AtalHind
करनाल (Karnal)टॉप न्यूज़हरियाणा

Tarawadi News -स्टपनी बदल रहे चालक ओर उसके साथी को ट्राले ने कुचला, मौके पर दर्दनाक मौत

पठानकोठ से दिल्ली लीची लेकर जा रहे थे, हादसे के बाद लगा लंगा जाम, मौके पर पोस्टमार्टम के लिए मर्चरी हाऊस में भेजे शव

तरावड़ी, 27 जून (रोहित लामसर)।

चंडीगढ़-दिल्ली नैशनल हाईवे तरावड़ी-शामगढ़ के पास हुए एक सड़क हादसे में एक पिकअप चालक समेत दो लोगों की दर्दनाक मौत हो गई। मृतक व्यक्तियों की पहचान 29 वर्षीय जितेंद्र पुत्र बाबू लाल निवासी जिला अलवर राजस्थान व 45 वर्षीय इमराम पुत्र शरीफ निवासी यू.पी. कैराना के रूप में हुई है।

पुलिस ने दोनों शवों को पोस्टमार्टम के लिए करनाल के कल्पना चावला मैडिकल कॉलेज के मर्चरी हाऊस में रखवा दिया है। शुक्रवार की सुबह दोनों मृतकों का पोस्टमार्टम करवाने के बाद शव परिजनों के हवाले किए जाऐंगे। जानकारी के मुताबिक एक पिकअप वाहन में पठानकोट से लीची लेकर चालक जितेंद्र अपने साथी इमरान के साथ दिल्ली की तरफ जा रहा था।

जैसे ही वह गांव शामगढ़ के पास पहुंचे तो पिकअप वाहन में पैंचर हो गया। चालक जितेंद्र और साथी इमरान हाईवे पर ही वाहन की स्टपनी बदल रहे थे। स्टपनी बदलते समय चंडीगढ़ की तरफ से आ रहे सरिए से भरे ट्राले ने उन्हें कुचल दिया। जिससे वह बुरी तरह से पिचक गए और उनकी मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई।

हादसे के बाद पिकअप वाहन पलट गया और हाईवे पर लंबे जाम की स्थिति भी पैदा हो गई। घटना के बाद आरोपी ड्राइवर ट्राला छोड़कर मौके से फरार हो गया। राहगीरों ने हादसे की सूचना पुलिस को दी। सूचना मिलने पर तरावड़ी थाना पुलिस ओर डॉयल-112 पुलिस मौके पर पहुंची और दोनों शवों को पोस्टमॉर्टम हाउस पहुंचाया।

पुलिस ने प्रयास तेज किए और शाम तक दोनों की शिनाख्त हो गई। पुलिस ने परिजनों को मामले की सूचना दे दी है। पुलिस जांच अधिकारी ए.एस.आई. कर्मबीर ने बताया कि सूचना मिलने के बाद पुलिस मौके पर पहुंची थी। पिकअप चालक और उसके साथी दोनों के शव हाईवे पर बूरी तरह से क्षत-विक्षत अवस्था में पड़े थे।

दोनों की मौके पर ही मौत हो गई थी। जांच अधिकारी कर्मबीर ने बताया कि जितेंद्र और इमरान रात को ही पंजाब के पठानकोठ से पिकअप में लीची लोड़ करके निकले थे। इन्हें दिल्ली जाना था। लेकिन गांव शामगढ़ के पास हादसे ने दोनों की जान ले ली। आरोपी ट्राला चालक अभी फरार चल रहा है।

बाक्स
पत्नी है गर्भवती, अगले सप्ताह होने वाला था बच्चा :- जानकारी के अनुसार राजस्थान के अलवर निवासी जितेंद्र की शादी कुछ साल पहले ही हुई थी। उसकी पत्नी को बच्चा होने वाला था। डॉक्टारों द्वारा अगले सप्ताह का समय दिया हुआ था। लेकिन बच्चे के दुनिया में आने से पहले ही परिवार पर दुखों का पहाड़ टूट गया। जितेंद्र परिवार में अकेला की कमाने वाला था। इधर जितेंद्र के साथी इमरान भी जितेंद्र के साथ काम करता था। वहीं जितेंद्र के साथ लीची को लोड़ करवाकर पठानकोट से लाकर दिल्ली बेचने के लिए जा रहा था। इमारन 5 लड़कियों का पिता था। इमारन की मौत के बाद परिवार दुखों का पहाड़ टूट गया।

बाक्स
ट्राला चालक के खिलाफ मामला दर्ज
तरावड़ी थाना के जांच अधिकारी कर्मबीर ने बताया कि देर शाम को मृतकों की पहचान हो गई है। दोनों के परिवार के लोगों को सूचना दे दी गई है। शुक्रवार को पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों के हवाले कर दिए जाएगें । परिजनों की शिकायत के आधार पर ट्राला चालक के खिलाफ मामला दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी गई है।

Advertisement

Related posts

बगैर फेस मास्क सार्वजनिक स्थानों पर घूमने वाले 33092 व्यक्तियों के किए गये चालान

admin

 4 निर्वाचित पंजाबी पार्षदों को सम्मानित किया गया

atalhind

शाबाश हरियाणा पोलिस -फरीदाबाद पुलिस ने निर्दोष युवक को  इतना मारा इतना मारा बेचारा मर ही गया

admin

Leave a Comment

URL