल 2020 का राशिफल:: शनिदेव की विशेष कृपा से इन राशियों के लिए आज का दिन होने वाला हैं बेहतरीन..!!!     |     hariyana-राजनेताओं & अधिकारियों ने कोरोना को लेकर कैसे उड़ाई PM मोदी आदेशों/निर्देशों की धज्जियां?     |     मस्जिदों के गेट पर ताले और खाकी वाले बने रखवाले !     |     हरियाणा में   प्रवासी मजदूर हो रहे है डिप्रेशन का शिकार, स्वास्थ्य महकमे ने इस तरह संभाला मोर्चा     |     कैथल का बेटा ऑस्ट्रेलिया में ब्रेन ट्यूमर से जूझ रहा, मां ने पीएम मोदी से लगाई गुहार     |     दुष्यंत चौटाला का  तुगलकी फरमान,लोक डाउन के दशवें दिन जागे कुंभकरणी नींद से     |    

error: Don\'t Copy
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9802153000