कैथल पुलिस ने स्क्रैप व्यापारी को लूटने वाले 3 आरोपियों को जींद से किया गिरफ्तार 

कैथल पुलिस ने स्क्रैप व्यापारी को लूटने वाले 3 आरोपियों को जींद से किया गिरफ्तार
अज्ञात व्यक्तियों द्वारा कैथल से खनौरी जा रहे पंजाब निवासी व्यापारी से शाम के समय बाबा लदाना के पास पिस्तौल की नोक पर 10 लाख रुपए लूटने का मामला,
सीआईए-1 पुलिस द्वारा वारदात के मात्र 5 दिन मध्य खुलाशा करते हुए जींद से 3 आरोपी गिरफतार,
व्यापारी की गाड़ी के चालक ने अपने साथियों से मिलकर योजनाबद्ध तरीके द्वारा करवाई थी लूटपाट,
तीनों लूटेरों का रविवार को न्यायालय से 4 दिन का पुलिस रिमांड हासिल
कैथल, 22 नवंबर ( अटल हिन्द/राजकुमार अग्रवाल   ) कैथल में अपने किसी परिचित से मिलकर सोमवार 16 नवंबर की शाम करीब 8 बजे
अपने घर खनौरी लौट रहे पंजाब निवासी स्क्रैप व्यापारी की गाडी के आगे गांव बाबा लदाना क्षेत्र में ब्रेजा गाडी में सवार अज्ञात आरोपियों द्वारा पिस्तौल की नोक पर 10 लाख रुपए लूटने की वारदात को एसपी शशांक कुमार सावन के मार्गदर्शन तहत सीआईए-1 पुलिस द्वारा घटना के मात्र 5 दिन मध्य सुलझाते हुए उल्लेखनीय सफलता प्राप्त की गई है। पुलिस द्वारा दबिश देकर 3 आरोपी गिरफतार कर लिए गये, जिनमें व्यापारी की गाडी का चालक भी शामिल है, जिसके द्वारा पूरे योजनाबद्ध तरीके से अपने दोस्तों की मार्फत लूटपाट की वारदात को अंजाम दिलाया गया था। लूटी गई नकदी की बरामदगी सहित व्यापक पूछताछ के लिए तीनों आरोपियों का 22 नवंबर को न्यायालय से दिनांक 26 नवंबर तक 4 दिन का पुलिस रिमांड हासिल किया गया है, जिनसे गहनता पुर्वक व्यापक पूछताछ की जा रही है।

सीआईए-1 परिसर में रविवार को बुलाई गई प्रैसवार्ता दौरान डीएसपी एईसी दलीप सिंह ने बताया कि स्क्रैप व पुरानी गाडियों के स्पेयर पार्टस का धंधा करने वाले खनौरी निवासी अनिल कुमार की शिकायत पर 17 नवंबर को थाना सदर में दर्ज मामले अनुसार वह 16 नवंबर की शाम कैथल निवासी अपने एक परिचित से 10 लाख रुपए लेकर अपनी स्वीफट डिजायर गाड़ी द्वारा वापिस अपने घर जा रहा था। व्यापारी की गाडी पर पिछले करीब 6 साल से खनौरी निवासी बिंटू उर्फ बंटी चालक की नौकरी करता है, जो वही गाडी चला रहा था। शाम करीब 8 बजे उनके बाबा लदाना क्षेत्र में पार्वती ईंट भ_ा के नजदीक पहुंचते ही अचानक पीछे से आई ब्र्रेजा कार के चालक ने अपनी गाडी व्यापारी की कार आगे अड़ा कर कार रुकवा ली। ब्रेजा से निकले तीन युवकों में से 2 युवक अपने हाथों में पिस्तौल लिए हुये थे, जो पिस्तौल की नोक पर अनिल से 10 लाख रुपए नकदी तथा उसके दोनों मोबाइल फोन लूटकर फरार हो गए।
एसपी शशांक कुमार सावन द्वारा अभियोग को गंभीरता पूर्वक लेते हुए मामला सीआईए-1 पुलिस के सुपूर्द करते हुए जल्द से जल्द आरोपियों को गिरफतार करने के निर्देश दिए गये। जिनकी अपेक्षा पर खरा उतरते हुए सीआईए-1 प्रभारी इंस्पेक्टर अनूप सिंह की अगुवाई में एसआई कश्मीर सिंह, हेडकांस्टेबल तरसेम कुमार, एचसी मनीष कुमार, एचसी अजीत, एचसी देवेंद्र तथा कांस्टेबल संदीप कुमार की टीम द्वारा अभियोग में मात्र 5 दिन मध्य सफलता प्राप्त करते हुए व्यापारी की गाडी के चालक बिंटू उर्फ बंटी निवासी खनौरी को कैथल से काबु करके गिरफतार करने उपरांत व्यापक पूछताछ की गई। जिसके बाद जिला जींद के गांव किला जफरगढ़ में दबिश देते हुए पुलिस द्वारा वारदात को अंजाम देने वाले इसी गांव निवासी आरोपी रोशन व सकीम को भी गिरफतार कर लिया गया।

आरोपी बिंटू ने पूछताछ के दौरान कबूला कि उसने अपने मालिक अनिल से 60 हजार रुपए उधार लिए हुए है, जिनका तकाजा करने पर उसने करीब एक माह पूर्व किला जफरगढ निवासी अपने पुराने दोस्त रोशन को अपनी योजना में शामिल करके उनके आने-जाने के रास्ते की रैकी करवाई। उसने रोशन को कहा कि जब उसका मालिक कैथल से मोटी रकम ले जाएगा तो वह उसे पहले ही सुचित कर देगा, तुम वारदात को अंजाम देने के लिए अपने अन्य साथियों को तैयार कर लो। बिंटू की सुचना पर कैथल पहुंचे आरोपियों द्वारा अनिल की गाडी का पीछा किया गया,ख्तथा जब चालक बिंटू द्वारा पूर्व निर्धारित योजना अनुसार बाबा लदाना के पास अपनी स्वीफट डिजायर गाड़ी का चालक साईड वाला ईंडिकेटर जलाकर संकेत दिया गया, तो आरोपियों द्वारा वारदात को अंजाम दे दिया गया, जिसके बाद बिंटू निरंतर डरे-सहमे का नाटक करता रहा, परंतु अंतत: पकड़े जाने के भय कारण खनौरी से फरार हो गया। जिसने बाद में आरोपियों से अपने हिस्से आई एक लाख रुपए नकदी ले ली थी। वारदात में लिप्त शेष आरोपियों की गिरफतारी, वारदात में प्रयुक्त हथियारों व गाडी तथा नकदी की बरामदगी के लिए तीनों आरोपियों का रविवार को न्यायालय से 4 दिन का पुलिस रिमांड हासिल किया गया है, जिनसे गहनता पुर्वक व्यापक पूछताछ की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »
%d bloggers like this: